लव मेरिज करने वाली युवती ने ससुराल में किया हंगामा! !    सेल्समैन को जिंदा जलाने के आरोपी काबू !    31 अध्यापकों को मिला उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान !    पत्नी की हत्या का आरोपी एसडीओ गिरफ्तार !    गूगल मैप ने बेटी को पिता से मिलाया !    छत से फिसलकर पूर्व क्रिकेटर के ससुर की मौत !    ‘खट्टर सरकार ने किया हरियाणा से भाईचारा खत्म’ !    हिमाचल में 24 की मौत 800 से ज्यादा सड़कें बंद !    जूनियर विश्व कुश्ती में भारत को 3 पदक !    बड़ी स्क्रीनों पर गंगा आरती !    

लहरें › ›

खास खबर
गुस्से से मिली सीख

गुस्से से मिली सीख

वर्षा रानी हमारे समय में बच्चों का पांच वर्ष की उम्र में स्कूल में दाखिला होता था। मेरी बहन उस समय दूसरी कक्षा में पढ़ती थी। मां उसे रोज़ सुबह नहला-धुलाकर, साफ-सुथरे कपड़े पहनाकर स्कूल भेजती थी। मैं सोचती थी कि मेरे रोने-धोने की तो बात ही नहीं, क्योंकि मेरी बहन ...

Read More

'किसी कमज़ोर पर कभी मत हंसना'

'किसी कमज़ोर पर कभी मत हंसना'

विद्या बात तब की है जब मैं 10वीं की छात्रा थी। पढ़ाई में मन कम लगता तो खेल-कूद के लिये गली में बच्चों को तलाश शुरू हो जाती। पड़ोस में रहने वाले एक परिवार के बच्चों के साथ खासा मेलजोल और खेलना कूदना होता रहता था। एक अन्य घर में दो ...

Read More

किताबों से दोस्ती

किताबों से दोस्ती

ललित शौर्य मंगलवन के राजा शेर सिंह के तीन बच्चे थे। मोंटी, चिंटू और मिंटू। तीनों ही बड़े शरारती थे। मोंटी और चिंटू पढ़ने-लिखने में बहुत होशियार थे। दोनों नियमित स्कूल भी जाते थे लेकिन मिंटू अपनी ही दुनिया में खोया रहता था। उसे स्कूल से कोई मतलब नहीं था। पढ़ाई-लिखाई ...

Read More

बुज़ुर्गों के अधिकार

बुज़ुर्गों के अधिकार

मधु गोयल बुजुर्गों के प्रति आज की पीढ़ी असंवेदनशील होती जा रही है। ऐसे में बहुत ज़रूरी है कि बुज़ुर्गों के प्रति उनके अधिकारों के लिए जानकारी मुहैया कराई जाए। दिन-प्रतिदिन बुजुर्गों के प्रति लापरवाही के केस बढ़ते जा रहे हैं। बच्चे मां-बाप को संपत्ति से बेदखल कर दर-दर की ठोकरें ...

Read More

लज़्जत से भरपूर देसी ज़ायका

लज़्जत से भरपूर देसी ज़ायका

कृष्णलता यादव अगर बरसात के मौसम में बाहर कीचड़ व फिसलन की धमाचौकड़ी हो, घर में कोई सब्जी नहीं, सब्जीवाला भी नहीं आया, फिर ऐसे में कौन-सी सब्जी बनाई जाए? ऐसे में जवाब है— बेसन के गट्टे। सामग्री : तीन-चौथाई कप बेसन, नमक-मिर्च-हल्दी स्वादानुसार, आधा चम्मच गर्म मसाला, एक-चौथाई कप दही, दो ...

Read More

बच्चों को सिखायें डे टू डे मैनर्स

बच्चों को सिखायें डे टू डे मैनर्स

स्वाति गुप्ता हम सभी चाहते हैं कि हमारा बच्चा खाने के बाद अपनी प्लेट खुद उठाकर रखे, खिलौनों से खेलने के बाद उसे वापस अपनी जगह पर रख दें, दिन में दो बार ब्रश करे। लेकिन यह सब इतना आसान नहीं होता। बच्चों को ये सब बातें हमें छुटपन से ही ...

Read More

बाल कविता

बाल कविता

धरती के आभूषण पेड़ आओ मिलकर पेड़ लगाएं। पेड़ लगाकर धरा सजाएं॥ हरी-भरी तब होगी डाली। पौधों की जब हो रखवाली॥ पेड़ों-सा कोई न साथी। पेड़ हमारे बने हिमाती॥ धरती के आभूषण पेड़। प्रदूषण के दुश्मन पेड़॥ तरुवर ही है जीवन दाता। इनसे अपना पावन नाता॥ शुद्ध हवा हमको देते हैं। बदले में न कुछ लेते हैं॥ मेघ बुलाकर वर्षा करते। पोखर ताल-तलैया भरते॥ हम ...

Read More


  • आज़ादी से नौकरी
     Posted On August - 18 - 2019
    नौकरी अगर मनमाफिक नहीं है तो प्रचलित कहावतों और मुहावरों में हमेशा ही तुच्छ मानी गई है चाहे वह सरकारी....
  • सार्वजनिक स्थल पर शिष्टाचार
     Posted On August - 18 - 2019
    प्राचीन समय से बुजुर्ग हमें विनम्र और शालीन व्यवहार की शिक्षा देते आ रहे हैं। शिष्टाचारपूर्ण किया गया व्यवहार....
  • ओ रे… कन्हैया
     Posted On August - 18 - 2019
    अद‍्भुत था श्री कृष्ण का बाल्य जीवन। उनका मनमोहक चेहरा, अनुपम मुस्कान, बांसुरी और उनका नृत्य ऐसा था कि लोग....
  • नयी खोजों का दौर जारी
     Posted On August - 18 - 2019
    पॉकेट वीडियोगेम का भी एक ज़माना हुआ करता था। बाद में उसकी जगह मोबाइल फोन गेम्स ने ले ली और....

जीवन को सम्बल देता प्यारा रिश्ता

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on जीवन को सम्बल देता प्यारा रिश्ता
रिश्ते/ फादर्स डे मोनिका शर्मा जिंदगी की अनगिनत उलझनों को जीते हुए पिता हमेशा संघर्षशील रहते हैं। रात-दिन तकलीफों का पहाड़ ढोते हैं। ताकी बच्चों के जीवन को सुकून और स्थायित्व मिल सके। भावी पीढ़ी की जिंदगी की बुनियाद को ठोस आधार देने के लिए अपना सुख- चैन भुला देते हैं। तेज़ी से दौड़ती जिंदगी में संतुलन साधकर बच्चों के जीवन को दिशा देने का काम करते हैं। पिता के मन के जज़्बात 

आसां नहीं अब पेरेंटिंग

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on आसां नहीं अब पेरेंटिंग
श्रुति एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करती है। सवेरे आठ बजे घर से निकल कर रात के नौ बजे घर पहुंचती है। घर में उसने सीसीटीवी लगवा रखा है। मोबाइल से देखती रहती है कि उसका दो साल का बच्चा ठीक तो है। जब बच्चा बीमार पड़ जाता है और छुट्टी लेने की नौबत आती है तो भारी मुश्किल का सामना करना पड़ता है क्योंकि ....

व्रत-पर्व

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
16 जून : वट सावित्री व्रत, श्री सत्यनारायण व्रत 17 जून : ज्येष्ठ पूर्णिमा, संत कबीर जयंती (621वीं) 18 जून : आषाढ़ कृष्ण पक्ष प्रारंभ, गुरु हरगोविन्द सिंह जयंती 19 जून : ऋषभनाथ जयंती 20 जून : श्री गणेश चतुर्थी व्रत 21 जून : सायन दक्षिणायन प्रारंभ, वर्षा ऋतु शुरू, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 22 जून : शक आषाढ़ प्रारंभ -सत्यव्रत बेंजवाल  

शनि को मंगल बदलेगा घर

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on शनि को मंगल बदलेगा घर
ऊर्जा, शक्ति एवं पराक्रम का कारक ग्रह मंगल राशि बदलने जा रहा है। यह 22 जून (शनिवार) को रात 11:21 बजे अपनी नीच राशि कर्क में प्रवेश करेगा और 9 अगस्त की सुबह तक इसी में रहेगा। ज्योतिष के अनुसार मंगल का यह राशि परिवर्तन कई तरह से प्रभाव डालेगा। विभिन्न राशियों पर इसका असर पड़ेगा। ....

जयंती देवी अपनी भक्त के साथ आयी थी मां की डोली

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on जयंती देवी अपनी भक्त के साथ आयी थी मां की डोली
चंडीगढ़ से करीब 10 किलोमीटर की दूरी पर मोहाली के गांव जयंती माजरी में स्थित है माता जयंती देवी का प्राचीन मंदिर। जयंती माजरी गांव पहाड़ की तराई में बसा है। इसके पास ही जयंती राव नाम की एक मौसमी धारा बहती है। करीब 100 सीढ़ियां चढ़कर इस मंदिर तक पहुंचा जा सकता है। ....

कबिरा सोई पीर है जो जाने पर पीर…

Posted On June - 16 - 2019 Comments Off on कबिरा सोई पीर है जो जाने पर पीर…
महापुरुष एवं संत महात्मा युग-द्रष्टा होते हैं, तो युग स्रष्टा भी। वास्तव में युगीन परिस्िथतियां ही किसी महापुरुष के इस धरा पर आगमन का कारण बनती हैं। महात्मा कबीर के समय मुगल शासकों के अत्याचारों से पीड़ित हिन्दू समाज कई वर्गों-समूहों में विखंडित हो गया था। ....

खुशियों का परिवार

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on खुशियों का परिवार
जहां तकनीक ने बहुत कुछ दिया है, वहीं बहुत कुछ छीन भी लिया है। याद करें परिवार में नानी, दादी, चाची, बुुआ का लाड़-प्यार। तकनीक बिछड़ों को जोड़ रही है, लेकिन असल भावनाओं से दूर कर रही है। साथ रहते हुए भी हम एक-दूसरे से अंजान हैं। जानते हैं, इन दूरियों को पाटने के कुछ कारगर गुर। ....

स्नान-दान का महापर्व गंगा दशहरा

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on स्नान-दान का महापर्व गंगा दशहरा
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार राजा भगीरथ ने अपने पूर्वजों के उद्धार के लिए पतित-पावनी मां गंगा के पृथ्वी लोक पर अवतरण हेतु घोर तपस्या की। कई वर्ष बीतने के पश्चात मां गंगा भगीरथ की तपस्या से प्रसन्न हो गयीं। फलस्वरूप भगवान शिव की जटाओं में अधिष्ठित होकर मां गंगा अपने भक्त की पुकार पर स्वर्ग लोक से पृथ्वी लोक पर अवतरित हो गयीं। ....

हर सांस पर ध्यान

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on हर सांस पर ध्यान
हमारे शरीर में चलने वाली सांस, एक यांत्रिक प्रक्रिया है, जो लगातार बिना रुके चलती है। यह बहुत आश्चर्यजनक है कि अधिकतर लोग इसके बारे में जागरूक हुए बिना ही जीते रहते हैं। लेकिन, एक बार जब आप सांस के बारे में जागरूक हो जाते हैं, तो यह एक अद‍्भुत प्रक्रिया बन जाती है। इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि आज 'सांस को देखना' संभवतः ....

सम्मान और सहयोग का रिश्ता

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on सम्मान और सहयोग का रिश्ता
शारीरिक अक्षमता से जूझ रहे लोगों को सहानुभूति नहीं चाहिए। जरूरत पड़ने पर बस थोड़ा सहयोग कीजिये। आपका ऐसा व्यवहार उन्हें कमतर नहीं बल्कि बराबरी महसूस करवाता है। वे खुद को अलग-थलग नहीं बल्कि आपसे, अपने माहौल से जुड़ा हुआ पाते हैं। यूं भी किसी इंसान का मूल्यांकन उसकी शारीरिक क्षमता से नहीं, बल्कि उसकी सोच और काबिलियत से होनी चाहिए। ....

लंका से कश्मीर आयी मां क्षीर भवानी

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on लंका से कश्मीर आयी मां क्षीर भवानी
श्रीनगर से 27 किलोमीटर दूर तुलमुल्ला गांव में स्थित क्षीर भवानी मंदिर कश्मीर के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है। मां क्षीर भवानी व दुर्गा को समर्पित इस मंदिर के चारों ओर चिनार के पेड़ और जलधाराएं हैं, जो इस स्थान की सुंदरता में चार चांद लगाते नज़र आते हैं। महाराग्य देवी, रग्न्या देवी, रजनी देवी, रग्न्या भगवती इस मंदिर के अन्य प्रचलित नाम ....

व्रत-पर्व

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
9 जून : भानु सप्तमी पर्व 10 जून : श्री दुर्गाष्टमी, धूमावती जयंती, मेला क्षीर-भवानी (कश्मीर) 11 जून : बड़का मंगल हनुमान पूजा (लखनऊ) 12 जून : श्री गंगा दशहरा पर्व (हरिद्वार), श्री रामेश्वर प्रतिष्ठा दिवस 13 जून : निर्जला एकादशी व्रत 14 जून : प्रदोष व्रत, वटसावित्री व्रतारंभ 15 जून : आषाढ़ संक्रांति (30 मुहूर्ति)                                               -सत्यव्रत 

बच्चों का लंच बॉक्स

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on बच्चों का लंच बॉक्स
आप हर सुबह बच्चे का लंच बॉक्स बड़ी मेहनत से तैयार करती हैं, लेकिन वे उसे जस का तस वापस ले आते हैं। अगर आप भी बच्चों के इस रवैये से हैं तो उनके टिफिन बॉक्स को थोड़ा हटकर पैक करें। ....

बाल कविता

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on बाल कविता
सूरज दादा सूरज दादा, सूरज दादा आज करो इक हमसे वादा। नरमी थोड़ा दिखलाओ ना, आग ज़रा कम बरसाओ ना। जल उठा है धरती का बदन, मुरझा गया है खिलता चमन। सताती है ये धूप ज्यादा, सूरज दादा, सूरज दादा। सूख गये सब ताल तलैया, पसीने में तर बहन-भैया। सूने सारे खेत-खलिहान, ठाली बैठें हैं सब किसान। बदलो ज़रा अब तो इरादा, सूरज दादा, सूरज दादा। सुन लो अब बच्चों की पुकार, बरसाओं बूंदों की फुहार। भेजो बादलों 

एवरेस्ट जानलेवा जुनून

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on एवरेस्ट जानलेवा जुनून
अभिषेक कुमार सिंह इंसान के धैर्य व सहनशक्ति की परीक्षा लेने वाली दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी—एवरेस्ट एक बार फिर चर्चा के केंद्र में है। हाल ही में सामने आए तथ्य से पता चला कि इस सीजन की शुरुआत में ही एवरेस्ट पर चढ़ाई करने वाले पर्वतारोहियों में से 10 की मौत हो गई थी। इनमें 4 भारतीय थे, जबकि नेपाल, ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका के एक-एक पर्वतारोही ने वहां जान गंवाई। यह मई का तीसरा हफ्ता 

गर्मियों के कूल-कूल गेम्स

Posted On June - 9 - 2019 Comments Off on गर्मियों के कूल-कूल गेम्स
गर्मी का मौसम अपने पूरे उफान पर आ चुका है। तुम भी अपने मम्मी-पापा के साथ वाटर पार्क और अन्य पसंदीदा जगहों पर घूमने जा रहे होंगे। लेकिन, इन जगहों पर रोज-रोज जाना संभव नहीं हो पाता। ऐसे में क्यों न अपने स्मार्टफोन की मदद ली जाए और घर बैठे लिये जाएं मजे वाटर पार्क और स्वीमिंग पूल्स के! आओ, तुमको बताते हैं ऐसे ही ....