प्रवासी पक्षियों की नैसर्गिक यात्राएं !    सर्दी की गर्मागर्म सौगातें !    खाते-खाते दें सीख !    अनोखा जन्मदिन !    कल करे सो आज कर !    थोड़ा-सा बचपना कर लें !    बदतर नर्सिंग होने पर बहाना नहीं चलेगा !    सफाई से दिल का रिश्ता !    वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    व्रत-पर्व !    

लहरें › ›

खास खबर
प्रवासी पक्षियों की नैसर्गिक यात्राएं

प्रवासी पक्षियों की नैसर्गिक यात्राएं

रमेश चन्द्र त्रिपाठी अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी से दूर कुछ दिन कहीं प्रवास पर जाकर सुकून के दिन बिताना किसे अच्छा नहीं लगता? बदलाव की यह नैसर्गिक आकांक्षा सिर्फ इनसानों में ही नहीं अपितु पक्षियों में भी पाई जाती है। तेज बारिश एवं कड़ी धूप में भी हजारों मील का सफर ...

Read More

सर्दी की गर्मागर्म सौगातें

सर्दी की गर्मागर्म सौगातें

दीप्ति अंगरीश सर्दियों में गर्मागर्म खाने का ही नहीं गर्म तासीर वाले खाने के भी बहुत फायदे हैं। इससे शरीर की इम्युनिटी बढ़ती है और रोग पास नहीं फटकते। घीया का हलवा सामग्री : 250 ताजा घीया, एक चम्मच घी, पाव चम्मच इलायची पाउडर, पाव कप नारियल बुरादा, पाव कप मेवे की कतरन, ...

Read More

खाते-खाते दें सीख

खाते-खाते दें सीख

सुभाष चंद्र क्या कर रहो हो बेटा? इस तरह से खाना नहीं खाते। पूरी कोशिश करो कि खाना खाते समय मुंह से आवाज नहीं के बराबर हो। ये गुड मैनर्स नहीं है। ठीक है मम्मी। आगे से ध्यान रखूंगा। संभव है मां-बेटा के बीच ऐसी बातचीत आपने भी सुनी हो। आपके घर ...

Read More

अनोखा जन्मदिन

अनोखा जन्मदिन

गोविंद भारद्वाज सघन वन में इस साल कड़ाके की सर्दी पड़ रही थी। किंग लायन अपने परिवार के साथ शाही गुफा में बड़े मजे से रह रहा था। उसके बड़े बेटे यानी कि सघन वन के युवराज लोनी का जन्मदिन भी आने वाला था। ऐसी ठंड को देखते हुए किंग लायन ...

Read More

कल करे सो आज कर

कल करे सो आज कर

देवेन्द्रराज सुथार पिछले साल डाक विभाग ने अखिल भारतीय पत्र लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया था। प्रतियोगिता के लिए पत्र भेजने की अंतिम तिथि एक महीने बाद की थी। सो, मैंने प्रतियोगिता के विज्ञापन की कतरन किताब के पन्नों के बीच में डालते हुए सोचा कि बाद में पत्र लिख दूंगा, ...

Read More

थोड़ा-सा बचपना कर लें

थोड़ा-सा बचपना कर लें

शिल्पा जैन सुराणा हंसता, खिलखिलाता, मुस्कुराता बचपन, कितना प्यारा लगता है। जब भी किसी बच्चे को खुलकर मुस्कुराते देखते हैं तो चेहरे पर अनायास ही एक मुस्कान आ जाती है और दिल में एक ख्याल भी, हम भी अगर बच्चे होते। तो क्यों नही थोड़ा बचपना भी कर लिया जाए, माना ...

Read More

बदतर नर्सिंग होने पर बहाना नहीं चलेगा

बदतर नर्सिंग होने पर बहाना नहीं चलेगा

पुष्पा गिरिमाजी मुकम्मल नर्सिंग सेवा उपलब्ध नहीं कराने के लिए क्या मैं एक अस्पताल को जिम्मेदार ठहरा सकता हूं। कैंसर पीड़ित मेरी पत्नी इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती थी। खराब नर्सिंग देखभाल के चलते उनमें कई और जटिलताएं आ गईं और अंतत: उनकी मौत हो गई। मेरी शिकायत के ...

Read More


  • विवाह से पहले यादगार लम्हे
     Posted On December - 8 - 2019
    शादी-ब्याह की जो राह रस्मों-रीतियों से होकर गुज़रती थी, उसमें कॉकटेल, मेहंदी नाइट, बैचलर पार्टियों के बाद प्री-वेडिंग शूट्स भी....
  • सफाई से दिल का रिश्ता
     Posted On December - 8 - 2019
    इन दिनों टेंशन,डिप्रेशन व एंग्जायटी जैसी मानसिक बीमारियां हर कोई को परेशान कर रही हैं। हम अक्सर झुंझलाहट, तनाव और....
  • बदतर नर्सिंग होने पर बहाना नहीं चलेगा
     Posted On December - 8 - 2019
    मुकम्मल नर्सिंग सेवा उपलब्ध नहीं कराने के लिए क्या मैं एक अस्पताल को जिम्मेदार ठहरा सकता हूं। कैंसर पीड़ित मेरी....
  • खाते-खाते दें सीख
     Posted On December - 8 - 2019
    क्या कर रहो हो बेटा? इस तरह से खाना नहीं खाते। पूरी कोशिश करो कि खाना खाते समय मुंह से....

प्रकाश पर्व का यथार्थ

Posted On October - 27 - 2019 Comments Off on प्रकाश पर्व का यथार्थ
दीवाली कहें या ज्योति पर्व, प्रकाश पर्व कहें या दीपोत्सव, शरद ऋतु के प्रमुख पर्व के रूप में जानी जाती है। इस पर्व पर हमारे यहां ज्योति और प्रकाश की पूजा की प्राचीन परंपरा है। वेदों से लेकर आज तक हमारे देश में किसी न किसी रूप में भगवान सूर्य की पूजा की जाती रही है। मां गायत्री मंत्र यथार्थ में सूर्योपासना का ही मंत्र ....

टालमटोल की आदत बुरी

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on टालमटोल की आदत बुरी
मुझे शुरू से ही लेखन में रुचि रही थी। कॉलेज में होने वाली हर लेखन कला जैसे पोस्टर मेकिंग, स्लोगन लेखन, निबन्ध लेखन आदि में मैं बढ़-चढ़ कर भाग लेती। और ये बात भी पक्की रहती कि हर बार मुझे कोई न कोई पुरस्कार तो मिलता ही था। ....

सच बोलने का इनाम

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on सच बोलने का इनाम
मेरा नये स्कूल में पहला दिन था। मेरा मन बहुत घबराया हुआ था क्योंकि नया माहौल, नये बच्चे, नयी क्लास और नये शिक्षक व शिक्षिकायें। जाने सब कैसे होंगे? स्कूल की बस में बैठते समय मां ने हिदायत दी थी, ‘शांत रहना! कम बातें करना! कोई शैतानी मत करना! देखो पहला इंप्रेशन हमेशा बना रहता है।’ ....

बच्चों को भी बनाएं जागरूक

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on बच्चों को भी बनाएं जागरूक
बच्चों को शुरू से समझाएं कि सड़क पर फैली गंदगी के लिए सरकार को कोसने से काम नहीं चलेगा, सबसे पहले वे खुद कूड़ा इधर उधर फेंकने से तौबा करें और साफ सफाई के लिए अपने मित्रों, परिजनों, मोहल्लावासियों, सहकर्मियों एवं सहपाठियों को भी प्रेरित करें। ....

आई दीवाली

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on आई दीवाली
आई दीवाली, ख़ुशी मनाओ। हर घर आंगन, दीप जलाओ।। ....

मन की भी हो मरम्मत

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on मन की भी हो मरम्मत
मन को भी मरम्मत की ज़रूरत है। इसके लिये जि़ंदगी में थोड़ा ठहराव, खुद का साथ और सोच की सही दिशा, मन को नेगेटिव बातों और हालातों से बाहर निकाल लाती है। अपने मन के साथ भी दोस्ती का रिश्ता रखें। ....

इस दिवाली पुराने को नया बनाएं, खुशियां फैलाएं

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on इस दिवाली पुराने को नया बनाएं, खुशियां फैलाएं
दिवाली पर्व नजदीक आते ही सब ओर सफाइयां होनी शुरू हो जाती हैं। घरों से कबाड़ निकाला जाता है और वह एक ढेर में परिवर्तित हो जाता है। इन दिनों तो सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म कर भारत को प्रदूषण मुक्त करने का अभियान जोरों पर है। ....

पर्सनल ट्रेनर का काम करेगा स्मार्ट मिरर

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on पर्सनल ट्रेनर का काम करेगा स्मार्ट मिरर
अच्छी हेल्थ के लिए कसरत का महत्व तो सब जानते हैं। अब इंटरेक्टिव फिटनेस कंपनी मिरर ने आईने की तरह दिखने वाला डिवाइस तैयार किया है। इसमें एलसीडी डिस्प्ले लगा है। यह पर्सनल ट्रेनर की तरह काम करता है। यह डिवाइस न सिर्फ यूज़र को रियल टाइम फिटनेस ट्रेनिंग देगा बल्कि यूज़र को कोच की तरह एक्सरसाइज़ करने के लिए मोटिवेट भी करेगा। ....

मिठाई-फल डाल कर घर लायें नया बर्तन

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on मिठाई-फल डाल कर घर लायें नया बर्तन
दिवाली की शुरुआत का पर्व धनतेरस इस बार दो दिन होगा। शुक्रवार 25 अक्तूबर को शाम करीब 7 बजे से शनिवार दोपहर बाद 3:47 बजे तक त्रयोदशी रहेगी। धनतेरस पर धन्वंतरि देव की पूजा का विधान है। यह दिन खरीदारी के लिए बेहद खास माना जाता है। ....

पढ़ाई में मददगार एप्स

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on पढ़ाई में मददगार एप्स
स्पोर्ट्स और दूसरी एक्टिविटीज के कारण टेस्ट डेट्स, क्विजेज, होमवर्क असाइनमेंट और आने वाले एग्जाम्स का ठीक से ट्रैक रख पाना स्टूडेंट्स के लिए कई बार मुश्किल हो जाता है। ऐसे में उनके लिए स्टडी पर फोकस करने के लिए प्लानिंग करना जरूरी है ताकि डेली रूटीन को व्यवस्थित रखा जा सके। ....

संतान की मंगलकामना का व्रत अहोई अष्टमी

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on संतान की मंगलकामना का व्रत अहोई अष्टमी
करवा चौथ के चार दिन बाद और दिवाली से एक सप्ताह पहले मनाई जाती है ‘अहोई अष्टमी’। कार्तिक कृष्ण अष्टमी को महिलाएं अपनी संतान की दीर्घायु, जीवन में समस्त संकटों से उनकी रक्षा के लिए इस दिन व्रत रखती हैं। ....

अनुशासन और कर्तव्य

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on अनुशासन और कर्तव्य
अनुशासन से मतलब सख्त नियम और कायदे नहीं है। अनुशासन से मतलब है किसी भी कार्य को उचित प्रकार और समझदारी से करना। अनुशासन का हमारे जीवन में क्या महत्व है, यह जानना बच्चों के लिए भी आवश्यक है। यह सीख हमें बच्चों को बचपन से देनी चाहिए। अनुशासन और कर्तव्य वह सीख है जो जीवन भर काम आती है। ....

स्वाद में पोषण का तड़का

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on स्वाद में पोषण का तड़का
त्योहारों के सीज़न में अक्सर हम गरिष्ठ भोजन खाते हैं। लज़ीज व्यंजन ज़रूर खाएं लेकिन उसमें पोषण को नज़रअंदाज़ बिल्कुल न करें। इसलिए खानपान में उन चीजों को ज़रूर शामिल कीजिए, जो आपके पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखती हैं। ....

आरोग्यता का अमृत धनतेरस

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on आरोग्यता का अमृत धनतेरस
दीपावली के रूप में विख्यात महापर्व स्वास्थ्य चेतना जगाने के साथ शुरू होता है। दिवाली के पंच पर्वों की शुरुआत होती है धन्वंतरि जयंती से। लोग इसे धनतेरस भी कहते हैं और इसका संबंध धन−वैभव से जोड़ते हैं। यह आरोग्य के देवता धन्वंतरि का अवतरण दिवस है। ....

दादी का चश्मा

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on दादी का चश्मा
पिछले सप्ताह पारुल की दादी का चश्मा टूट गया और तब से वो बहुत परेशान थी। सुबह पूजा के समय वो प्रतिदिन गीता और सुन्दर कांड का पाठ करती थी पर अब बिना चश्मे के पढ़ना सम्भव न था। दो-तीन दिन पहले उन्होंने बेटे से कहा भी था कि बेटा-मेरा चश्मा बनवा दे। ....

सर्दी में गुनगुनी घुमक्कड़ी

Posted On October - 20 - 2019 Comments Off on सर्दी में गुनगुनी घुमक्कड़ी
घुमक्कड़ी के लिए अच्छे दिन शुरू होते हैं अब! पसीना छुड़ाती गर्मी विदा ले चुकी है और बारिश भी थक चुकी है। शरद के खुशनुमा मौसम ने दस्तक दे दी है। अगले कुछ महीनों में त्योहारों की रेलमपेल, मौसम की नरममिज़ाजी, कुहासे वाली सर्दी, कोहरे की सफेद झालर के उस पार का रोमांस साकार होने को है। ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.