बिहार में लू से अब तक 61 की मौत !    पंकज सांगवान की पार्थिव देह आज पहुंचने की उम्मीद !    टीचर का स्नेह भरा स्पर्श !    बाथरूम इस्तेमाल के तरीके !    मेरे पापा जी !    सुपरफूड सोया !    कार्यस्थल पर सुरक्षित माहौल !    काम का रैप ... !    पापा का प्यार !    कोने-कोने में टेक्नोलॉजी !    

लहरें › ›

खास खबर
टीचर का स्नेह भरा स्पर्श

टीचर का स्नेह भरा स्पर्श

सविता स्याल उम्र के इस पड़ाव पर, जब जीवन के खट्टे-मीठे अनुभव याद करती हूं तो नये विद्यालय में पहली कक्षा का प्रथम दिवस आज भी मेरे स्मृति पटल पर ऊभर आता है तथा मेरे चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कुराहट दे जाता है । मुझे रात को ही मां ने ...

Read More

मेरे पापा जी

मेरे पापा जी

पापा जी मेरे पापा जी सबसे गहरा है नाता जी। बड़े लाड़ से हमको पालें हैं ये जीवन के रखवाले। कैसी भी हों हालात भले हर हाल में हमको संभाले। प्यार इनका ही लुभाता जी सबसे गहरा है नाता जी। मेहनत कर हमको पढ़ाते मंजिल तक सदा पहुंचाते। देकर अच्छे संस्कार हमें एक अच्छा इनसान बनाते। रखे छांव में बन छाता जी सबसे ...

Read More

कार्यस्थल पर सुरक्षित माहौल

कार्यस्थल पर सुरक्षित माहौल

मधु गोयल वैसे तो महिलाएं हर क्षेत्र में कामयाबी दर्ज करा रही हैं। बदलते वक्त के साथ उनकी भूमिकाएं भी बदली हैं। फिर भी काफी महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति सचेत नहीं हैं। ज्यादा से ज्यादा महिलाएं सार्वजनिक क्षेत्रों में सक्रिय रूप से भाग ले पाएं इसके लिये वर्कप्लेस पर उनकी ...

Read More

सुपरफूड सोया

सुपरफूड सोया

सही मायनों में सुपरफूड है सोयाबीन। यह एक कंपलीट फूड है, जिसे हम दूध, दही और आटा के तौर पर अपने खान-पान में शामिल करते हैं। इसे दाल के रूप में पकाकर भी इसका भरपूर प्रोटीन प्राप्त किया जा सकता है। इतना ही नहीं सोयाबीन के बीज पीसकर इससे कुकिंग ...

Read More

काम का रैप ...

काम का रैप ...

दीप्ति अंगरीश परिवार की होम मिनिस्टर हैं तो काम में रैप करना आपको सभी सदस्यों को सिखाना होगा। आप चाहती हैं कि परिवार का हर सदस्य पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में सफलता हासिल करे तो अपनाएं ये टिप्स... काम को आंकें परिवार को सिखाइए कि अपने पर्सनल व प्रोफेशनल काम को हर पहलू ...

Read More

कोने-कोने में टेक्नोलॉजी

कोने-कोने में टेक्नोलॉजी

कुमार गौरव अजीतेन्दु टेक्नोलॉजी के विस्तार ने न केवल इनसानों को हमेशा सहूलियत दी है बल्कि इससे उनकी आंतरिक क्षमताओं का भी विकास हुआ है। अगर आप किसी काम को मॉडर्न तरीके से करते हैं तो यह आपके समय के साथ चलने का परिचायक होता है। आज तकनीक ने घर के ...

Read More

जीवन को सम्बल देता प्यारा रिश्ता

जीवन को सम्बल देता प्यारा रिश्ता

रिश्ते/ फादर्स डे मोनिका शर्मा जिंदगी की अनगिनत उलझनों को जीते हुए पिता हमेशा संघर्षशील रहते हैं। रात-दिन तकलीफों का पहाड़ ढोते हैं। ताकी बच्चों के जीवन को सुकून और स्थायित्व मिल सके। भावी पीढ़ी की जिंदगी की बुनियाद को ठोस आधार देने के लिए अपना सुख- चैन भुला देते हैं। तेज़ी ...

Read More


  • आसां नहीं अब पेरेंटिंग
     Posted On June - 16 - 2019
    श्रुति एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करती है। सवेरे आठ बजे घर से निकल कर रात के नौ बजे घर....
  • कबिरा सोई पीर है जो जाने पर पीर…
     Posted On June - 16 - 2019
    महापुरुष एवं संत महात्मा युग-द्रष्टा होते हैं, तो युग स्रष्टा भी। वास्तव में युगीन परिस्िथतियां ही किसी महापुरुष के इस....
  • टीचर का स्नेह भरा स्पर्श
     Posted On June - 16 - 2019
    सविता स्याल उम्र के इस पड़ाव पर, जब जीवन के खट्टे-मीठे अनुभव याद करती हूं तो नये विद्यालय में पहली कक्षा का प्रथम 
  • जीवन को सम्बल देता प्यारा रिश्ता
     Posted On June - 16 - 2019
    रिश्ते/ फादर्स डे मोनिका शर्मा जिंदगी की अनगिनत उलझनों को जीते हुए पिता हमेशा संघर्षशील रहते हैं। रात-दिन 

टि्ंवकल-टि्ंवकल फिल्म स्टार

Posted On April - 28 - 2019 Comments Off on टि्ंवकल-टि्ंवकल फिल्म स्टार
हर बार की तरह इस बार का लोकसभा चुनाव भी बॉलीवुड सितारों के रंग में रंगा नज़र आ रहा है। लोकसभा चुनाव में सभी पार्टियां लोगों को लुभाने में लगी हुई हैं। बतौर स्टार प्रचारक भीड़ जुटाने से आगे बढ़ते हुए वे मैदान में दो-दो हाथ कर रहे हैं। एक तरफ जहां बॉलीवुड के कई पुराने दिग्गज राजनीति में बड़ा मुकाम हासिल कर चुके हैं ....

प्रेम से खिलता है भक्ति का फूल

Posted On April - 28 - 2019 Comments Off on प्रेम से खिलता है भक्ति का फूल
परम शिखर तक जाने के अनेक मार्ग हैं। उनमें से आठ मुख्य हैं। ये आठों हमारे शरीर के आठ चक्रों से संबंधित हैं। भक्तियोग का संबंध अनाहत या हृदय चक्र से है और प्रेम तथा राग भी इसी चक्र से संबंधित हैं। राग अथवा प्रेम के मार्ग से जो यात्रा हम चैतन्य की करते हैं, अपनी आत्मा तक की जो यात्रा हम हृदय के मार्ग ....

एकलव्य ने यहां दिया गुरुदक्षिणा में अंगूठा

Posted On April - 28 - 2019 Comments Off on एकलव्य ने यहां दिया गुरुदक्षिणा में अंगूठा
गुरु द्रोणाचार्य की कर्मस्थली गुरुग्राम के इतिहास में एक ऐसा पन्ना भी जुड़ा हुआ है जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। देश का एकमात्र एकलव्य मंदिर गुरुग्राम में है। वही एकलव्य, जिन्होंने महाभारत काल में गुरु द्रोण की प्रतिमा को प्रतीकात्मक तौर पर अपना गुरु मानकर धनुर्विद्या हासिल की और बाद में गुरुदक्षिणा के रूप में अपने दाहिने हाथ का अंगूठा उन्हें दे ....

30 अप्रैल से वक्री होगी शनि की चाल

Posted On April - 28 - 2019 Comments Off on 30 अप्रैल से वक्री होगी शनि की चाल
आगामी 30 अप्रैल से 18 सितंबर तक शनि ग्रह की चाल वक्री रहेगी। ज्योतिष शास्त्र में शनि को कर्म, सेवा, नौकरी का कारक माना जाता है। यह मकर और कुंभ राशि का स्वामी है। सूर्य, चंद्रमा और मंगल को शनि का शत्रु माना जाता है। जबकि, बुध और शुक्र को मित्र व बृहस्पति को सम भाव माना जाता है। शनि इस साल धनु राशि में ....

व्रत-पर्व

Posted On April - 28 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
30 अप्रैल- वरुथिनी एकादशी व्रत, श्री वल्लभाचार्य जयंती। 2 मई- प्रदोष व्रत। 3 मई- मास शिवरात्रि व्रत। 4 मई- वैशाख अमावस, शनैश्चरी अमावस।                                                        -सत्यव्रत बेंजवाल  

धर्म वाक्य

Posted On April - 27 - 2019 Comments Off on धर्म वाक्य
द्वाविमौ पुरुषौ राजन स्वर्गस्योपरि तिष्ठत:। प्रभुश्च क्षमया युक्तो दरिद्रश्च प्रदानवान‍्॥ जो व्यक्ति शक्तिशाली होने पर क्षमाशील हो तथा निर्धन होने पर भी दानशील हो – इन दो व्यक्तियों को स्वर्ग से भी ऊपर स्थान प्राप्त होता है। न्यायार्जितस्य द्रव्यस्य बोद्धव्यौ द्वावतिक्रमौ। अपात्रे प्रतिपत्तिश्च पात्रे चाप्रतिपादनम‍्॥ न्याय और मेहनत से कमाए धन के ये दो दुरूपयोग 

धरती कहे पुकार के

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on धरती कहे पुकार के
चीकू खरगोश ने डैंजर भेड़िये को दो इंसानों से कुछ बातें करते हुए सुना। वो दोनों लोग बोल रहे थे, 'इस बार कोई गड़बड़ नहीं होनी चाहिए। तुम जितना कहोगे हम उतना पैसा तुम्हें देंगे। तुम बस जंगल के दूसरे जानवरों को संभाल लेना।' डैंजर बोला, 'ठीक है। इस बार बिल्कुल भी गड़बड़ नहीं होगी। बस काम आधी रात को शुरू होना चाहिए, और सुबह ....

पेटूमल

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on पेटूमल
बाल कविता डींग हांकते पेटूमल, हैं हिसाब में वे अव्वल। जितने भी हों प्रश्न कठिन, कभी न हल हों उनके बिन। एक बार टेसूजी आए, उनके लिए प्रश्न थे लाए। पहुंचे फिर पेटू के घर, कहा — ज़रा इनको हल कर। पेटू बोले हंस के ज़रा, इनमें क्या है अरे धरा? मिनट लगेंगे केवल चार, अभी किए देता हल यार। लेकिन जब दिन बीत चला, और न कोई हल निकला। बोले — आ जाना कल ही, आज नहीं है मूड सही। डाॅ. घमंडीलाल अग्रवाल  

मिट्टी की नमी बताएगी मौसम का हाल

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on मिट्टी की नमी बताएगी मौसम का हाल
जल्दी ही मिट्टी की नमी का अंदाजा लगाकर मौसम और उसके बाद के हालात के बारे में सटीक अनुमान लगाया जा सकेगा। इसमें उपग्रह तकनीक का सहारा लिया गया है। नमी और तापमान के आंकड़ों को जमा कर बारिश की विभीषिका का अंदाजा लगाया जाएगा। ....

बच्चों को बोलने का अवसर दें

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on बच्चों को बोलने का अवसर दें
कहा जाता है, बचपन वह जो खुलकर खेले। इसी कड़ी में जोड़ा जा सकता है - बच्चा वह जो खुलकर बोले। यह तभी संभव है जब उसे बोलने के भरपूर अवसर दिए जाएँ। उसकी कही हुई बात को सुना जाए, समझा जाए। उसे बार-बार यह न सुनना पड़े - ‘तुम चुप रहो, अभी बच्चे हो।’ इस प्रकार की नकारात्मक टिप्पणियाँ उसे या तो विद्रोही बना ....

कामकाजी महिलाएं

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on कामकाजी महिलाएं
फैमिली मैनेजमेंट किसी कला से कम नहीं। खासकर कामकाजी महिलाओं के लिये। वैसे हाउसवाइफ भी दिन भर खटती रहती हैं, ऐसे में कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखने से यह कला सीखी जा सकती है। ताकी आपका परिवार खुश और स्वस्थ रहे। ....

हरी-भरी इडली

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on हरी-भरी इडली
दक्षिण भारत की रसोइयों में करीब हजार साल से इडली की सैकड़ों किस्मों को तैयार करने की परंपरा पोसती आयी हैं औरतें। जाने किसने, कब ईजाद की थी इडली मगर इसका पहला जिक्र कन्नड़ साहित्य में 10वीं सदी में मिलता है। फूड हिस्‍टॉरियन इसकी जन्मस्थली इंडोनेशिया मानते हैं जहां चोलवंशीय राजाओं की रसोइयों में इसे पकाने वाले भारतीय रसोइये अपने साथ इसकी रेसिपी लेकर हिंदुस्‍तान ....

कैसा है ब्लैक होल

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on कैसा है ब्लैक होल
माना जाता है कि इस ब्रह्मांड की सभी मंदाकिनियों (गैलेक्सी) के केंद्र में ब्लैक होल हैं। ये असल में वे तारे हैं जो मरने यानी खत्म होने की प्रक्रिया में है। अरबों साल बाद हमारा अपना सूर्य भी अपनी सारी ऊर्जा झोंककर पहले तो श्वेत वामन (व्हाइट ड्वार्फ) तारे में तब्दील होगा और उसके बाद ब्लैक होल में बदल जाएगा। ....

कहां है ब्लैक होल

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on कहां है ब्लैक होल
खगोल वैज्ञानिकों की अंतरराष्ट्रीय टीम ने ब्लैक होल की मौजूदगी का पहला प्रत्यक्ष दृश्य प्रमाण प्रस्तुत किया किया है। यह ब्लैक होल पृथ्वी से करीब 5.5 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर मेसियर 87 नामक आकाशगंगा के मध्य में स्थित है।अभी तक हम ब्लैक होल की जो तस्वीरें देख रहे थे वे सिर्फ काल्पनिक थीं। ....

व्रत-पर्व

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
21 अप्रैल- शक वैशाख प्रारंभ, शब-ए-बारात, ईस्टर संडे। 22 अप्रैल- श्री गणेश चतुर्थी व्रत। 23 अप्रैल- सती अनुसूया जयंती। 25 अप्रैल- कोकिला षष्ठी (मिथिला)। 26 अप्रैल- गुरु अर्जुन देव प्रकाश पर्व 27 अप्रैल- श्री शीतलाष्टमी व्रत, कालाष्टमी।                                                 -सत्यव्रत बेंजवाल  

नींव का पत्थर

Posted On April - 21 - 2019 Comments Off on नींव का पत्थर
जीवन की अविस्मरणीय स्मृतियों में एक होती है स्कूल में पहला दिन । एक लम्बे अरसे के बाद उस दिन के विषय में लिखते हुए आज भी मुझे रोमांच सा हो रहा है । हमारे जमाने में छह साल के बच्चे को पहली कक्षा में दाखिला मिलता था । पहले दिन मेरी मां मुझे स्कूल छोड़ कर आई । ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.