सेक्टरों में अलग-अलग समय पर दी जायेगी कर्फ्यू में ढील

चंडीगढ़ सेक्टर 29 की मार्केट में लाइन लगाकर जरूरी सामान की खरीद करते लोग। -मनोज महाजन

रंजू एेरी डडवाल/ट्रिन्यू चंडीगढ़, 24 मार्च चंडीगढ़ प्रशासन ने कर्फ्यू में कुछ घंटे ढील देने की तैयारी कर ली है। यह ढील पूरे शहर में अलग-अलग समय पर दी जायेगी। प्रशासन के प्रवक्ता के अनुसार सेक्टरों में अलग-अलग समय पर दी जाने वाली डील की जानकारी जिलामजिस्ट्रेट कार्यालय से उपलब्ध कराई जायेगी। बताया जाता है कि पहले कर्फ्यू में एक साथ ढील देने का फैसला लिया गया था, लेकिन लोगों की भीड़ पूरे शहर में एक साथ न उमड़े इसलिए अब एक सेक्टर के बाद दूसरे में ढील देने का फैसला लिया गया है। प्रशासक के सलाहकार मनोज कुमार परीदा ने एक वीडियो संदेश जारी कर चंडीगढ़ के लोगों से संयम बरतते हुए घर में रहने का आग्रह किया है। परीदा ने कहा कि उन्हें मालूम है कि कर्फ्यू के दौरान लोगों को काफी परेशानी हुई। कई जगह दूध और सब्जी की सप्लाई नहीं हुई है, लेकिन नगर निगम कमिश्नर केके यादव इन सब चीजों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने में जुटे हुए हैं। लोगों से अपील है कि वह घरों में रहते हुए संयम बनाए रखें। केमिस्ट को फोन करें, घर आयेगी दवा प्रशासन ने कर्फ्यू के दौरान अस्पताल व कैमिस्टों की दुकानें पूरी तरह से खुली रखने के आदेश दिए हैं। कैमिस्ट मालिकों को अपने कर्मचारियों का जिला मजिस्ट्रेट दीप सिंह बराड़ के आॅफिस से पास बनवाना होगा। दवा की होम डिलीवरी करने का प्रबंध भी प्रशासन कर रहा है। इसके लिए दवाएं इन तीन नंबरों जिसमें 9815272650, 9814055034,9876537241 पर सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक संपर्क किया जा सकता है। वहीं प्रशासन के फूड एंड सप्लाई विभाग ने रजिस्टर्ड बीपीएल परिवारों के खाते में सीधे मंथली फूड सब्सिडी अमाउंट ट्रांसफर कर दिया है। अंतोदय योजना के तहत रजिसटर्ड लोगों को प्रति परिवार प्रति माह 900.48 पैसे सबसिडी खाते में दी जाएगी। सेक्टर-16 स्टेडियम बना अस्थाई जेल वहीं प्रशासन ने चंडीगढ़ के सेक्टर 16 के क्रिकेट स्टेडियम को अस्थाई जेल में तबदील कर दिया है। 15.32 एकड़ में फैले और 20,000 से अधिक लोगों को रखने की क्षमता वाले इस स्टेडियम को कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों को रखने के लिए उपयोग किया जाएगा। 10 रुपये में दिया जाएगा खाना अपने संदेश में कमिश्नर ने कहा कि लेबर क्लास कंस्ट्रक्शन वर्कर को रेड क्रॉस निशुल्क भोजन वितरित कर रहा है। जिन लोगों के पास खाने-पीने की कोई व्यवस्था नहीं है, उन्हें भी 10 रुपये में यह खाना दिया जाएगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश