मनरेगा की दिहाड़ी में होगा 63 रुपये का इजाफा !    एप इंस्टाल करवा लगाया 45 हजार का चूना !    बिना लागत के दूर होगा हरियाणा का जल संकट !    47 किलो के गोले को 43 किमी तक फेंक सकती है यह तोप !    निर्भया कांड : सजा पर स्टेटस रिपोर्ट तलब !    गणतंत्र दिवस पर आतंकी साजिश नाकाम, 5 गिरफ्तार !    सदस्य देशों ने कश्मीर को बताया द्विपक्षीय मामला !    हिरासत से रिहा हुए 5 कश्मीरी नेता !    घर नहीं, जेल में ही रहेंगे एचडीआईएल प्रवर्तक !    1.47 लाख करोड़ बकाया, टेलीकॉम कंपनियों की याचिका खारिज !    

लहरें › ›

खास खबर
जब खाने में नखरे करे छोटू

जब खाने में नखरे करे छोटू

शिखर चंद जैन अक्सर नन्हे बच्चों की मम्मियां उनके खानपान की आदतों और नखरों से परेशान रहती हैं। 1 से 3 साल तक के बच्चों को खाना खिलाना वाकई बड़ी मेहनत का काम है। अगर आप ज़रा सी सूझबूझ से काम लें और एक्सपर्ट की सलाह पर अमल करें तो आपकी ...

Read More

सच्ची दोस्त हैं किताबें

सच्ची दोस्त हैं किताबें

काजल कपूर कभी मेरी गिनती पढ़ाखू लड़की के तौर पर होती थी। भागमभाग, खेलकूद और प्रतिस्पर्धा से अलहदा भी मेरी एक दुनिया थी। वह दुनिया थी किताबों में रचबस जाने की। हालांकि यह वह दौर था जब हमारे घर में या हाथों में मोबाइल की जगह नहीं थी। तब घर में ...

Read More

फ्री गिफ्ट आपका विशेषाधिकार, उन्हें मांगें

फ्री गिफ्ट आपका विशेषाधिकार, उन्हें मांगें

पुष्पा गिरिमाजी किराने की जिस बड़ी दुकान में हर महीने मैं जाती हूं, उसकी आदत प्रसाधन आदि वस्तुओं के साथ मिलने वाले मुफ्त उत्पाद को नहीं देने की है। उदाहरण के लिए पिछले महीने जब मैं घर लौटी और मैंने अपनी पैकिंग खोली तो मैंने पाया कि उसने उस लिप बाम ...

Read More

कम नहीं किताबों के कद्रदान

कम नहीं किताबों के कद्रदान

अभिषेक कुमार सिंह किताब संग डेट पर चलेंगे? यह सवाल थोड़ा अजीब है पर पुस्तक मेलों से लेकर जयपुर, भोपाल, पटना, कोलकाता, लखनऊ, चंडीगढ़ से लेकर हरिद्वार तक में आयोजित होने वाले लिट-फेस्ट पर नज़र डालें तो लगता है कि किताब के साथ डेट करने के इच्छुक लोगों की संख्या बढ़ती ...

Read More

साझे आसमान में संग-संग उड़ान

साझे आसमान में संग-संग उड़ान

मोनिका शर्मा रिश्तों के रंग बेहद खूबसूरत होते हैं। अनचाही उलझनें ही इसके रंग फीके करती हैं। चाहे मायके-ससुराल के रिलेशन हों या हमारे दोस्त और सहकर्मी। सभी एक स्नेह और सहयोग की अनदेखी डोर से बंधे होते हैं। समझ और सामंजस्य की यह डोर उम्रभर साथ चलती है। स्नेह की डोर ...

Read More

बाल कविता

बाल कविता

उड़ायें पतंग मूंगफली का बीता मौसम घेवर-फीणी का फूला दम जाती सर्दी पौष बड़ों का लुत्फ़ उठायें, झूमें हम-तुम दिन में गर्मी, सर्द रात है ये फागुन की है शुरुआत सर्दी, गर्मी फिर हो बारिश हर मौसम में नई बात है सूरज दक्षिण की ओर चलेगा देरी से अब शाम ढलेगी कुछ दिन की है धूप सुहानी फिर सबको ताप खलेगा पेच ...

Read More

दुर्घटनाएं रोकती नयी टेक्नोलॉजी

दुर्घटनाएं रोकती नयी टेक्नोलॉजी

जानकारी कुमार गौरव अजीतेन्दु ऑटो सेक्टर हमेशा से सुरक्षा को महत्वपूर्ण मानता रहा है और दुनिया की कई कंपनियां इसी बात को ध्यान में रखकर काम कर रही हैं। जर्मनी की इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी क्षेत्र की बहुराष्ट्रीय कंपनी बॉश के इंजीनियर्स का कहना है कि 2022 तक आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) से लैस ...

Read More


मीरा: गीत विरह के, बात प्रेम की

Posted On October - 13 - 2019 Comments Off on मीरा: गीत विरह के, बात प्रेम की
हैंबड़े आश्चर्य की बात है कि जो ओंकार के साथ एक हो गया हो, उसके स्वर से विरह के गीत क्यों फूटते हैं। यह एक अबूझ पहेली है। केवल मीरा की बात नहीं है, गुरु नानक, गुरु अर्जुनदेव जी और वाजिद भी विरह के गीत गाते हैं। जितने भी संत गाते हैं, सब विरह के गीत गाते । क्या कारण हो सकता है? प्रभु से ....

जीवन मूल्यों के संवर्धक महर्षि वाल्मीकि

Posted On October - 13 - 2019 Comments Off on जीवन मूल्यों के संवर्धक महर्षि वाल्मीकि
महर्षि वाल्मीकि का व्यक्तित्व समाज के लिए कई रूपों में प्रेरणास्रोत है। समाज में जब हृदय परिवर्तन की बात की जाती है, तो सबसे पहले वाल्मीकि को याद किया जाता है। प्रेम में मग्न क्रौंच पक्षी के वध को देखकर, उसके दुख से दुखी होकर, जिस तरह की जिंदगी को उन्होंने अपनाया, वह हृदय परिवर्तन की बड़ी मिसाल के रूप में पेश की जाती है। ....

निज़ाम का खज़ाना 306 करोड़ 120 दावेदार

Posted On October - 13 - 2019 Comments Off on निज़ाम का खज़ाना 306 करोड़ 120 दावेदार
2 अक्तूबर 2019 को ब्रिटेन से एक अच्छी ख़बर आई। राॅयल कोर्ट आॅफ जस्टिस के न्यायमूर्ति मार्क्स स्मिथ ने फैसला सुनाया कि हैदराबाद के सातवें निज़ाम की संपत्ति पाकिस्तान को नहीं मिलेगी। यूके हाईकोर्ट ने निर्णय किया कि पाकिस्तान, बैंक में जमा तीन करोड़ 50 लाख पौंड निज़ाम हैदराबाद के वंशजों को वापिस करे। वर्ष 2013 से पाकिस्तान सरकार ने ब्रिटिश उच्च अदालत में अर्जी ....

काइआ नगर महि करम हरि बोवहु

Posted On October - 13 - 2019 Comments Off on काइआ नगर महि करम हरि बोवहु
सेवा और समर्पण सिख पंथ का आधार है। श्री गुरु अंगद देव जी और श्री गुरु अमरदास जी ने इस आदर्श को संसार के सामने रखा। श्री गुरु रामदास जी ने इन मूल्यों को एक निश्चित दिशा प्रदान की, जिससे कोई भ्रम न रहे और असहाय एवं निर्बल मानव समाज का कल्याण हो सके। ....

नानी से बचत की सीख

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on नानी से बचत की सीख
जब मैं स्कूल में पढ़ा करता था तो लगभग हर तीन से चार महीने के बाद मैं और भाई मां के साथ नानी के पास जाया करते थे। नानी हमें बहुत प्यार करती थी। वहां जाते ही हम खूब खेलते थे और हर रोज शाम को खाने में नानी हम दोनों भाइयों के लिए चूरमा और खीर तैयार करके देती। इसके लिए वह हमारे आने ....

मतभेद हों, मनभेद नहीं

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on मतभेद हों, मनभेद नहीं
रिश्तों में टकराव की स्थिति जब बनती है तो मतभेद हो ही जाते हैं। फिर चाहे वह सहकर्मी से हों, किसी रिश्तेदार से या परिवार से, मतभेद को समझदारी से सुलझाना ज़रूरी है। ऐसा नहीं किया तो पुरानी बातें कब गांठ बनकर मनभेद में बदल जाएं, पता ही नहीं चलता। ....

चंदनवन का दशहरा

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on चंदनवन का दशहरा
चंदन वन के जानवर बड़े उत्सवधर्मी थे। वो सभी त्योहार धूमधाम से मनाते थे। होली, दीवाली,दशहरा हो या दुर्गा पूजा, सभी पर्वों पर जंगल को खूब सजाया जाता था। जंगल में मेले का आयोजन भी किया जाता था। चंदनवन में बड़े-बड़े झूले लगाए जाते थे। जंगल में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन होता था, जिसमें जंगल के सभी जानवर हिस्सा लेते थे । दशहरे के अवसर ....

अविस्मरणीय यादें

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on अविस्मरणीय यादें
जीवन की अविस्मरणीय यादों में एक होती है स्कूल में पहले दिन की याद। उस जमाने में 5-6 साल के बच्चे को प्रथम कक्षा में एडमिशन मिलता था। पहले दिन मेरी मम्मी मुझे स्कूल छोड़ कर चली गयी। पहला दिन और अजनबी स्कूल में अजनबी बच्चे। एक कमरे में हमें छोटी-छोटी दरियों पर बिठाया गया। ....

जलता रावण हंसता रावण

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on जलता रावण हंसता रावण
एक मोटे अनुमान के अनुसार रामलीला किसी न किसी रूप में भारत भर में मनाई जाती है। दशहरा भी किसी न किसी रूप में पूरे भारत में मनाया जाता है और उत्तर पश्चिम एवं मध्य भारत के हर गांव, कस्बे, नगर, महानगर के हर गली मोहल्ले में लोग अपनी-अपनी ‘रामलीला’ करते हैं। ....

पड़ोसी के बच्चे से न करें तुलना

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on पड़ोसी के बच्चे से न करें तुलना
सौम्या आज सहमी-सहमी है अपने घर में। शाम को पिताजी भी घर आए। लेकिन, उनसे भी बात नहीं कर रही है। आखिर क्या हुआ उसे? पिता जी ने एक बार पूछा। कोई जवाब नहीं दिया सौम्या ने। ....

आत्मज्ञान हैं राम रावण अहंकार

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on आत्मज्ञान हैं राम रावण अहंकार
हम सभी राम, सीता और रावण की कहानियां सुनकर बड़े हुए हैं। श्रीराम, लक्ष्मण और सीता जी को निर्वासित कर दिया गया। फिर वन में रावण ने सीता का अपहरण कर लिया। इसके पश्चात राम की अपनी पत्नी की खोज में एक लंबी साहसिक यात्रा आरंभ हुई। राम का रावण के साथ भीषण युद्ध हुआ और राम को विजय मिली। इसी दिन हम दशहरे का ....

हेल्थ और सिक्योरिटी के इनोवेटिव रास्ते

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on हेल्थ और सिक्योरिटी के इनोवेटिव रास्ते
दिल की बीमारियां हमेशा खतरनाक होती हैं, इसलिए अब इनसे लड़ने के लिए भी टेक्नोलॉजी ने अपने कदम आगे बढ़ा दिए हैं जो भविष्य में होने वाले हार्ट अटैक की जानकारी दे रही है। थी-डी प्रिंटिंग हार्ट से ट्रांसप्लांट के लिए लगी कतार को कम करने की कोशिश जारी है। इतना ही नहीं, सर्च इंजन गूगल भी आंखों के जरिए हृदय रोगियों को पहले ही ....

सोने-चांदी से सजा दुर्ग्याणा मंदिर

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on सोने-चांदी से सजा दुर्ग्याणा मंदिर
अमृतसर में विश्व प्रसिद्ध स्वर्ण मंदिर और जलियांवाला बाग के साथ दुर्ग्याणा मंदिर पर्यटकों की प्राथमिकता होती है। खासकर अाश्विन मास के नवरात्र में। अमृतसर रेलवे स्टेशन के पास स्थित दुर्ग्याणा मंदिर मुख्य रूप से श्री लक्ष्मी नारायण को समर्पित है। इसे शीतला माता मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। स्वर्ण मंदिर की तरह ही यह एक विशाल सरोवर (जिसका क्षेत्रफल 160 ....

स्वाद में सेहत वाला तड़का

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on स्वाद में सेहत वाला तड़का
त्योहारों का मौसम है। ऐसे में मीठा तो हर घर में बनता है। खासकर जब हलवे की बात हो तो इसके अलग-अलग ज़ायके हमारे मुंह में पानी भर देते हैं। ....

बेहतर जीवन मूल्य

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on बेहतर जीवन मूल्य
शिष्टाचार हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण है यह तो आप सभी जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि शिष्टाचार की नींव बच्चे में बचपन से ही रखनी चाहिए। अच्छे शिष्टाचार से बच्चे जीवन के बेहतर मूल्य और सिद्धांत को समझ सकेंगे। गुड मैनर्स या अच्छे शिष्टाचार का महत्व बच्चों के लिए और भी अधिक हो जाता है क्योंकि बच्चे कोमल मन के होने के ....

व्रत-पर्व

Posted On October - 6 - 2019 Comments Off on व्रत-पर्व
6 अक्तूबर- श्री दुर्गाष्टमी, महाष्टमी, अन्नपूर्णा परिक्रमा 7 अक्तूबर- महानवमी, नवरात्र समाप्त, सरस्वती विसर्जन, बौद्धावतार 8 अक्तूबर- विजयादशमी (दशहरा), अपराजिता पूजन आयुध/शस्त्रादि पूजन, माधवाचार्य जयंती, साईं बाबा पुण्यतिथि 9 अक्तूबर- पापांकुशा एकादशी व्रत, भरतमिलाप 10 अक्तूबर- पद्मनाभ द्वादशी 11 अक्तूबर : प्रदोष व्रत -सत्यव्रत बेंजवाल  
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.