खौफ बच्ची को दफनाने से पंचायत का इनकार

मोहाली 7 अप्रैल (निस) मंगलवार सुबह कोरोना के डर से 14 वर्षीय मुस्लिम समुदाय की बच्ची की मौत के बाद गांव रडियाला की पंचायत ने शव को दफनाने से इनकार कर दिया। गांव दाऊं माजरा में बच्ची नगमा की सोमवार रात मिरगी का दौरा पड़ने से मौत हो गई। कब्रिस्तान गांव रडियाला में होने के चलते मृतक लड़की के परिजनों ने गांव की पंचायत से संपर्क किया था। मृतक नगमा के पिता समेद्दीन व मां रुकसाना बेगम अपनी बच्ची का अंतिम संस्कार करने के लिए करीब तीन घंटे कभी पुलिस के पास तो कभी पंचायत की मिन्नतें करते रहे, लेकिन किसी ने उनकी मजबूरी को नहीं समझा। देर शाम मामला एसडीएम खरड़ हिमांशु जैन के ध्यान में आया जिसके बाद एसडीएम पुलिस टीम को लेकर पीड़ित परिवार के साथ गांव रडियाला पहुंचे। उन्होंने पंचायत को बताया कि मृतका लड़की का पोस्टमार्टम करवाया गया है इसमें उसकी मौत का कारण मिरगी आया है। बाद में पंचायत ने मृतका का शव कब्रिस्तान में दफनाने के लिए इजाजत दी। एसडीएम व पुलिस ने अपनी मौजूदगी में पूरे रीति-रिवाजों से बच्ची का शव दफनाया।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

समाज की सोच भी बदलना जरूरी

समाज की सोच भी बदलना जरूरी