वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    लिमिट से ज्यादा रखा प्याज तो गिरेगी गाज !    फिर उठा यमुना नदी पर पुल बनाने का मुद्दा !    कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से बहाल होगी इंटरनेट सेवा !    बर्फबारी ने कई जगह तोड़ी तारबंदी !    सुजानपुर में क्रिकेट सब सेंटर जल्द : अरुण धूमल !    पंजाब में नदी जल के गैर-कृषि इस्तेमाल पर लगेगा शुल्क !    जनजातीय क्षेत्रों में ठंड का प्रकोप जारी !    कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या !    सेना का 'सिंधु सुदर्शन' अभ्यास पूरा !    

राजरंग › ›

खास खबर

  • विधानसभा की रौनक
     Posted On March - 1 - 2019
    महेन्द्रगढ़ वाले पंडितजी अकेले ऐसे नेता हैं, जो विधानसभा में रौनक लगाए रखते हैं। पक्ष और विपक्ष में कितना भी....
  • आयुक्तों की सूचना
     Posted On March - 15 - 2019
    खट्टर काका की सरकार ने लोकसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले राज्य सूचना आयोग में अपने तीन और खासमखास....
  • ‘टेंशन’ में भाई साहब
     Posted On February - 22 - 2019
    इनेलो वाले ‘भाई साहब’ आजकल ‘टेंशन’ में नजर आ रहे हैं। जिन्हें भाई साहब ने बच्चा समझा था, वे बड़ा....
  • काका का रोड-शो
     Posted On March - 29 - 2019
    'खट्टर काका’ लोकसभा चुनाव के लिए सड़कों पर उतर चुके हैं। बेशक, पार्टी ने अभी उम्मीदवारों का फैसला नहीं किया....

कैसा है अम्मा का हाल?

Posted On October - 7 - 2016 Comments Off on कैसा है अम्मा का हाल?
तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता के स्वास्थ्य को लेकर पूरे प्रदेश में असमंजस है। बुखार व डिहाइड्रेशन की शिकायत को लेकर चेन्नई के अपोलो अस्पताल में दाखिल हुए उन्हें दो सप्ताह से अधिक समय हो गया है। इस बीच ऑडियो व वीडियो फार्मेट में उनकी कई झूठी खबरें और तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हुईं। ....

राहुल गांधी ने जाना जया का स्वास्थ्य

Posted On October - 7 - 2016 Comments Off on राहुल गांधी ने जाना जया का स्वास्थ्य
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पिछले कुछ समय से बीमार चल रहीं तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता का हालचाल पूछने आज अचानक यहां अपोलो अस्पताल पहुुंचे और उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के बाद उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की तबीयत सुधर रही है और वह शीघ्र स्वस्थ हो जाएंगी । ....

सियासी गणित बिगाड़ सकता है मराठा आंदोलन

Posted On September - 25 - 2016 Comments Off on सियासी गणित बिगाड़ सकता है मराठा आंदोलन
महाराष्ट्र की राजनीति में एक बार फिर मराठा आरक्षण की आवाज़ गूंजने लगी है। पूरे प्रदेश में अचानक एक ऐसी लहर दिखाई देने लगी है, जिससे यहां की सियासत में उबाल आ गया है। ....

आसान नहीं कावेरी के पानी से लगी आग बुझाना

Posted On September - 25 - 2016 Comments Off on आसान नहीं कावेरी के पानी से लगी आग बुझाना
कावेरी नदी जल विवाद एक बार फिर उफान पर है। कर्नाटक सरकार ने पेयजल संकट का हवाला देकर सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को मानने से इनकार कर दिया है। तमिलनाडु में विपक्ष इस मुद्दे पर विशेष अधिवेशन की मांग कर रहा है। सर्वोच्च न्यायालय इस बात से खफा है कि उसके आदेश के पालन में विधि व्यवस्था संकट का रोड़ा अटकाया जा रहा है। ....

दीदी के एक तीर से दो निशाने

Posted On September - 25 - 2016 Comments Off on दीदी के एक तीर से दो निशाने
पुरानी कहावत है कि राजनीति में न तो कोई स्थायी दोस्त होता है और न ही स्थायी दुश्मन। समय-समय पर यह कहावत सच साबित होती रही है। अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर इसे सच साबित कर दिखाया है। उनके आंदोलन के चलते करीब आठ साल पहले टाटा समूह ने पश्चिम बंगाल के हुगली जिले के सिंगुर से अपनी लखटकिया ....

400 फाइलों के चक्रव्यूह में केजरीवाल

Posted On September - 3 - 2016 Comments Off on 400 फाइलों के चक्रव्यूह में केजरीवाल
दिल्ली के सियासी महाभारत में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 400 फाइलों के चक्रव्यूह में फंसते नजर आ रहे हैं। ये फाइलें दिल्ली सरकार द्वारा लिये गये उन फैसलों से संबंधित हैं, जिनके मामले में उपराज्यपाल नजीब जंग की राय नहीं ली गयी थी। उपराज्यपाल ने सरकार से ये सारी फाइलें तलब कर ली हैं। हाल ही में उपराज्यपाल जंग ने एक तीन सदस्यीय समिति बनाई है। ....

‘अम्मा ब्रांड’ से जयललिता के कई निशाने

Posted On September - 3 - 2016 Comments Off on ‘अम्मा ब्रांड’ से जयललिता के कई निशाने
तमिलनाडु राजनीति में पानीदार चेहरे व पानीदार जुबान की काफी अहमियत है। नौ दशक पार कर जाने के बाद भी करुणानिधी अपनी पानीदार जुबान के चलते अच्छे-अच्छे नौजवानों को मात दे रहे हैं। पानीदार फिटनेस भी तमिल राजनीति में एक पूंजी है मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में स्टालिन व अंबुमनी रामदास अपनी फिटनेस को लेकर काफी संजीदा हैं। ....

क्षत्रपों के अपने-अपने गणपति

Posted On September - 3 - 2016 Comments Off on क्षत्रपों के अपने-अपने गणपति
लालबाग का राजा हो या अंधेरी का राजा या फिर मुंबई के हर इलाके का छोटा बड़ा राजा, गाजे बाजे के साथ सब आज रात तक अपने-अपने खूबसूरत सिंहासन पर विराजमान हो जाएंगे। कल गणेश चतुर्थी है और मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में अगले 11 दिनों तक गणपति बप्पा मोरया की धूम रहेगी। ....

आप के लिए छोटेपुर बड़ी चुनौती

Posted On September - 3 - 2016 Comments Off on आप के लिए छोटेपुर बड़ी चुनौती
पंजाब में सत्ता की दावेदारी का दावा कर रही आम आदमी ंपार्टी (आप) की अंतरकलह ने सियासी घमसान मचा दिया है। पंजाब की सियासत में फैले भ्रष्टाचार और अपराधीकरण में आप ने एक नया पहलू स्टिंग का जोड़ दिया है। लेकिन स्टिंग को आधार बनाकर पार्टी ने पंजाब के संयोजक सु्च्चा सिंह छोटेपुर को दो लाख रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में पद से ....

दीदी नहीं चाहती कम हो उनकी ‘दादागीरी’

Posted On August - 27 - 2016 Comments Off on दीदी नहीं चाहती कम हो उनकी ‘दादागीरी’
श्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस और केंद्र में सरकार चलाने वाली भाजपा के बीच एक बार फिर जमकर तू-तू, मैं-मैं शुरू हो गई है। दीदी यानी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला करते हुए भारत के संघीय ढांचे को ध्वस्त करने का आरोप लगाया है। दीदी ने कहा है कि वे इस मामले पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की राय लेंगी। ....

चुनावी तैयारियों के बीच झटके खाते दल

Posted On August - 27 - 2016 Comments Off on चुनावी तैयारियों के बीच झटके खाते दल
समाजवादी कुनबे में बीच-बीच में असंतोष की आवाजें उठ रही हैं। बसपा में बगावतों का दौर जारी है। भारतीय जनता पार्टी अपनी चुनावी तैयारियों को पूरा नहीं कर पा रही है। कांग्रेस को उम्मीद थी कि उसकी लहर दिखने लगेगी, वह भी कहीं नहीं दिख रही है। ....

सीएम स्वामी को ‘चेले’ की तलाश

Posted On August - 27 - 2016 Comments Off on सीएम स्वामी को ‘चेले’ की तलाश
पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री नारायण स्वामी के नाम में भले स्वामी लगा हो पर राजनीित में गति भक्ति की वजह से होती है। न कि उनके भक्तों को संख्या से। यही वजह है कि मुख्यमंत्री बनने के बावजूद भी उनके भक्तों की संख्या में कोई विस्तार नहीं हुआ। अगर हुआ भी है तो राजनीति से बाहर ही जिसे राजनीतिक भक्त की श्रेणी में नहीं रखा जा ....

कितना कारगर होगा शाह का डैमेज कंट्रोल

Posted On August - 27 - 2016 Comments Off on कितना कारगर होगा शाह का डैमेज कंट्रोल
एक महीने में चार बार भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का गुजरात दौरा यह साबित कर रहा है कि पिछले दो साल में वहां के बिगड़े हालात को काबू में करना और नये मुख्यमंत्री विजय रूपानी को स्थापित करना उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। दलितों के सवाल ने जिस तरह गुजरात को सियासी तौर पर गरमा रखा है और विपक्ष को संजीवनी देने का ....

रेणुका के पानी की राह में सियासी रोड़े

Posted On August - 20 - 2016 Comments Off on रेणुका के पानी की राह में सियासी रोड़े
सुप्रीम कोर्ट में केंद्र की ओर से रेणुका बांध के भूमि अधिग्रहण के लिए 450 करोड़ रुपये देने के हलफनामे से राष्ट्रीय महत्व की इस पन-बिजली परियोजना की कुछ आस बंधी है। लेकिन तीन राज्यों हिमाचल, दिल्ली, हरियाणा और केंद्र के बीच फंसी इस परियोजना की राह इतनी आसान नहीं है। ....

कसीनो की चाल पर चुनाव की बिसात

Posted On August - 20 - 2016 Comments Off on कसीनो की चाल पर चुनाव की बिसात
अगर आप खुलेआम जुआ खेलना चाहते हैं, ड्रग्स का कारोबार देखना चाहते हैं तो देश के सबसे खूबसूरत कहे जाने वाले समुद्री राज्य गोवा आइए। यहां आपको बेहतरीन कसीनो मिल जाएंगे और इसके बहाने फलने-फूलने वाले वे तमाम कारोबार भी जिससे गोवा की आम जनता को तमाम मुश्किलें उठानी पड़ती हैं। ....

बिहार में शराबबंदी किसके लिए

Posted On August - 20 - 2016 Comments Off on बिहार में शराबबंदी किसके लिए
बिहार में राष्ट्रीय जनता दल, जनता दल यूनाइटेड व कांग्रेस की महागठबंधन सरकार है। सरकार की ओर से सबसे बड़ी घोषणा प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी की हुई। लेकिन इसके साथ ही उसकी आलोचना भी शुरू हो गयी। विपक्षियों के साथ-साथ उनकी गठबंधन पार्टी राजद भी उनके साथ नहीं खड़ी है। ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.