कांग्रेस के पटोले विस अध्यक्ष, फड़नवीस नेता प्रतिपक्ष

मुंबई में विधान भवन में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी का स्वागत करते मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे। -प्रेट्र

मुंबई, 1 दिसंबर (एजेंसी) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नाना पटोले रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष निर्वाचित हुए। भाजपा प्रत्याशी किशन कथोरे के नामांकन वापस लेने के बाद पटोले का निर्विरोध चुनाव हुआ। भाजपा नेता व पूर्व मुख्यमंत्री देेवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि हमने सर्वदलीय बैठक में दूसरे दलों की अपील पर कठोरे का नाम वापस लिया, क्योंकि महाराष्ट्र में निर्विरोध स्पीकर चुनने की परंपरा रही है। उधर, भाजपा विधायक दल के नेता देवेंद्र फड़नवीस को विधानसभा में नेता विपक्ष बनाया गया। उधर, राज्यपाल बीएस कोश्यारी ने विधायकों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार कानून लाकर स्थानीय लोगों के लिये निजी नौकरियों में 80 प्रतिशत आरक्षण सुनिश्चित करेगी। उन्होंने इस दौरान आने वाले वर्षों के लिये सरकार का व्यापक एजेंडा पेश किया। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों को 10 रुपये में भोजन मुहैया कराएगी। मैंने कभी नहीं कहा लौटूंगा, आज सदन में हूं : उद्धव महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के चुनाव से पहले किये गये दावे ‘मी पुन्हा येईं' (मैं वापस लौटूंगा) पर कटाक्ष किया। फड़नवीस को मित्र बताते हुए उद्धव ने कहा कि वह उन्हें विपक्षी नेता के रूप में नहीं देखते हैं। ठाकरे ने कहा, ‘मैंने कभी नहीं कहा कि मैं वापस लौटूंगा, लेकिन मैं इस सदन में आया।' उन्होंने कहा, ‘मैं सदन और महाराष्ट्र के लोगों को आश्वस्त कर सकता हूं कि मैं कुछ भी आधी रात को नहीं करूंगा। मैं लोगों के हितों के लिए काम करूंगा।' उद्धव ने यह भी कहा कि मैं अभी भी हिंदुत्व की विचारधारा के साथ हूं और मैंने पिछले पांच वर्षों में कभी सरकार को धोखा नहीं दिया। पंकजा के बागी तेवर, बोलीं-10 दिन दीजिये औरंगाबाद (एजेंसी) : भाजपा नेता पंकजा मुंडे ने रविवार को एक फेसबुक पोस्ट से महाराष्ट्र की सियासत में खलबली मचा दी। पंकजा ने समर्थकों को अपने दिवंगत पिता गोपीनाथ मुंडे की जयंती पर 12 दिसंबर को गोपीनाथगढ़ आने का न्योता दिया। पंकजा ने मराठी में लिखी फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘अब क्या करना है? कौन सा मार्ग चुनना है? हम लोगों को क्या दे सकते हैं? मैं इन सभी पहलुओं पर विचार करूंगी। मुझे 8-10 दिन दीजिए। आपके सामने 12 दिसंबर को आऊंगी।' मैंने कहा था लौटूंगा, थोड़ा इंतजार करें : फड़नवीस देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि भाजपा राज्य में सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद सत्ता में नहीं आ सकी, क्योंकि राजनीतिक गुना-गणित योग्यता पर भारी पड़ा। ‘मैं वापस लौटूंगा' नारे पर तंज कसने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि उन्होंने ऐसा कहा था, लेकिन इसके लिए समय देना भूल गए थे। उन्होंने कहा, ‘...आपको कुछ समय इंतजार करना होगा।' उन्होंने कहा, ‘मैंने 5 वर्षों में कई परियोजनाएं घोषित की और काम शुरू किया। ... मैं उनका उद्घाटन करने के लिए वापस आ सकता हूं।'

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All