मनरेगा की दिहाड़ी में होगा 63 रुपये का इजाफा !    एप इंस्टाल करवा लगाया 45 हजार का चूना !    बिना लागत के दूर होगा हरियाणा का जल संकट !    47 किलो के गोले को 43 किमी तक फेंक सकती है यह तोप !    निर्भया कांड : सजा पर स्टेटस रिपोर्ट तलब !    गणतंत्र दिवस पर आतंकी साजिश नाकाम, 5 गिरफ्तार !    सदस्य देशों ने कश्मीर को बताया द्विपक्षीय मामला !    हिरासत से रिहा हुए 5 कश्मीरी नेता !    घर नहीं, जेल में ही रहेंगे एचडीआईएल प्रवर्तक !    1.47 लाख करोड़ बकाया, टेलीकॉम कंपनियों की याचिका खारिज !    

लहरें › ›

खास खबर
जब खाने में नखरे करे छोटू

जब खाने में नखरे करे छोटू

शिखर चंद जैन अक्सर नन्हे बच्चों की मम्मियां उनके खानपान की आदतों और नखरों से परेशान रहती हैं। 1 से 3 साल तक के बच्चों को खाना खिलाना वाकई बड़ी मेहनत का काम है। अगर आप ज़रा सी सूझबूझ से काम लें और एक्सपर्ट की सलाह पर अमल करें तो आपकी ...

Read More

सच्ची दोस्त हैं किताबें

सच्ची दोस्त हैं किताबें

काजल कपूर कभी मेरी गिनती पढ़ाखू लड़की के तौर पर होती थी। भागमभाग, खेलकूद और प्रतिस्पर्धा से अलहदा भी मेरी एक दुनिया थी। वह दुनिया थी किताबों में रचबस जाने की। हालांकि यह वह दौर था जब हमारे घर में या हाथों में मोबाइल की जगह नहीं थी। तब घर में ...

Read More

फ्री गिफ्ट आपका विशेषाधिकार, उन्हें मांगें

फ्री गिफ्ट आपका विशेषाधिकार, उन्हें मांगें

पुष्पा गिरिमाजी किराने की जिस बड़ी दुकान में हर महीने मैं जाती हूं, उसकी आदत प्रसाधन आदि वस्तुओं के साथ मिलने वाले मुफ्त उत्पाद को नहीं देने की है। उदाहरण के लिए पिछले महीने जब मैं घर लौटी और मैंने अपनी पैकिंग खोली तो मैंने पाया कि उसने उस लिप बाम ...

Read More

कम नहीं किताबों के कद्रदान

कम नहीं किताबों के कद्रदान

अभिषेक कुमार सिंह किताब संग डेट पर चलेंगे? यह सवाल थोड़ा अजीब है पर पुस्तक मेलों से लेकर जयपुर, भोपाल, पटना, कोलकाता, लखनऊ, चंडीगढ़ से लेकर हरिद्वार तक में आयोजित होने वाले लिट-फेस्ट पर नज़र डालें तो लगता है कि किताब के साथ डेट करने के इच्छुक लोगों की संख्या बढ़ती ...

Read More

साझे आसमान में संग-संग उड़ान

साझे आसमान में संग-संग उड़ान

मोनिका शर्मा रिश्तों के रंग बेहद खूबसूरत होते हैं। अनचाही उलझनें ही इसके रंग फीके करती हैं। चाहे मायके-ससुराल के रिलेशन हों या हमारे दोस्त और सहकर्मी। सभी एक स्नेह और सहयोग की अनदेखी डोर से बंधे होते हैं। समझ और सामंजस्य की यह डोर उम्रभर साथ चलती है। स्नेह की डोर ...

Read More

बाल कविता

बाल कविता

उड़ायें पतंग मूंगफली का बीता मौसम घेवर-फीणी का फूला दम जाती सर्दी पौष बड़ों का लुत्फ़ उठायें, झूमें हम-तुम दिन में गर्मी, सर्द रात है ये फागुन की है शुरुआत सर्दी, गर्मी फिर हो बारिश हर मौसम में नई बात है सूरज दक्षिण की ओर चलेगा देरी से अब शाम ढलेगी कुछ दिन की है धूप सुहानी फिर सबको ताप खलेगा पेच ...

Read More

दुर्घटनाएं रोकती नयी टेक्नोलॉजी

दुर्घटनाएं रोकती नयी टेक्नोलॉजी

जानकारी कुमार गौरव अजीतेन्दु ऑटो सेक्टर हमेशा से सुरक्षा को महत्वपूर्ण मानता रहा है और दुनिया की कई कंपनियां इसी बात को ध्यान में रखकर काम कर रही हैं। जर्मनी की इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी क्षेत्र की बहुराष्ट्रीय कंपनी बॉश के इंजीनियर्स का कहना है कि 2022 तक आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) से लैस ...

Read More


पाप का अंत

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on पाप का अंत
बाल कविता दस शीश का दशानन ना एक शीश बचा पाया। राम ने जीत लंका सत्य का परचम फहराया। झूठ कभी जीते ना सामने कभी सच्चाई के। दुष्ट ही सदैव झुके सामने यहां अच्छाई के। जब-जब भी पाप बढ़ा लिया ईश्वर ने अवतार। राम और कृष्ण हुए मिटा दुष्टों का अत्याचार। बच्चों तुम जीवन में भगवान राम सरीखे बनो। राह अपनी नित्य ही सच पर चलने वाली चुनो। फिर न कोई रावण इस धरती पर जिंदा रहे। फिर न दुनिया में कभी अत्याचारी 

देशभर में दशहरे के कई रूप

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on देशभर में दशहरे के कई रूप
दशहरा यानी विजयादशमी मनाया तो देशभर में जाता है, लेकिन इसे मनाए जाने के तौर-तरीकों में काफी भिन्नता है। कुल्लू का दशहरा देशभर में ही नहीं, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विशिष्ट पहचान बना चुका है। इसे देखने के लिए देश-विदेश से हजारों लोग कुल्लू पहुंचते हैं। कुल्लू के दशहरे में न तो रामलीलाएं होती हैं और न ही रावण का पुतला जलाया जाता है। ....

कन्या पूजन के साथ रक्षा का भी लें संकल्प

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on कन्या पूजन के साथ रक्षा का भी लें संकल्प
मदन गुप्ता सपाटू आज दुर्गा अष्टमी सुबह 10:55 बजे तक रहेगी। इसके बाद नवमी शुरू हो जाएगी, जो सोमवार दोपहर 12:38 बजे तक रहेगी। मां दुर्गा का अष्टम स्वरूप महागौरी का है। इसीलिए आठवें नवरात्र को दुर्गाष्टमी कहा जाता है। भगवती का सुंदर, सौम्य, मोहक स्वरूप महागौरी में विद्यमान है। गौर वर्ण के कारण ही माता को महागौरी कहा गया है। अष्टमी पर महागौरी की आराधना के लिए चौकी पर सफेद रेशमी कपड़ा बिछाकर 

नवरात्रि : आज की देवियां

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on नवरात्रि : आज की देवियां
पितृपक्ष के बाद, यानी कि अपने पुरखों की याद, उनका शोक, उसके बाद नौ दिनों का यह उत्सव हमारे समाज की उस परिपाटी को बताता है कि सुख-दुख इसी जीवन के हिस्से हैं। ....

शिकायतें छोड़ें, खुशी से नाता जोड़ें

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on शिकायतें छोड़ें, खुशी से नाता जोड़ें
कुछ लोगों की आदत होती हैै बात-बात पर शिकायत करना। हर बात में मीन-मेख, रोना-धोना, चिढ़ना, चिढ़ाना, आलोचना, कुढ़ना ही शामिल होता है। कई बार यह आदत शख्स को शक्की बना देती है। यही नहीं, हर समय अपना और दूसरों का खून जलाने वालों से निकलती नकरात्मक तरंगों से लोग दूरी बना लेते हैं। नतीजतन, अकेलापन और बीमारियां घेर लेती हैं। रिश्ता केवल समाज से ....

खे‍ल नहीं बच्चों की ‘परवरिश’

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on खे‍ल नहीं बच्चों की ‘परवरिश’
स्नेहा बहुत परेशान रहती है । उसका पांच साल का बेटा डुग्गू बहुत ही शरारती है । खेल - खेल में कई बार बेटे की शरारत स्नेहा पर भारी पड़ जाती है । तंग आकर बेटे को पीट देती है या फिर स्वयं पर आक्रोश करती है । वह बेटे की शरारत पर काबू पाने के हरसंभव प्रयास करती है , मगर विफल रहती है ....

अहिंसा की सीख

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on अहिंसा की सीख
स्कूल में गांधी जयंती के कार्यक्रमों की तैयारी चल रही थी। सभी बच्चे बड़े उत्साहित थे। 2 अक्टूबर वाले दिन सुबह प्रभात फेरी निकलनी थी। जिसमें गांधी जी और उनके अनुयायियों को दिखाया जाना था। साथ ही प्रभातफेरी के बाद गांधी जी के जीवन पर आधारित एक नाटिका का मंचन भी होना था। ....

हर एक पेड़ ज़रूरी होता है

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on हर एक पेड़ ज़रूरी होता है
आज हर ओर पर्यावरण संरक्षण की बात सुनता हूं। कई जगह पौधारोपण की खबरें देखता-पढ़ता हूं। हाल के दिनों में जन्मदिवस के अवसर पर पौधरोपण का संदेश खूब प्रचारित होता है। मगर, गांवों में तो पौधारोपण एक नैसर्गिक प्रक्रिया जैसी है। जिसे जब मन किया और सहूलियत हुई, उसने पौधा लगाया। आज याद आ रहा है सितंबर का वह महीना। इसी महीने में तो गांव ....

शिक्षा की अहमियत

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on शिक्षा की अहमियत
कुछ यादें ताउम्र साथ रहती हैं। उनमें स्कूल के दिन सबसे निराले होते हैं। मुझे अपने स्कूल के सब दिन तो याद नहीं लेकिन जिस दिन पहली बार स्कूल गई, आज भी वो दिन याद है। स्कूल ही नहीं ट्यूशन का पहला दिन भी खास जगह रखता है मेरे लिए। मेरे लिए ट्यूशन क्लास भी कम नहीं थी। बात लगभग 40 साल पुरानी है। आज ....

चूहों की मनमानी

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on चूहों की मनमानी
बाल कविता छोटा चूहा, मोटा चूहा , मन का है खोटा चूहा। खूब करता है शैतानी,, चीजों को पहुंचाये हानि। कपड़ों को कुतरता जाये, चुपके से अनाज खाये। मम्मी थी बड़ी परेशान , सताते थे चूहे शैतान। पापा लाये चूहेदानी , बंद हुई चूहों की मनमानी। हरिन्दर सिंह गोगना  

व्रत-पर्व

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
29 सितंबर- शरद् नवरात्र प्रारंभ, घटस्थापन, महाराजा अग्रसेन जयंती, शैलपुत्री देवी दर्शन 30 सितंबर- चंद्रदर्शन (15 मुहूर्ति), श्री ब्रह्मचारिणी देवी दर्शन 1 अक्तूबर- सफर (मुस्लिम) मास प्रारंभ, श्री चित्रघंटा देवी दर्शन 2 अक्तूबर- उपाङ्ग ललिता व्रत, शुक्र बाल्यत्व समाप्त (सायं 6.12), श्री कूष्माण्डा-दुर्गा देवी दर्शन 4 अक्तूबर- सरस्वती आवाहन मूलभे, विल्व आमंत्रण 5 अक्तूबर- सरस्वती पूजन पूर्वाषाढ़ाभे, 

क्या आप अच्छे मेहमान हैं…

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on क्या आप अच्छे मेहमान हैं…
आज के दौर में बिना पूर्व सूचना के किसी के घर जाना उनके लिये परेशानी का सबब बन सकता है। सभी लोग अपने- अपने जीवन में व्यस्त हैं। अच्छे मेहमान बनने के लिये सभ्य व्यवहार बहुत ज़रूरी है। तभी आप अच्छे, शालीन और विनम्र मेहमानों की श्रेणी में आएंंगे। ....

नवरात्र : दुर्गुणों पर विजय का पर्व

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on नवरात्र : दुर्गुणों पर विजय का पर्व
नवरात्रि एक अवसर है सकल जगत-कारिणी, पराशक्ति की पूजा-उपासना करने का। इन नौ दिनों की पूर्णाहुति होती है विजयादशमी के दिन। ये नौ दिन व्रत-उपवास, साधना-उपासना के लिए होते हैं। आलस्य, काम-क्रोध, अहंकार, ईर्ष्या-द्वेष, अधीरता व अविश्वास– ये सब दुर्गुण साधना के मार्ग में बाधाएं हैं। तप के माध्यम से इन पर विजय पाकर आध्यात्मिक पूर्णता को प्राप्त करना नवरात्रि का उद्देश्य है। ....

उपवास शरीर का शुद्धीकरण

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on उपवास शरीर का शुद्धीकरण
जापान के वैज्ञानिक योशिनोरी ओसुमी को ‘मानव शरीर में ऑटोफेजी’ के लिए 2016 में चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। ‘ऑटोफेजी’ यूनानी भाषा के शब्दों ‘ऑटो’ यानी स्वयं और ‘फेजी’ यानी ‘खा जाना’ को मिलाकर बना है। ‘ऑटोफेजी’ शरीर में होने वाली रीसाइक्लिंग प्रक्रिया को कहते हैं, जिसके फलस्वरूप पुरानी कोशिकाएं नष्ट होती हैं और नयी बनती हैं। ....

व्रत के व्यंजन

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on व्रत के व्यंजन
नवरात्रि के दौरान पूरे 9 दिनों का व्रत रखने वालों के सामने परेशानी यह होती है कि शरीर का एनर्जी लेवल बरकरार कैसे रखा जाए। फलों के अलावा कुछ और चीजें भी फलाहारी व्यंजनों में गिनी जाती हैं। जानें इन्हें बनाने की विधि के बारे में.... ....

अद्भुत हैं ये टूल्स

Posted On September - 29 - 2019 Comments Off on अद्भुत हैं ये टूल्स
किसी भी उस दूसरे राज्य, जहां की भाषा हम समझ न पाते हों, वहां जाने पर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसी को ध्यान में रखते हुए गूगल फॉर इंडिया ने ‘गूगल लेंस’ एप में यह सुविधा देनी शुरू कर दी है कि तुम किसी भी भारतीय भाषा में लिखे शब्द और वाक्यों को मलयालम, तमिल, तेलुगु और मराठी में पढ़ सकते ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.