‘नार्को टेररिस्ट' अमित गंभीर उर्फ ‘बॉबी' के खिलाफ पहला आरोपपत्र दाखिल !    सीतारमण ने एफएसडीसी बैठक में लिया अर्थव्यवस्था की स्थिति का जायजा !    ब्रिटेन में भारतीय मूल के 2 व्यक्तियों को ड्रग्स बरामदगी मामले में 34 साल की सजा !    बाबरी मस्जिद : 4 जून को भाजपा नेताओं के बयान होंगे दर्ज !    केरल में 2 महीने बाद शराब बिक्री शुरू, बेवक्यू ऐप से लेना होगा टोकन! !    आइसोलेशन सेंटरों में अलग से खाना-पानी मुहैया कराये दिल्ली सरकार : हाईकोर्ट !    सुप्रीमकोर्ट ने श्रमिक पलायन संकट पर केन्द्र से पूछे तीखे सवाल !    शराब कारोबारी ने पत्नी, बच्चों के लिये पूरा हवाई जहाज लिया किराये पर! !    दिल्ली के किसान ने श्रमिकों को विमान से भेजा पटना, प्रवासियों ने डर से बंद कर ली आंखें! !    चीनी अधिकारियों पर प्रतिबंधों को मंजूरी, अमेरिका करेगा रुख कड़ा !    

सरगम › ›

खास खबर
मुफ्त में करें  शॉर्ट टर्म कोर्सेस

मुफ्त में करें  शॉर्ट टर्म कोर्सेस

गूगल और यूट्यूब पर कुछ शॉर्ट टर्म ऑनलाइन कोर्स करके आप भी अपने करियर को चमका सकते हैं। खास बात यह है कि इन्हें घर बैठे मुफ्त में किया जा सकता है। आज के दौर में यह सारे कोर्स बहुत काम के हैं। प्रमोट ए बिजनेस विद कंटेंट सोशल मीडिया का इस्तेमाल ...

Read More

अंकित की गुल्लक

अंकित की गुल्लक

ललित शौर्य अंकित आजकल घर पर ही था। लॉकडाउन के चलते उसका घर से निकलना बंद था। घर पर ही इंडोर गेम्स खेल कर वो अपना मन बहला रहा था। उसकी छोटी बहन प्रियांशी और अंकित कैरम और लूडो खेलते। कभी-कभी वे आपस में झगड़ने लगते। फिर मम्मी आकर उन दोनों ...

Read More

बगिया में बैठक

बगिया में बैठक

दीप्ति अंगरीश आप सोचते होंगे कि होम गाडर्न, बालकनी गार्डन या रूफ गार्डन में शाम को या रात में तपिश महसूस होती है। तो जान लें कि इस तपिश को कम करने के कई विकल्प हैं। मसलन लकड़ी का आउटडोर फर्नीचर, हल्के रंगों का चुनाव के अलावा यहां प्लास्टिक व लोहे ...

Read More

तनाव से बनाएं तालमेल

तनाव से बनाएं तालमेल

सिमी वरैच अस्पताल में जाने पर हमने देखा कि हर तरफ एक लंबी लाइन है। लाइन में खड़े लोग सर्दी खांसी और फ्लू से पीड़ित हैं। कई सीनियर डॉक्टर्स ओपीडी में नहीं आ रहे, बल्कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सलाह दे रहे हैं। पास में जाने पर पता चला कि कुछ लोग ...

Read More

हरे कांच की चूड़ियां हिंदी फीचर फिल्म

हरे कांच की चूड़ियां हिंदी फीचर फिल्म

शारा वर्ष 1967 में रिलीज इस फिल्म को बीते दिनों के एक्टर और डायरेक्टर किशोर साहू ने अपनी बेटी नैना साहू को सिल्वर स्क्रीन पर बतौर नायिका प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया। सिर्फ उन्होंने इस फिल्म को निर्देशित ही नहीं किया, बल्कि इसकी कहानी भी लिखी और स्वयं इसे प्रोड्यूस ...

Read More

चैनल चर्चा

चैनल चर्चा

प्रदीप सरदाना ‘गुलाबो सिताबो’ से एक नयी शुरुआत समय कब और क्या करवट ले कुछ नहीं कहा जा सकता। कोरोना तो इस बात की मिसाल है ही। साथ ही कोरोना के चलते अब सिनेमा एक नए युग में प्रवेश करने जा रहा है, वह है डिजिटल सिनेमा। जिसकी शुरुआत अमिताभ ...

Read More

हिंदी फीचर फिल्म हरियाली और रास्ता

हिंदी फीचर फिल्म हरियाली और रास्ता

फ्लैशबैक शारा यह ऐसी फिल्म नहीं जो हमें तार्किकता सिखाए और बार-बार सोचने को मजबूर करे। यह एक दार्जिलिंग की पहाड़ियों में ट्रेन पर सवार होकर संगीतमय यात्रा है, जिसका सिर्फ आनंद लिया जा सकता है। दार्जिलिंग की वादी में एक प्रेमी जोड़े की गीतों के ज़रिये चूहलें दर्शकों को भीतर तक ...

Read More


  • चैनल चर्चा
     Posted On May - 23 - 2020
    समय कब और क्या करवट ले कुछ नहीं कहा जा सकता। कोरोना तो इस बात की मिसाल है ही। साथ....
  • हरे कांच की चूड़ियां हिंदी फीचर फिल्म
     Posted On May - 23 - 2020
    वर्ष 1967 में रिलीज इस फिल्म को बीते दिनों के एक्टर और डायरेक्टर किशोर साहू ने अपनी बेटी नैना साहू....
  • मुफ्त में करें  शॉर्ट टर्म कोर्सेस
     Posted On May - 23 - 2020
    गूगल और यूट्यूब पर कुछ शॉर्ट टर्म ऑनलाइन कोर्स करके आप भी अपने करियर को चमका सकते हैं। खास बात....
  • सिल्वर स्क्रीन
     Posted On May - 23 - 2020
    बहुमुखी के धनी प्रभुदेवा की मूल पहचान कोरियोग्राफर की है। पर इधर निर्देशन औेर वह भी हिंदी फिल्मों का, उन्हें....

खबरें फिल्मों की

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on खबरें फिल्मों की
-आरकेपी रेमो का सपना पूरा अभिनेता, कोरियोग्राफर और अब निर्देशक भी रेमो डिसूजा उर्फ रमेश गोपी की आजकल पौ बारह हैं। जी टीवी के डांस इंडिया डांस से चर्चा में आने वाले रेमो की पहली निर्देशित फिल्म फालतू विश्वकप और आईपीएल के बावजूद सफल रही। ओपन एडमिशंस नाम की ही औसत-सी फिल्म की रीमेक कही जाने वाली जैकी भगनानी की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म के अब सीक्वल की तैयारी ही नहीं हो रही बल्कि 

नर्मदा को प्यार का पंच मारेंगे विजेन्दर

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on नर्मदा को प्यार का पंच मारेंगे विजेन्दर
अनिल बेदाग और आखिरकार गोविंदा को अपनी लाड़ली नर्मदा के लिए परफेक्ट हीरो मिल ही गया। पिछले तीन साल से तलाशी अभियान चल रहा था, पर चीची को न तो ढंग की स्क्रिप्ट मिल पा रही थी और न ही सुटेबल हीरो। किस-किसको नहीं परखा। गोविंदा ने नर्मदा की लांचिंग फिल्म के लिए क्या कुछ नहीं किया। अपने जिगरी यार सलमान खान तक से पंगा लिया, जो उन्हें आश्वासन देते रहे कि नर्मदा की बॉलीवुड में एंट्री शानदार 

विरासत-ए-पंजाब

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on विरासत-ए-पंजाब
....

बाज़ार के इशार

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on बाज़ार के इशार
....

यह बॉलीबुड है

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on यह बॉलीबुड है
महाअक्षय बनकर आ रहे  हैं मिमोह मिठुन चक्रवर्ती का बेटा मिमोह अब महाअक्षय चक्रवर्ती बनकर अपनी अभिनयी जिन्दगी की दूसरी पारी खेलने जा रहा है। मिमोह के रूप में उसकी आई पहली फिल्म ‘जिम्मी’ बुरी तरह  फ्लॉप हो गई थी लेकिन अब विक्रम भट्ट उसे अपनी फिल्म ‘हंटेड’ में नए लुक और नए नाम महाअक्षय के साथ रिलांच कर रहे हैं। यह एक 3डी हॉरर फिल्म है। जब फिल्म में पहले ही दो-तीन अक्षय हैं ऐसे में महाअक्षय 

लोग बदले, सिनेमा भी बदला अनुराग कश्यप

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on लोग बदले, सिनेमा भी बदला अनुराग कश्यप
अपने कामयाब को-प्रोडक्शन ‘उड़ान’ के बाद ‘गैंग्स ऑफ वासीपुर’ के साथ अनुराग कश्यप फिर से लौट आए हैं डायरेक्टर की अपनी कुर्सी पर। बातूनी अनुराग यहां बात कर रहे हैं अपनी आने वाली फिल्मों के बारे में, ‘दबंग’ पर हुई उनकी ताजा कण्ट्रोवर्सी पर और बॉलीवुड में कास्टिंग काउच के मुद्दे पर। आप काफी दिनों से अपनी फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासीपुर’ की शूटिंग की वजह से बाहर थे, क्या प्रगति है 

अंधविश्वास से लड़ाई है फिल्म कुछ लोग में : अनुपम खेर

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on अंधविश्वास से लड़ाई है फिल्म कुछ लोग में : अनुपम खेर
अनुपम इन दिनों प्रख्यात गांधीवादी अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान में उनका साथ देने की वजह से सुर्खियों में हैं। उन्होंने शुजा अली के  निर्देशन में बनी फिल्म कुछ लोग में दो अलग किरदार निभाए हैं। वैसे इन दिनों अनुपम खेर नए डायरेक्टर्स के साथ फिल्में करने के लिए चर्चित हैं। इन डायरेक्टर्स की फिल्मों की बदौलत उनकी बतौर एक्टर दूसरी पारी शुरू हुई है। जैसे खोसला का घोंसला, ए वेडनेसडे 

सामाजिक सरोकारों का पक्षधर हूं : अनुपम श्याम

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on सामाजिक सरोकारों का पक्षधर हूं : अनुपम श्याम
टेलीवुड मायानगरी में तकरीबन 18 वर्षों से अभिनय जगत में विविधतापूर्ण किरदार निभाने वाले चर्चित कलाकार अनुपम श्याम आजकल एक नयी पारी में हैं। वे आजकल सहारावन टेलीविजन पर यूनिसेफ के सहयोग से निर्मित सामाजिक धारावाहिक जीना इसी का नाम है, में बड़े साहिब के पात्र को निभा रहे हैं। इस धारावाहिक का प्रसारण दोपहर 2:30 बजे सोमवार से शुक्रवार हो रहा है। प्रतापगढ़ (यूपी) में जन्में अनुपम श्याम आज 

इस साल मेरी वापसी होगी प्रीति जिंटा

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on इस साल मेरी वापसी होगी प्रीति जिंटा
गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड अब इंडिया तोड़ेगा’ से पहली दफा टीवी शो होस्ट कर रही प्रीति    जिंटा ने अपने इस शो, आईपीएल टीम और बॉलीवुड में वापसी के बारे में बताया। अब आप फिर से शेप में हैं। यह मेकओवर आपने टेलीविजन के लिए किया है या फिल्मों में भी आ रही हैं? हां, यह मैंने मूवीज और एंटरटेनमेंट के लिए किया है। सच बताऊं, पिछले दिनों जब मैं आईपीएल और क्रिकेट में व्यस्त थी, मेरा वजन बढ़ गया था। जब 

करिअर को कभी गंभीरता से नहीं लिया सुष्मिता सेन

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on करिअर को कभी गंभीरता से नहीं लिया सुष्मिता सेन
अगर पूर्व ‘मिस वल्र्ड’ ऐश्वर्या राय से सुष्मिता सेन के करिअर की तुलना करें, तो इस लिहाज से वह बहुत पीछे छूट गई नज़र आती हैं। हालांकि दोनों का करिअर लगभग एक साथ फिल्मों में आरंभ हुआ था, लेकिन एक तरफ ऐश को हमेशा अच्छी फिल्में और निर्देशक मिले, वहीं सुष फिल्मी करिअर में संघर्ष करतीनज़र आईं। उनके पास न तो उल्लेखनीय फिल्में हैं और न आगे इसकी कोई संभावना दिख रही है। इसके बावजूद वह अपनी फिल्मी 

फिल्म ‘बिन बुलाए बाराती’ में मल्लिका शेरावत का

Posted On April - 23 - 2011 Comments Off on फिल्म ‘बिन बुलाए बाराती’ में मल्लिका शेरावत का
इन दिनों बालीवुड में ‘आइटम नंबर’ में एक-दूसरे को पछाडऩे की होड़ सी मची हुई है। ‘मुन्नी बदनाम हुई’ और ‘शीला की जवानी’ जैसे अतिबोल्ड और अतिगर्मागर्म आइटम नंबरों की सफलता के बाद उसी तरह के आइटम नंबर बनाने की होड़ मची हुई है। इसी के चलते अब ‘मुन्नी बदनाम’ तथा ‘शीला की जवानी’ को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए नया आइटम सांग आ रहा है—’शालू के ठुमके’। इस आइटम सांग के साथ हॉट अदाकारा 

रिलीज से पहले मालामाल

Posted On April - 16 - 2011 Comments Off on रिलीज से पहले मालामाल
प्रतीक एम अपने जोखिम को कम करने के लिए बॉलीवुड में अब रिलीज से पहले ही फिल्मों से कमाई करने का चलन बढ़ता जा रहा है। हालांकि इस मामले में भी बॉलीवुड ने हॉलीवुड के रास्ते पर ही चलने की कोशिश की है। हॉलीवुड में फिल्म की 70 फीसदी कमाई रिलीज से पहले ही हो जाती है और सिनेमाघरों में प्रदर्शन से सिर्फ 30 फीसदी आय होती है। इसी तर्ज पर अब हमारे यहां भी फिल्म निर्माता रिलीज से पहले बड़े सौदे करने 

पच्चीस करोड़ में ‘फना’ और डेढ़ करोड़ में ‘….घोसला’

Posted On April - 16 - 2011 Comments Off on पच्चीस करोड़ में ‘फना’ और डेढ़ करोड़ में ‘….घोसला’
आइए देखिए कि फिल्मों के सैटेलाइट राइट्स किस तरह चैनलों के लिए फायदे का सौदा साबित हुए हैं :- 0 टेलीविजन उद्योग से जुड़े सूत्रों के मुताबिक नामी-गिरामी सितारों से सजी फिल्में उनके लिए बेहद फायदेमंद साबित होती हैं, क्योंकि उनमें दर्शकों को खींचने का माद्दा होता है। 0 यशराज फिल्म्स की फिल्में भी टीवी चैनलों पर ऊंचे दाम पर बिकती हैं। ‘फना’, ‘धूम-2’ और ‘काबुल एक्सप्रेस’ जैसी फिल्में 

मेरी प्रतिभा का उपयोग नहीं हुआ : लारा

Posted On April - 16 - 2011 Comments Off on मेरी प्रतिभा का उपयोग नहीं हुआ : लारा
शांतिस्वरूप त्रिपाठी लगभग आठ साल पहले प्रियंका चोपड़ा के साथ फिल्म ‘अंदाज’ से अपने करिअर की शुरुआत करने वाली अदाकारा लारा दत्ता का करिअर कुछ खास रूप नहीं ले पाया हैं।  प्रियंका चोपड़ा के मुकाबले वह काफी पीछे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने हमेशा मल्टीस्टारर फिल्मों में ही अभिनय किया हैं। लगभग एक साल पहले तीस अप्रैल 2010 को प्रदर्शित फिल्म ‘हाउस फुल’ के बाद अब वह 29 अप्रैल 2011 को  

हमने जो देखे सपने…!

Posted On April - 16 - 2011 Comments Off on हमने जो देखे सपने…!
शेखर सुमन के बेटे अध्ययन सुमन की ज्यादातर चर्चा उनकी फिल्मों को लेकर नहीं बल्कि कंगना राणौत के साथ उनकी  डेटिंग को लेकर होती रही है। लेकिन अब अध्ययन पक्के इरादे के साथ दो नई फिल्में लेकर रोशनी के दायरे  में आ रहे हैं। इस इंटरव्यू में अध्ययन अपने करिअर की सुस्त चाल और अपनी वापसी पर पहली बार खुलकर चर्चा कर रहे हैं। आप दो नई फिल्मों पर काम कर रहे हैं…..क्या  इसे  हम आपकी वापसी 

दम तोड़ती उम्मीदों के बीच ‘तीन थे भाई’

Posted On April - 16 - 2011 Comments Off on दम तोड़ती उम्मीदों के बीच ‘तीन थे भाई’
सुर-ताल ‘लिसन सुनो भई/ चूज चुनो भई/ तीन थे भाई/ पिजन कबूतर/ पैरट तोता/ तीजा तितली बटरफ्लाई/ ओ तीन थे भाई…..!’ यकीन तो नहीं होता, लेकिन सच्चाई यही है कि यह गाना (?) गुलजार ने लिखा है। किसी ने सही कहा है कि हालात भी इनसान से कैसे-कैसे काम करा लेते हैं। ‘दो दीवाने शहर में’, ‘आने वाला पल जाने वाला है’, ‘हजार राहें मुड़के देखीं’, ‘तुझसे नाराज नहीं जिंदगी’, ‘मेरा कुछ सामान’, ‘यारा