लारा बोलीं... तो थम जाना चाहिए और फैंस हुए इमोशनल

लारा बोलीं... तो थम जाना चाहिए और फैंस हुए इमोशनल

मुंबई : बॉलीवुड अदाकारा लारा दत्ता अक्सर कुछ ऐसा करती हैं कि चर्चा में आ जाती हैं। अब अपनी एक ताजा पोस्ट से वह चर्चा में आई हैं। हाल ही में उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफार्म 'कू' पर अपनी एक तस्वीर शेयर की जिसमें उन्होंने कई तस्वीरों को जोड़कर एक तस्वीर बनाई है। इसमें उन्होंने अपने ट्रेवल से जुडी तस्वीरें डाली और कुछ तस्वीरें उन्होंने अपनी बेटी के साथ अच्छे पल बिताते हुए शेयर की है| उस पोस्ट में लारा दत्ता लिखती हैं, 'कभी कभी ज़िन्दगी अगर आपको थमके के चलना सीखा रही हो तोह थम जाना चाहिए।'

इस पोस्ट पर उनके फैन्स को लगा शायद वह अपने करिअर को मिस कर रही हैं और फिर से अपने फ़िल्मी करिअर में एक लम्बी उड़ान भरना चाहती हैं पर शायद शादी में बंधी लारा अब बहुत सारी ज़िम्मेदारियों के साथ है| उनके इस पोस्ट फैंस इमोशनल हो गए। एक फैंन्स ने उनको दे दी एक बड़ी डेली डोज़ और कहा, 'हम सब जानते है कि आपके करिअर ने उतनी उड़ान नहीं भरी है पर भी आपका वक़्त काफी अच्छा गुज़रा और कई यादें है हमारे पास आपकी| लेकिन जोड़ियां में ऊपर वाला बनता है जिस पर ना आपका ज़ोर चलता है और ना हमारा। बस यही कहेंगे कि आप अपनी ज़िन्दगी की ज़िम्मेदारियों को निभाती चली जाएं बाकी सब वक़्त पर छोड़ दें|' और भी कई कमेंट इस पोस्ट पा आए। उनके इस पोस्ट के बाद उनके फैन्स काफी इमोशनल भी हुए और इसके साथ साथ उनकी मूवी बेलबॉटम मूवी में निभाया गया इंदिरा गांधी के किरदार की भी काफी तारीफ भी की| अगर उनके वर्क फ्रंट को देखे तो लारा अभी फिलहाल कोई ऐसी मूवी नहीं कर रही हैं आखिरी बार वह बेलबॉटम में ही नजर आईं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

शाश्वत जीवन मूल्य हों शिक्षा के मूलाधार

शाश्वत जीवन मूल्य हों शिक्षा के मूलाधार

कानूनी चुनौती के साथ सामाजिक समस्या भी

कानूनी चुनौती के साथ सामाजिक समस्या भी

देने की कला में निहित है सुख-सुकून

देने की कला में निहित है सुख-सुकून

मुख्य समाचार

उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश, 23 की मौत

उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश, 23 की मौत

मौसम की मार नैनीताल का संपर्क कटा। यूपी में 4 की गयी जान

अपनी सियासी पार्टी बनाएंगे कैप्टन

अपनी सियासी पार्टी बनाएंगे कैप्टन

भाजपा के साथ सीटों के बंटवारे के लिए बातचीत को तैयार

दुर्भाग्य से यह देश का  यथार्थ : ऑक्सफैम

दुर्भाग्य से यह देश का  यथार्थ : ऑक्सफैम

भुखमरी सूचकांक  पाक, नेपाल से पीछे भारत