छतों पर सोलर पैनल लगाने की अवधि 31 मार्च कर बढ़ी

चंडीगढ़, 28 नवंबर (ट्रिन्यू) चंडीगढ़ प्रशासन ने शहर के आवासीय और व्यावसायिक भवनों पर सोलर पॉवर प्लांट लगाने की अवधि आगामी 31 मार्च तक बढ़ा दी है। इस संबंध में वित्त सचिव अजोय कुमार सिन्हा ने बृहस्पतिवार को आदेश जारी किए। प्रशासन ने अपने निर्देशों में कहा है कि यह अंतिम एक्सटेंशन मानी जाए। प्रशासन के संबंधित अधिकारी का कहना था कि एक बार फिर से सोलर पैनल लगाने के लिए प्रशासन की ओर से निर्धारित तिथि में विस्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा को देखते हुए ही ये फैसला लिया गया है, ताकि अधिकतर लोग अपनी छतों पर सोलर पैनल लगवा सकें। वर्ष 2016 में प्रशासन ने 500 गज या इससे अधिक एरिया वाले घरों में सोलर पॉवर प्लांट लगाना अनिवार्य कर दिया था। प्रशासन के सर्वे के अनुसार शहर में इस एरिया के अंतर्गत 10 हजार घर आते हैं। केंद्र सरकार ने भी शहर में गैर परंपरागत उर्जा स्रोत के दोहन के प्रति लोगों का रुझान देखते हुए सौर ऊर्जा को लेकर लक्ष्य बढ़ा दिया है। अब नये निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए बी प्रशासन ने 31 मार्च तक का समय पैनल लगाने के लिए दिया है।

40 हजार तक सस्ते किये गये प्लांट प्रशासन के प्रवक्ता के अनुसार निर्धारित अवधि में जो लोग तय समय में सोलर पैनल नहीं लगाएंगे, उन्हें प्रशासन की ओर से नोटिस जारी किया जाएगा। गत अगस्त में प्रशासन ने लोगों को सोलर पैनल लगाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए पैनल की बेंचमार्क कीमत घटा दी है। 3 किलोवॉट का सोलर प्लांट करीब 40 हजार तक सस्ता हो गया। इसके साथ ही पैनल पर सब्सिडी देने का एलान किया था। रूफटॉप सोलर के लिए प्रशासन की ओर से लोगों को 30 से 40 प्रतिशत की छूट देने की घोषणा की गई थी। चंडीगढ़ में रूफटॉप सौर ऊर्जा प्रणाली के लिए भुगतान की अवधि लगभग 6 वर्ष है। बताया जाता है कि इससे पहले गत 30 सितंबर को ही यह अवधि समाप्त हो गई थी। तभी इसे मार्च 2020 तक बढ़ाने का प्रस्ताव प्रशासक को भेजा गया था।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All