सरकार ने 38,900 करोड़ रुपये से लड़ाकू विमानों, मिसाइल सिस्टम की खरीद को दी मंजूरी !    मोदी ने पुतिन से की बात, द्विपक्षीय मुद्दों पर हुई चर्चा !    मुंबई हवाईअड्डा घोटाला : सीबीआई के मुंबई, हैदराबाद में जीवीके समूह के कार्यालयों में छापे !    इस वर्ष राज्यों को कलशों में भरकर भेजा जाएगा गंगाजल! !    आकाशीय बिजली गिरने से 5 की मौत, 12 झुलसे !    नीट, जेईई को लेकर स्थिति की समीक्षा करेगी कमेटी !    मोबाइल फोन से चीनी ऐप डिलीट करो, मुफ्त मास्क लो! !    हमने चीन पर किया ‘डिजिटल स्ट्राइक’ : रविशंकर प्रसाद !    कांवड़ यात्रा के लिए हरिद्वार पहुंचे तो 14 दिन के लिए खुद के खर्च पर होंगे क्वारंटीन‍! !    1948 में लगातार 5 पारियों में शतक का अनोखा रिकार्ड अब भी सर एवर्टन के नाम! !    

लहरें › ›

खास खबर
प्रभु से मिलाप का मार्ग प्रेम और श्रद्धा

प्रभु से मिलाप का मार्ग प्रेम और श्रद्धा

संत राजिन्दर सिंह जी महाराज प्रभु के प्रति प्रेम और श्रद्धा एक शब्दहीन अवस्था है। यह ऐसा अनुभव है जो आत्मा के स्तर पर ही किया जाता है। प्रभु के प्रति प्रेम और श्रद्धा, हमारी आत्मा के प्रभु से मिलाप का मार्ग है। जरूरत है इसे विकसित करने की। इसके लिए ...

Read More

झिरकेश्वर महादेव अरावली की गोद में पांडवकालीन तपोभूमि

झिरकेश्वर महादेव अरावली की गोद में पांडवकालीन तपोभूमि

देशपाल सौरोत प्राचीन झीरी वाला शिव मंदिर का अनूठा इतिहास है। हरियाणा-राजस्थान बार्डर पर फिरोजपुर झिरका में प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण अरावली की वादियों की गोद में है यह मंदिर। मान्यता है कि पांडवों ने अज्ञातवास के दौरान इस रमणीक स्थल पर पूजा-अर्चना कर शिवलिंग की स्थापना की थी। तभी से ...

Read More

बांस का आशियाना

बांस का आशियाना

पर्यावरण को लेकर जताई जा रही चिंताओं में कंक्रीट के जंगलों का तेजी से बढ़ना और हरियाली का उजड़ना शामिल है। विशेषज्ञ कहते हैं कि निर्माण कार्य में अगर बांस का इस्तेमाल बढ़ाया जाये तो इसके दोहरे फायदे हैं। बांस तेजी से बढ़ता है और इसे काटने में कोई कानूनी ...

Read More

धर्म-अध्यात्म का योग

धर्म-अध्यात्म का योग

घनश्याम बादल योग, धर्म और अध्यात्म को अक्सर अलग-अलग माना जाता है। योग का संबंध भौतिक शरीर को पुष्ट करने अथवा शारीरिक व्याधियों के उपचार तक सीमित मान लिया जाता है। वहीं, धर्म को प्राय: किसी विशेष पद्धति से पूजा-पाठ अथवा कर्मकांड मान लिया गया है और अध्यात्म को दूसरे लोक ...

Read More

6 वक्री ग्रहों के बीच आज दुर्लभ सूर्य ग्रहण

6 वक्री ग्रहों के बीच आज दुर्लभ सूर्य ग्रहण

मदन गुप्ता सपाटू ज्योतिष के अनुसार आज का सूर्य ग्रहण दुर्लभ है। यह ग्रहण मिथुन राशि में लग रहा। इस दौरान 6 ग्रह- बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु और केतु वक्री रहेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह स्थिति शुभ नहीं मानी जा रही। इसके अलावा अशुभ गण्डयोग, पूर्णकाल सर्पयोग, षडाष्टक योग ...

Read More

ज़िंदगी हैरान हूं मैं...

ज़िंदगी हैरान हूं मैं...

चकाचौंध भरी फिल्मी दुनिया को बाहर से देखने पर तो लगता है कि यहां सबकुछ ‘शानदार’ है, लेकिन छन-छनकर आई जानकारियों और सुशांत सिंह राजपूत सरीखे कई कलाकारों के खुद को खत्म कर लेने की भयावह खबरों से ‘हकीकत’ कुछ और ही लगती है। अवसाद भयानक बीमारी के रूप में ...

Read More

कोरोना से जंग विज्ञापनों से मत होइये गुमराह

कोरोना से जंग विज्ञापनों से मत होइये गुमराह

उपभोक्ता अधिकार पुष्पा गिरिमाजी हाल के दिनों में मैंने कुछ ऐसे विज्ञापन देखे हैं हो जो उपभोक्ताओं को खतरनाक कोरोनावायरस से बचाने का वादा करते हैं। उनमें से ज्यादातर में उनके आयुर्वेदिक या हर्बल होने का दावा किया जाता है और लोग उन्हें इस विश्वास के साथ खरीद रहे हैं कि ये ...

Read More


व्रत-पर्व

Posted On May - 10 - 2020 Comments Off on व्रत-पर्व
10 मई : श्री गणेश चतुर्थी व्रत 12 मई : बड़का मंगल व्रत, हनुमान पूजा (लखनऊ) 14 मई : ज्येष्ठ संक्रांति 15 मई : श्री शीतलाष्टमी व्रत, त्रिलोचनाष्टमी, मुस्लिम-शहादते हजरत अली -सत्यव्रत बेंजवाल  

व्रत-पर्व

Posted On May - 3 - 2020 Comments Off on व्रत-पर्व
3 मई : मोहिनी एकादशी व्रत (स्मार्त), लक्ष्मी नारायण एकादशी (उड़ीसा), केवल ज्ञान दिवस (जैन), मेला चकराता (देहरादून, उ.खं.) 4 मई : मोहिनी एकादशी व्रत (वैष्णव), त्रिस्पर्शा महाद्वादशी, परशुराम द्वादशी, रुक्मिणी द्वादशी 5 मई : भौम प्रदोष व्रत, देव दामोदर तिथि (असम) 6 मई : श्री नृसिंह जयंती, श्री सत्यनारायण व्रत, श्री कूर्म जयंती (सायं व्यापिनी) ओंकारेश्वर यात्रा 7 मई : वैशाख पूर्णिमा, श्री बुद्ध जयंती, श्री 

जिंदगी में तनाव बढ़ाता है छत पर रखा कबाड़

Posted On May - 3 - 2020 Comments Off on जिंदगी में तनाव बढ़ाता है छत पर रखा कबाड़
भारतीय परंपरा में घर-आंगन की सफाई को विशेष महत्व दिया गया है। दुकानदार सुबह अपनी दुकान के आगे स्वयं पानी डाल कर प्रवेश द्वार को साफ करते थे। घर के आंगन को सुबह साफ किया जाता था। घर में प्रवेश से पहले जूते उतारकर, हाथ-पैर धोकर ही अंदर आते थे। स्वच्छता का संबंध हमारे शारीरिक ही नहीं, मानसिक स्वास्थ्य से भी है। ....

श्रीकृष्ण ने कहा- देवर्षियों में नारद हूं मैं

Posted On May - 3 - 2020 Comments Off on श्रीकृष्ण ने कहा- देवर्षियों में नारद हूं मैं
प्रभावशाली वक्ता। मेधावी नीतिज्ञ। कवि। समस्त लोकों के समाचार जानने में समर्थ। समस्त शास्त्रों में प्रवीण। सद‍्गुणों के भंडार। सबके हितकारी और सर्वत्र गति वाला व्यक्ति। ये हैं नारद की विशेषताएं। टेलीविजन या फिल्मों में दिखायी जाने वाली छवि से एकदम अलग। श्रीमद्भागवत‍् के दशम अध्याय के 26वें श्लोक में स्वयं भगवान श्रीकृष्ण ने इनकी महत्ता स्वीकार करते हुए कहा है, ‘देवर्षीणाम‍् च नारदः।’ ....

जीवन बीमा सही जानकारी देकर पाएं लाभ

Posted On May - 3 - 2020 Comments Off on जीवन बीमा सही जानकारी देकर पाएं लाभ
आपको पता होना चाहिए कि बीमा का अनुबंध पूरे विश्वास पर आधारित है और उपभोक्ता से यह अपेक्षा की जाती है कि वह पॉलिसी खरीदते वक्त आवेदन पत्र में अपने स्वास्थ्य से संबंधित सभी तथ्यों का खुलासा करे और सभी प्रश्नों का उत्तर सच्चाई और ईमानदारी से दे। ऐसा करने में विफल रहने पर बीमा कंपनी दावेदार को पॉलिसी के लाभों से वंचित कर सकती ....

कोरोना का इलाज : प्लाज़्मा थैरेपी या हर्ड इम्युनिटी

Posted On May - 3 - 2020 Comments Off on कोरोना का इलाज : प्लाज़्मा थैरेपी या हर्ड इम्युनिटी
मानव सभ्यता को जिन चुनौतियों से सबसे ज्यादा जूझना पड़ता है, वे आपदाएं ही होती हैं। इन आपदाओं में से कुछ के बारे में दावा है कि उन्हें खुद इंसानों ने रचा है। जैसे कि ग्लोबल वॉर्मिंग से पैदा होने वाला जलवायु परिवर्तन। पर कई आपदाएं ऐसी हैं जो खुद कायनात ने रची हैं और उनके ज़रिए प्रकृति हमारा इम्तिहान लेती है। ....

ज़िंदगी ऑनलाइन

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on ज़िंदगी ऑनलाइन
मानव सभ्यता के इतिहास में यह पहला मौका है, जब दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में ट्रेन, बस-कार और विमान सेवाएं बंद हैं लेकिन ज़िंदगी चल रही है। घर-दफ्तर के बहुत सारे काम हैं जो पहले कहीं आए-जाए बिना मुमकिन नहीं थे, पर अब घर बैठे-बैठे हो रहे हैं। शायद ही कोई स्कूल, कॉलेज या यूनिवर्सिटी ऐसी हो जहां छात्र और शिक्षक वास्तविक रूप में ....

व्रत-पर्व

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on व्रत-पर्व
26 अप्रैल : श्री मातङ्गी जयंती 28 अप्रैल : आद्य गुरु श्री शंकराचार्य जयंती, संत सूरदास जयंती 29 अप्रैल : श्री रामानुजाचार्य जयंती, चंदन षष्ठी (बंगाल) 30 अप्रैल : श्री गंगा-जयंती, गुरु-पुष्य योग सर्वार्थ सिद्ध योग, मेला गंगा सप्तमी (हरिद्वार) 1 मई : जानकी (सीता) जयंती, श्री बगुलामुखी जयंती (अर्द्धरात्रि-व्यापिनी), श्री दुर्गाष्टमी, श्री शीतलाष्टमी -सत्यव्रत बेंजवाल  

संसार से मोक्ष की यात्रा

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on संसार से मोक्ष की यात्रा
अक्षय तृतीया पर्व का न केवल सनातन, बल्कि जैन परंपरा में भी विशेष महत्व है। इसका लौकिक और लोकोत्तर, दोनों ही दृष्टियों में महत्व है। यह किसानों, कुंभकारों और शिल्पकारों के लिए बड़े महत्व का दिन है। प्राचीन समय में यह परंपरा थी कि इस दिन राजा अपने देश के विशिष्ट किसानों को राज दरबार में आमंत्रित करता था और उन्हें अगले वर्ष बुवाई के ....

प्रह्लाद की कामना

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on प्रह्लाद की कामना
दैत्यराज हिरण्यकश्यप के वध के बाद भी नृसिंहभगवान का प्रचंड क्रोध शांत नहीं हुआ था। विकट गर्जना करते अंगार नेत्र नृसिंहभगवान दैत्यराज के सिंहासन पर बैठ गये। शंकर जी और ब्रह्माजी के साथ सभी देवता वहां पधारे। सबने अलग-अलग स्तुति की। लेकिन कोई परिणाम नहीं हुआ। ब्रह्माजी डरे कि प्रभु का क्रोध शांत नहीं हुआ तो पता नहीं क्या अनर्थ होगा। ....

आज अक्षय तृतीया : रोहिणी नक्षत्र, 6 विशेष योग

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on आज अक्षय तृतीया : रोहिणी नक्षत्र, 6 विशेष योग
आज अक्षय तृतीया है। सनातन धर्मियों का यह पर्व अबूझ व स्वयंसिद्ध मुहूर्त भी है। अक्षय का अर्थ है अविनाशी, अनंत, जिसका क्षय न हो। मान्यता है कि इस दिन जप, दान, स्नान, यज्ञ जैसे कर्मों का अक्षय फल होता है। यह एक सर्वसिद्ध मुहूर्त माना जाता है, जिसमें पंचांग देखे बगैर कोई भी मांगलिक शुभ कार्य किया जा सकता है। ....

कहन लागे मोहन मैया-मैया…

Posted On April - 26 - 2020 Comments Off on कहन लागे मोहन मैया-मैया…
सूरदास भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति और प्रेम के अनन्य गायक हैं। अपने साहित्य में कृष्ण की बाल और प्रेम लीला का वर्णन जिस समर्पण और तन्मयता से किया है वह उनकी विलक्षण प्रतिभा का परिचायक है। अपनी उर्वर कल्पना शक्ति, वाक‍् चातुर्य और प्रतिभा के बलबूते उन्होंने कृष्ण के बाल्य और प्रेमी रूप का अति सुंदर, सरस, सजीव और मनोवैज्ञानिक वर्णन किया है। ....

डराये महामारी रिश्तों पर हिंसा भारी

Posted On April - 19 - 2020 Comments Off on डराये महामारी रिश्तों पर हिंसा भारी
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के कारण दुनिया भर के अधिकांश देशों में हुए लॉकडाउन के दौरान बढ़ती घरेलू हिंसा पर चिंता प्रकट की है । हाल ही में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा था कि चौबीस मार्च को लॉकडाउन की घोषणा के बाद उनके पास घरेलू हिंसा की लगातार शिकायतें आ रही हैं । अब तक मेल से 69 शिकायतें ....

व्रत-पर्व

Posted On April - 19 - 2020 Comments Off on व्रत-पर्व
19 अप्रैल : ग्रीष्म ऋतु प्रारंभ 20 अप्रैल : सोम प्रदोष व्रत 21 अप्रैल : मास शिवरात्रि व्रत, शक वैशाख प्रारंभ 22 अप्रैल : वैशाख अमावस (स्नानदान, पितृकार्येषु), मेला पिंजौर (हरियाणा) 23 अप्रैल : अमावस (स्नानदानादि प्रात: 7.56 तक) 24 अप्रैल : वैशाख शुक्ल पक्ष प्रारंभ, चंद्रदर्शन (30 मुहूर्ति) 25 अप्रैल : भगवान परशुराम जयंती, रमज़ान (मुस्लिम) मास प्रारंभ, त्रिपुर योग (सुबह 11.52 तक) -सत्यव्रत बेंजवाल  

जयंती 25 अप्रैल

Posted On April - 19 - 2020 Comments Off on जयंती 25 अप्रैल
पुराणों में विष्णु भगवान के चौबीस अवतारों का उल्लेख है, परंतु मुख्य अवतार दस ही स्वीकार किए जाते हैं। भृगुवंशी श्री परशुराम भगवान विष्णु के छठे अवतार थे। श्रीमद‍्भगवद‍्गीता में भगवान के अवतरण का उद्देश्य धर्म संस्थापन बताया गया है- ....

कितने विश्वकर्मा, कितने इंद्र!

Posted On April - 19 - 2020 Comments Off on कितने विश्वकर्मा, कितने इंद्र!
एक बार इंद्र ने एक बेहद विशाल महल बनवाना आरंभ किया। इस दौरान पूरे सौ वर्ष तक उन्होंने विश्वकर्मा को छुट्टी नहीं दी। विश्वकर्मा बहुत घबराये। वे ब्रह्माजी की शरण में गये। ब्रह्माजी ने भगवान से प्रार्थना की। भगवान एक ब्राह्मण बालक का रूप धारण कर इंद्र के पास पहुंचे और कहने लगे- ‘देवेंद्र! मैं आपके अद‍्भुत भवन निर्माण की बात सुनकर यहां आया हूं। ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.