चंडीगढ़ में 3 और लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव

चंडीगढ़/पंचकूला, 29 जून (नस) सिटी ब्यूटीफुल में कोरोना संक्रमण के घेरे में आ रहे इलाकों के लोग बुरी तरह से सहमे हुए हैं। चंडीगढ़ में आज 3 और लोगों की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। वहीं दूसरी तरफ 13 लोग कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं। शहर में मौजूदा कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 79 है। अब तक कोरोना के 434 मामले अस्पतालों में रिपोर्ट हो चुके हैं। सोमवार को सेक्टर 29 में एक बुजुर्ग संक्रमित मिलीं। उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने परिवार की जांच शुरू कर दी। महिला के एक बेटे का आज टेस्ट किया गया है जिसकी रिपोर्ट रात तक आएगी। दूसरा बेटा सपरिवार सेक्टर 33 में रह रहा है जबकि अन्य सदस्य पंजाब यूनिवर्सिटी में भी रहते हैं। उधर, सेक्टर 41 में संक्रमित परिवार में एक और 15 साल की किशोरी में वायरस की पुष्टि होने पर उसे अस्पताल में दाखिल किया गया। उधर सेक्टर 23 के मकान में परिवार के साथ रह रहे 39 वर्षीय व्यक्ति की रिपोर्ट पॉज़िटिव आने से प्रशासन फिर चौकस हो गया है। स्वास्थ्य विभाग ने सेक्टर 23 के इस क्षेत्र को घेरे में ले लिया है।

13 अन्य ने दी वायरस को मात चंडीगढ़ में और 13 लोग कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं। सुबह क्वारंटाइन सेंटर से जहां 4 रोगी ठीक होकर अपने घर लौट गए वहीं 17 दिनों से आइसोलेशन में रह रहे 9 अन्य लोगों को होम आइसोलेशन से डिस्चार्ज कर दिया गया।

सीएसआईओ ने बनायी खास सुरक्षा आई वीयर चंडीगढ़ (ट्रिन्यू) : सीएसआईआर-सीएसआईओ चंडीगढ़ ने कोविड-19 से अधिक प्रभावित रोगियों का उपचार करने वाले स्वास्थ्य-देखभाल प्रोफ़ेशनल्स हेतु सुरक्षा ऐनकों के निर्माण के लिए एक प्रौद्योगिकी विकसित की है। यह स्वास्थ्य-देखभाल सेवा प्रदाताओं, रोगियों व मुलाकातियों को संक्रमण से बचाने में मदद करेगी। मुख्य वैज्ञानिक व मुख्य ऑप्टिकल डिवाइसेज़ एण्ड सिस्टम्स डॉ. विनोद करार के नेतृत्त्व में वैज्ञानिकों की टीम ने विभिन्न उद्योगों से परामर्श करके इस सुरक्षा ऐनक को डिज़ाईन व विकसित किया है।

मिली अनुमति, पीजीआई करेगी एंटीजन रेपिड टेस्ट चंडीगढ़ (ट्रिन्यू) : आईसीएमआर द्वारा सीजीओ एंटीजन रेपिड टेस्ट शुरू करने के लिए पीजीआईएमईआर को अधिकृत किया गया था। सत्यापन के बाद इसे चंडीगढ़ में आजमाया जा सकता है। इस मामले पर पर आज चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर ने खुशी व्यक्त की। आज कोविड वार रूम में हुई बैठक में उन्होंने कहा कि इसे सत्यापित करने के बाद इसका चंडीगढ़ में उपयोग किया सकेगा। प्रशासक ने शहर में टेली मेडिसन परामर्श की बढ़ती संख्या पर भी प्रसन्नता व्यक्त की। चिकित्सा संस्थानों के प्रमुखों ने कहा कि वे सीमित ओपीडी और टेली मेडिसन, दोनों का संचालन कर रहे हैं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All