गुवाहाटी विवि ने 74 हजार छात्रों का करिअर डाला खतरे में

गुवाहाटी, 1 दिसंबर (एजेंसी) भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट में कहा गया है कि गुवाहाटी विश्वविद्यालय ने करीब 74,000 छात्रों के करिअर को खतरे में डाल दिया है और अपने दूरस्थ शिक्षा केंद्र के माध्यम से 21 गैर स्वीकृत पाठ्यक्रमों के लिए 7 साल तक छात्रों से 39 करोड़ रुपये एकत्र किए थे। कैग की रिपोर्ट को असम विधानसभा में जारी शीतकालीन सत्र के दौरान पेश किया गया था। इसमें कहा गया है कि पूर्वोत्तर के सबसे पुराने विश्वविद्यालय ने यूजीसी को कई गलत हलफनामे दिए थे, जबकि उसने आयोग को आश्वासन दिया था कि वह बगैर स्वीकृति के कोई नया पाठ्यक्रम नहीं शुरू करेगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

मुख्य समाचार

सदियों का इंतजार समाप्त, आज पूरा देश राममय : मोदी

सदियों का इंतजार समाप्त, आज पूरा देश राममय : मोदी

कहा-राम मंदिर राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक

सुशांत मामले से आदित्य ठाकरे के तार जोड़ने की साजिश कर रहे लोगों को भारी कीमत चुकानी होगी : शिवसेना

सुशांत मामले से आदित्य ठाकरे के तार जोड़ने की साजिश कर रहे लोगों को भारी कीमत चुकानी होगी : शिवसेना

कहा-विपक्ष को अब भी हजम नहीं हो हो रहा कि राज्य में शिवसेना ...

सुशांत केस में केंद्र ने सुप्रीमकोर्ट से कहा-बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश स्वीकार की

सुशांत केस में केंद्र ने सुप्रीमकोर्ट से कहा-बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश स्वीकार की

जांच करना पटना पुलिस का क्षेत्राधिकार नहीं, इसे राजनीतिक रंग...

30वें साल के प्रारंभ में हमें संकल्प पूर्ति का आनंद मिला : मोहन भागवत

30वें साल के प्रारंभ में हमें संकल्प पूर्ति का आनंद मिला : मोहन भागवत

कहा- रथयात्रा का नेतृत्व करने वाले आडवाणी जी घर में कार्यक्र...