रेल कर्मियों ने दिया सेक्शन इंजीनियर को ज्ञापन

कालका रेलवे सीनियर सेक्शन इंजीनियर कार्यालय में शनिवार को यूआरएमयू ब्रांच सचिव अशोक कुमार ज्ञापन सौंपते हुए। -निस

पिंजौर, 7 दिसंबर (निस) कालका-शिमला रेल सेक्शन के रेल कर्मियों के जर्जर आवासों की मरम्मत की मांग और कुछ कर्मचारियों को जानबूझकर 3 वर्षों तक एक ही शिफ्ट में ड्यूटी लगा कर प्रताड़ित न करने की मांग करते हुए शनिवार को यूआरएमयू चंडीगढ़-कालका-शिमला ब्रांच सचिव अशोक कुमार ने सीनियर सेक्शन इंजीनियर कैरिज-वैगन कालका, वर्क्स इंजीनियर और एडीईएन शिमला को ज्ञापन सौंपा। अशोक कुमार ने कहा रेलवे ने कालका और शिमला के रेलवे स्टेशनों पर तो करोड़ों रुपए खर्च कर दिए लेकिन रेलगाड़ियों को चलाने वाले कर्मियों के बच्चे टूटे-फूटे जर्जर हालत में क्वार्टरों में रहने को मजबूर हैं, उनकी तरफ कोई ध्यान नहीं जा रहा। मकानों की छतें खिड़कियां, दरवाजे, फर्श, टूटे हुए हैं, बरसातों में छतें टपकती हैं, सड़कें टूटी पड़ी हैं, पेयजल आपूर्ति कम है। उधर, एडीईएन इरशाद आलम खान ने बताया लगभग 50 से अधिक मकानों की छतों पर पानी की 500-500 लीटर की टंकियां रखवाई हैं, शेष पर कार्य जारी है, ताकि जलापूर्ति कम होने पर रेलकर्मी अपने टंकी के पानी का प्रयोग कर सकें। बाकी समस्याओं पर भी कार्य जारी है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All