भाजपा ही करवा सकती है बिना भेदभाव के विकास !    कांग्रेसी अपनों पर ही उठा रहे सवाल : शाह नवाज !    रणधीर चौधरी ने छोड़ी बसपा, भाजपा में शामिल !    शिव सेना बाल ठाकरे ने बसपा उम्मीदवार को दिया समर्थन !    ‘युवा सेना के चक्रव्यूह में फंसा चौधरी परिवार’ !    जनता को बरगला रहे हुड्डा, भाजपा को मिल रहा है प्रचंड बहुमत !    सरकार ने पूरी ईमानदारी से किया विकास : राव इंद्रजीत !    श्रद्धालुओं से 20 डालर सेवा शुल्क ना वसूले पाक !    21 के मतदान तक एग्जिट पोल पर रोक !    आईसीसी के हालिया फैसलों को नहीं मानेगा बोर्ड : सीओए !    

विचार › ›

खास खबर
पानीदार आदिवासी इलाकों में अकाल की छाया

पानीदार आदिवासी इलाकों में अकाल की छाया

पर्यावरण विरोधी नीति अमरेंद्र किशोर कभी झारखंड का पलामू पानीदार था। पश्चिमी ओडिशा की आबोहवा में भी सालों भर नमी रहा करती थी। मध्य प्रदेश के शिवपुरी में पानी से उपजी खुशियां वहां के लोकगीतों में छलकती थीं। ये सभी आदिवासी बहुल इलाके हैं जहां कभी पानी संग्रह करने की तरह-तरह ...

Read More

तनाव घटा मगर बाकी हैं चुनौतियां

तनाव घटा मगर बाकी हैं चुनौतियां

मल्लापुरम में राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हुई शिखर वार्ता से चीन-भारत के रिश्तों में सुधार आने का अहसास हो रहा है। जबकि हाल ही में जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर चीन ने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत के प्रति अपेक्षाकृत कम मैत्रीपूर्ण रुख अख्तियार किया था। हालांकि, ...

Read More

सांसों पर संकट

सांसों पर संकट

प्रदूषण से निपटने को बने कारगर रणनीति यह नयी बात नहीं है। हर साल अक्तूबर के मध्य से नवंबर तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के अन्य भागों में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब होने लगती है। दलील दी जाती है कि हरियाणा, पंजाब, राजस्थान व उ.प्र. के किसान खेतों में ...

Read More

कैंसर के खिलाफ जंग हुई अब आसान

कैंसर के खिलाफ जंग हुई अब आसान

चिकित्सा में नोबेल निरंकार सिंह इस साल चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार जिन तीन वैज्ञानिकों को देने की घोषणा की गयी है, उनकी खोज से अब कैंसर, एनीमिया और कोशिकाओं से जुड़ी हुई कई अन्य बीमारियों के इलाज का रास्ता खुलेगा। पुरस्कार के लिए चुने गये वैज्ञानिकों में अमेरिका के विलियम जी. केलिन ...

Read More

विपक्षी बिखराव से आसान भाजपा की राह

विपक्षी बिखराव से आसान भाजपा की राह

दरअसल जब एक राजनीतिक दल या उसके नेतृत्व वाला गठबंधन केंद्र समेत देश के दो-तिहाई राज्यों की सत्ता पर काबिज हो और उसका प्रतिद्वंद्वी दल या उसके नेतृत्व वाला गठबंधन हाशिये पर खिसक चुका हो, तब दो राज्यों के विधानसभा चुनावों की बहुत ज्यादा राजनीतिक अहमियत तर्कसम्मत नहीं लगती। इसके बावजूद ...

Read More

गरीबी का अर्थशास्त्र

गरीबी का अर्थशास्त्र

अभिजीत ने दिखाई मुक्ति की राह हर भारतीय के लिये गौरव का विषय है कि अमेरिका में बैठकर भी भारत में निर्धनता उन्मूलन के प्रयासों में लगे अभिजीत बनर्जी को गरीबी से मुक्ति के व्यावहारिक अर्थशास्त्र के लिये नोबेल पुरस्कार मिला है। यह भारत के लिये दोहरी खुशी है कि यह ...

Read More

प्राथमिकी दूसरे राज्य में भेजे जाने पर सवाल

प्राथमिकी दूसरे राज्य में भेजे जाने पर सवाल

उच्च न्यायालय का अधिकार क्षेत्र अनूप भटनागर कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न की रोकथाम का कानून बनने के छह साल बाद अब उच्चतम न्यायालय के समक्ष एक रोचक मामला आया है। इस मामले में उच्च न्यायालय ने महिला पुलिस अधिकारी द्वारा पुलिस महानिरीक्षक स्तर के अधिकारी के खिलाफ कथित रूप से ...

Read More


  • गरीबी के विस्तृत आयामों की अनदेखी
     Posted On October - 18 - 2019
    अर्थशास्त्र में वर्ष 2019 का नोबेल पुरस्कार संयुक्त रूप से मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के अभिजीत बनर्जी एवं एस्थर डफ्लो....
  • नोबेल हकदार इथियोपिया का ‘नेल्सन मंडेला’
     Posted On October - 18 - 2019
    आमतौर पर शांति के लिये दिये जाने वाले नोबेल पुरस्कार को लेकर यदा-कदा सवाल उठाये जाते हैं। खासकर राजनेताओं को....
  •  Posted On October - 18 - 2019
    दुनिया की ग़रीबी धन्य हुई कि उसकी ‘खैरख्वाही’ को नोटिस किया गया। न सिर्फ नोटिस किया गया बल्कि बरस्ते अर्थशास्त्र....
  •  Posted On October - 18 - 2019
    16 अक्तूबर को दैनिक ट्रिब्यून के सम्पादकीय पृष्ठ पर राजकुमार सिंह का ‘विपक्षी बिखराव से आसान भाजपा की राह’ लेख....

आपकी राय

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on आपकी राय
विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लेकर चुनाव आयोग ने कमर कस ली है। चुनावी चर्चाओं ने माहौल की गहमागहमी को बढ़ा दिया है, जिसमें स्वतंत्र व निष्पक्ष तरीके से चुनाव प्रमुख मुद्दा रहेगा। कुछ दशक पहले तक लोग बैलट पेपर पर मुहर लगाकर मतदान करते थे। बदलते दौर के साथ ईवीएम का इस्तेमाल होने लगा। लेकिन अब ईवीएम की विश्वसनीयता पर भी सवाल उठने लगे ....

एकदा

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on एकदा
कोलकाता में मुस्लिम महिला सम्मेलन का वार्षिक अधिवेशन था। सरोजिनी नायडू इसकी मुख्य अतिथि थीं। भाषण देने वालों में कोई बांग्ला में तो कोई उर्दू में भाषण दे रहा था। उनके पास बैठी महिलाओं में भी किसी ने बांग्ला की वकालत की तो किसी ने उर्दू की। इसी बीच एक स्वयंसेविका ने आकर किसी महिला से कहा—आपके घर से फोन आया है कि आपकी बच्ची ....

गड्ढों की गहराई, उम्मीदों की ऊंचाइयां

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on गड्ढों की गहराई, उम्मीदों की ऊंचाइयां
अभी घनघोर बारिश हो रही है। चारों तरफ पानी ही पानी है। सड़कें हंसती-मुस्कुराती महाभारत का जुमला याद दिला रही हैं—मानो कह रही हों, अंधों के पुत्र! देख लो, जहां जल दिख रहा है वहां थल है। ...और जहां थल दिखता है वहां जल है। इसी कन्फ्यूजन के चलते धनीराम पुलिस वाला अस्पताल में पड़ा है। जल को थल समझ बैठा और नक्शा बदल गया ....

खेलने-खाने की उम्र में बड़ी जिम्मेदारी

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on खेलने-खाने की उम्र में बड़ी जिम्मेदारी
ग्यारह साल की उम्र में कोई लड़की यदि आम रुचियों से इतर दुनिया की गंभीर पर्यावरणीय चुनौतियों से जूझने का ज़ज्बा रखे तो हैरत होती है। फिर वह भारत से निकलकर संयुक्त राष्ट्र की बहुचर्चित क्लाइमेट चेंज समिट तक में विरोध दर्ज करा आए तो उसके गंभीर सरोकारों पर चर्चा करना बनता है। ....

कुपोषण के विरुद्ध एक अभिनव पहल

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on कुपोषण के विरुद्ध एक अभिनव पहल
दुनिया के तमाम धनी देशों की एक खासियत आम है कि उनके नागरिक स्वस्थ और कमोबेश निरोगी हैं। भारतीय अर्थव्यवस्था आज बेशक दुनिया में छठवें पायदान पर पहुंच गई है लेकिन स्वास्थ्य और निरोगी नागरिकों के मामले में हम कई पड़ोसी देशों से भी पीछे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण है कि हमारे देश के कई राज्यों में कुपोषण से न केवल बच्चों की मौतें ....

खुद से लड़ती कांग्रेस

Posted On October - 4 - 2019 Comments Off on खुद से लड़ती कांग्रेस
विधानसभा चुनाव के लिये टिकट वितरण से उपजे आक्रोश के बीच हुए हाई वोल्टेज ड्रामे से तो यही लगता है कि कांग्रेस भाजपा से लड़ने से पहले पार्टी के भीतर ही जूझ रही है। नि:संदेह सत्ता से बाहर रहने की तड़पन के बीच पिछले पांच सालों में पार्टी के भीतर जारी उठापटक जब-तब उजागर हुई। ....

आपकी राय

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on आपकी राय
30 सितंबर के दैनिक ट्रिब्यून का संपादकीय ‘बुद्ध-युद्ध के बीच’ के विश्लेषण में भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर में धारा 370 समाप्त करने के बाद पाकिस्तान की बौखलाहट साफ झलकती है। इमरान खान कभी भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देते हैं, कभी पीओके में अपने भाषण में जिहादियों को सीमा पार करके भारत पर हमला करने की धमकी देते हैं। ....

एकदा

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on एकदा
संत अहमद हमेशा खुदा की याद में खोए रहते थे। वे दर्शनों के लिए आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को नेक-नीयत रखने तथा गरीबों की सेवा करने की प्ररेणा देते। एक दिन उनके पड़ोस में रहने वाले व्यापारी बहराम के घर से कोहराम मचने और रोने की आवाज सुनाई दी। वे तुरंत उसके घर जा पहुंचे। पता चला कि बहराम जब खरीदा गया माल ऊंटों पर ....

गोली, बोली और हमजोली

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on गोली, बोली और हमजोली
एक कहावत है कि जितने सिर हैं, उतनी ही तरह के दिमाग हैं और जितनी तरह के दिल हैं, उतनी ही तरह की मोहब्बत हैं। वर्तमान में इस कहावत में यह भी जोड़ा जा सकता है कि जितनी किस्मों के नेता हैं, उतनी ही तरह की मीठी गोलियां हैं। नेताओं ने गोलियों के झोले भर रखे हैं। जिन नेताओं के पल्ले दाने नहीं हैं, वे ....

पांच साल बाद भी इसरो की कमाई

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on पांच साल बाद भी इसरो की कमाई
अंतरिक्ष विज्ञान के इतिहास में भारत का नाम स्वर्ण अक्षरों में लिख देने वाला मंगलयान लाल ग्रह का अध्ययन करने के लिए छह महीने के मिशन पर भेजा गया था, लेकिन यह पांच साल बाद भी काम कर रहा है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो के वैज्ञानिकों को लगातार मंगल ग्रह की तस्वीरें तथा डेटा भेज रहा है। ....

भारतीय कूटनीतिक बढ़त से पस्त पाक

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on भारतीय कूटनीतिक बढ़त से पस्त पाक
प्रधानमंत्री की विदेश यात्राएं ज्यादातर भू-राजनीतिक, आर्थिक या ऊर्जा संबंधी जरूरतों को लेकर हुआ करती हैं, लेकिन हाल ही में मोदी की ह्यूस्टन यात्रा अनिवासी भारतीयों को लेकर थी। यह अमेरिका में बसे 30 लाख भारतीयों के उभरते अक्स और बढ़ती राजनीतिक सक्रियता का उदाहरण रही। इसमें अभूतपूर्व रूप से टेक्सास प्रांत के ह्यूस्टन में एक खुले स्टेडियम में आप्रवासी भारतीयों का समागम आयोजित किया ....

भरोसे का दरकना

Posted On October - 3 - 2019 Comments Off on भरोसे का दरकना
यह खबर बैंकिंग व्यवस्था की साख और उपभोक्ताओं के भरोसे को प्रभावित करने वाली है कि पंजाब में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक धोखाधड़ी के सैकड़ों मामलों से जूझ रहे हैं। पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट को स्टेट बैैंक की तरफ से बताया गया है कि बैंकों से धोखाधड़ी के 528 मामलों में 306 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसके साथ ही 206 मामलों में ....

एकदा

Posted On October - 2 - 2019 Comments Off on एकदा
नगर सेठ ने संत बायजीद की सभा में प्रवचन के पश्चात आग्रह किया—‘आप मुझे एक कागज पर ऐसा कुछ लिखकर दें, जिससे आने वाली पीढ़ी को भी उस ज्ञान से लाभ अर्जित होता रहे।’ बायजीद ने एक कागज पर लिखा— ‘इस संसार में हर वस्तु समाप्त होने वाली है। पहले पिता मरता है, फिर पुत्र मरता है तत्पश्चात पौत्र को भी मरना ही है।’ यह ....

‘हाथ आया धन वापस नहीं करते’

Posted On October - 2 - 2019 Comments Off on ‘हाथ आया धन वापस नहीं करते’
मशहूर वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन ने कहा था कि बहुत मुमकिन है कि आने वाली पीढ़ियां इस बात पर यकीन न कर पायें कि कभी हाड़-मांस का एक बापू जैसा पुतला इस धरती पर मौजूद था। लेकिन जहां तक यकीन की बात है, आज बापू के जन्म के डेढ़ सौ साल पूरे होने तक अविश्वसनीय हो जाने वाला यह इकलौता तथ्य नहीं है। ....

मानव के सर्वांगीण विकास का गांधी दर्शन

Posted On October - 2 - 2019 Comments Off on मानव के सर्वांगीण विकास का गांधी दर्शन
अमेरिका के मानवाधिकार नेता मार्टिन लूथर किंग के अनुसार गांधी अहिंसक सामाजिक परिवर्तन के हमारे पथ-प्रदर्शक थे। वर्ष 1959 में पांच सप्ताह की भारत यात्रा पर जब मार्टिन दिल्ली आए तब पालम हवाई अड्डे पर उतरते हुए उन्होंने कहा था, ‘जब मैं दूसरे देशों की यात्रा पर जाता हूं तब एक यात्री के रूप में होता हूं और भारत आता हूं तो तीर्थयात्री होता हूं, ....

आपकी राय

Posted On October - 2 - 2019 Comments Off on आपकी राय
संयुक्त राष्ट्र की 74वीं महासभा में प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद को पूरे विश्व व मानवता के लिए चुनौती बताया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद जैसे विषय पर विश्व बिरादरी में कोई मतभेद नहीं होना चाहिए। भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं, बुद्ध दिए है, इसलिए जब भारत आतंकवाद के विरुद्ध आवाज उठाता है तो उसमें गंभीरता भी होती है। ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.