चुनाव आयोग की हिदायतों का असर : खट्टर सरकार ने बदले 14 शहरों के एसडीएम !    अस्पताल में भ्रूण लिंग जांच का भंडाफोड़ !    यमुना का सीना चीर नदी के बीचोंबीच हो रहा अवैध खनन !    जाकिर हुसैन समेत 4 हस्तियों को संगीत नाटक अकादमी फेलोशिप !    स्टोक्स को मिल सकती है ‘नाइटहुड’ की उपाधि !    ब्रिटेन में पहली बार 2 आदिवासी नृत्य !    मानहानि का मुकदमा जीते गेल !    शिमला में असुरक्षित भवनों का निरीक्षण शुरू !    पीओके में बाढ़ का कहर, 28 की मौत !    कांग्रेस ने लोकसभा से किया वाकआउट !    

फोकस › ›

खास खबर
जागरूकता और सरकार की गंभीरता से मिलेंगे अच्छे परिणाम

जागरूकता और सरकार की गंभीरता से मिलेंगे अच्छे परिणाम

आफत बनती  आबादी योगेश कुमार गोयल भारत में वर्ष 1951 से जनसंख्या नियंत्रण के लिए परिवार नियोजन कार्यक्रम चल रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद हम जनसंख्या पर नियंत्रण पाने के मामले में अन्य देशों के मुकाबले फिसड्डी साबित हुए हैं। हर साल विश्व जनसंख्या दिवस पर भारत में भी लंबे-चौड़े आश्वासनों का ...

Read More

गरीबी, भुखमरी, शिक्षा और स्वास्थ्य सबसे बड़ी चुनौती

गरीबी, भुखमरी, शिक्षा और स्वास्थ्य सबसे बड़ी चुनौती

आफत बनती  आबादी ज्ञानेन्द्र रावत आज बढ़ती आबादी का विकराल संकट समूची दुनिया के लिए चुनौती है। बढ़ती आबादी सीमित संसाधनों पर बोझ बनती जा रही है। 1987 में दुनिया की आबादी 5 अरब थी। 2018 में यह बढ़कर 7.8 अरब हो गई। इसमें हर साल अस्सी लाख की दर से बढ़ोतरी ...

Read More

व्यवसायीकरण रोकना होगा और परंपरागत जल-स्रोत बचाने होंगे

व्यवसायीकरण रोकना होगा और परंपरागत जल-स्रोत बचाने होंगे

वीणा भाटिया पृथ्वी की सतह का 70 फीसदी भाग पानी से भरा है। लेकिन इसमें से सिर्फ 2 फीसदी ही हमारे उपयोग के लायक है। काफी जल बर्फ के रूप में जमा हुआ है। नदियों, तालाबों और झरनों से मिलने वाला जल महज एक प्रतिशत है। लगातार बढ़ते प्रदूषण के कारण ...

Read More

बड़े संकट की आहट, अब नहीं चेते तो बहुत देर हो जाएगी

बड़े संकट की आहट, अब नहीं चेते तो बहुत देर हो जाएगी

कृष्ण प्रताप सिंह पिछले साल इन्हीं दिनों हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला का भीषण जल-संकट से सामना हुआ। इसके चलते वहां प्रस्तावित अंतर्राष्ट्रीय ग्रीष्मोत्सव स्थगित करना पड़ा। पर्यटकों से वहां न जाने की अपीलें की गईं। कई राज्यों में इस बार भी पेयजल को लेकर ऐसे ही हालात हैं। जानकारों ने ...

Read More

बजट उम्मीदों को मंदी की चुनौती

बजट उम्मीदों को मंदी की चुनौती

आलोक पुराणिक केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण 5 जुलाई को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए पूर्ण बजट पेश करेंगी। फरवरी में तत्कालीन वित्त मंत्री पीयूष गोयल 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश कर चुके हैं, अब नये सिरे से बजट के गुणा-गणित तय होंगे। इस साल एक जून से 27 जून के ...

Read More

सोशल मीडिया जरा बचके

सोशल मीडिया जरा बचके

रेशू वर्मा कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक महिला उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शादी का प्रस्ताव भेजने की बात कर रही थी। इस वीडियो को एक स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कनौजिया ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट करते हुए योगी आदित्यनाथ का ...

Read More

मुफ्त की योजनाओं के लाभांश

मुफ्त की योजनाओं के लाभांश

दक्षिण के राज्यों में मुफ्तखोरी के अलग आयाम हैं। रंगीन टीवी से लेकर मंगलसूत्र तक की व्यवस्था की जाती रही है। पर स्मार्ट नेताओं ने यह भी चिन्हित किया कि मुफ्तखोरी अंतत संस्थानों को तबाह करती है, तो मुफ्तखोरी के बजाय आइटमों की कीमत सस्ती रखने पर विचार किया गया। ...

Read More


हरियाणा : बढ़ रहा कर्ज का मर्ज

Posted On June - 15 - 2017 Comments Off on हरियाणा : बढ़ रहा कर्ज का मर्ज
मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में किसान आंदोलन के तौर पर फूटे जनाक्रोश के लिए जो कारक जिम्मेदार हैं वे हरियाणा में भी उतने गहरे रूप में मौजूद हैं। पिछले तीन साल से हरियाणा में अधिकतर मुख्य फसलों की मंडियों में पिटाई हुई है। न्यूनतम समर्थन मूल्यों पर सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीद नहीं करने के चलते किसानों की फसलें खासकर धान, सरसों, दालें, बाजरा, कपास इत्यादि ....

पंजाब : बजट से बड़ा कर्ज

Posted On June - 15 - 2017 Comments Off on पंजाब : बजट से बड़ा कर्ज
पंजाब की सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी किसानों का पूरा कर्ज माफ करने के वादे के साथ सत्ता में आई है। फिलहाल सरकार ने कृषि लागत एवं मूल्य आयोग के पूर्व चेयरमैन डाॅ. टी. हक्क की अध्यक्षता में कमेटी बनाई है। कमेटी ने दो महीने का समय मांगा है, लेकिन कैप्टन सरकार पर बजट सत्र में ही कर्ज माफी की घोषणा करने का दबाव है। ....

कृषि संकट : आर्थिक कुप्रबंधन की देन है

Posted On June - 15 - 2017 Comments Off on कृषि संकट : आर्थिक कुप्रबंधन की देन है
सच ये है कि हर प्रधानमंत्री देश को कृषि प्रधान बताता है। मगर बजट पेश करने वाला हर वित्त मंत्री बजट में एग्रीकल्चर बाटम पर व उद्योग टाप पर रखता है। लोगों को विश्वास दिलाने को कहता है कि देश कृषि प्रधान है। हम खेती को ऐसा मंच नहीं बना पाये कि खेती देश के लिये लाभकारी साबित हो सके। ....

बिहार में स्कूल प्रणाली का पतन

Posted On June - 8 - 2017 Comments Off on बिहार में स्कूल प्रणाली का पतन
बिहार एक बार फिर गलत कारण से सुर्खियों में है। इस वर्ष भी 12वीं की परीक्षा में टॉप करने वाला छात्र फर्जी निकला। उसकी उम्र छिपाने और परीक्षा दिलाने में स्कूल प्रिंसिपल और उनके पति भी धरे गये। इससे भी ज्यादा, 12वीं कक्षा में 65 प्रतिशत विद्यार्थियों के फेल होने की खबर एक बड़ी आपदा की तरह है। ....

शिक्षा की परीक्षा

Posted On June - 8 - 2017 Comments Off on शिक्षा की परीक्षा
देश की शिक्षा व्यवस्था की वर्तमान स्थिति चिंताजनक है और इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि सरकारी शैक्षणिक संस्थानों की साख लगातार गिरती जा रही है। जिस प्रकार की घटनाएं सामने आ रही हैं वे बेहद चौंकाने वाली हैं। बिहार में 12वीं की परीक्षा में करीब 65 फीसदी विद्यार्थी फेल हो गये। क्यों फेल हो गए, क्योंकि वहां योग्य शिक्षकों का घोर अकाल हो ....

लगातार जीतने की विराट चुनौती

Posted On June - 1 - 2017 Comments Off on लगातार जीतने की विराट चुनौती
आईपीएल खत्म होते ही विभिन्न फ्रेंचाइजी टीमों में एक साथ खेलने वाले खिलाड़ियों की राहें जुदा हो चुकी हैं। अब तक जो खिलाड़ी एक-दूसरे के प्रदर्शन पर शाबाशी दे रहे थे, वे अब चैंपियंस ट्रॉफी में अपने देश के लिए उन्हें पटखनी देने को तैयार हैं। ....

फसल विविधीकरण फैसले की घड़ी

Posted On May - 26 - 2017 Comments Off on फसल विविधीकरण फैसले की घड़ी
पंजाब में धान की फसल की बुआई के दिन नजदीक आ रहे हैं। पर्यावरण-संतुलन, भूमिगत जल के गिरते स्तर और कृषि नीति को देखते हुए चावल की जोत के रकबे को घटाने की जरूरत है। भारी मात्रा में पानी की जरूरत के लिए जानी जाने वाली धान की फसल से यहां पानी संकट गहरा रह है। ....

जड़ में जहर और छांट रहे हैं पत्तियां

Posted On May - 18 - 2017 Comments Off on जड़ में जहर और छांट रहे हैं पत्तियां
सोनीपत निवासी युवती के साथ सामूहिक बलात्कार, वीभत्सता, यौन क्रूरता की हदें पार करने के बाद उसकी हत्या कर रोहतक शहर के निकट सड़क किनारे झाड़ियों में फेंक देने की जिस घटना ने आजकल समूचे हरियाणा को हिला रखा है, उस “हरियाणवी निर्भया कांड” का खुलासा अपने आप में पुलिस व्यवस्था की लापरवाही और संवेदनहीनता का गंभीर प्रमाण भी है। ....

और कितनी निर्भया

Posted On May - 18 - 2017 Comments Off on और कितनी निर्भया
अगर मुझे लम्बी सी सीढ़ी मिल जाये जो आसमान तक जाती हो तो मैं उस पर चढ़कर अपने रक्त की स्याही से लिखकर आऊं कि आज बहन-बेटियों के सम्मान से किसी का कोई वास्ता नहीं रह गया है, ताकि उसे पूरा जहान पढ़ ले और इस सच्चाई पर आत्म-मंथन करे। ....

सीएम को जवाब देना होगा : अभय कुमार दुबे

Posted On May - 11 - 2017 Comments Off on सीएम को जवाब देना होगा : अभय कुमार दुबे
भ्रष्टाचार के खिलाफ ऐतिहासिक आंदोलन कर दिल्ली की सत्ता हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी और इसके संयोजक अरविंद केजरीवाल को दिल्ली की जनता ने सियासत में बदलाव की उम्मीद से सिंहासन पर बैठाया। जनलोकपाल, स्वराज सरीखे जुमले देश की राजधानी के लोगों के कानों में कभी मिश्री घोला करते थे, लेकिन दिल्ली नगर निगम चुनाव परिणामों ने साबित कर दिया कि जनता ने इस ....

बच नहीं पाएंगे केजरीवाल : मिश्रा

Posted On May - 11 - 2017 Comments Off on बच नहीं पाएंगे केजरीवाल : मिश्रा
कभी अरविंद केजरीवाल के खास रहे कपिल मिश्रा आजकल उनके सबसे बड़े राजनीितक दुश्मन बने हुए हैं। प्रमुख संवाददाता अजय पांडेय की कपिल मिश्रा से बातचीत के प्रमुख अंश। ....

आत्मघाती आप

Posted On May - 11 - 2017 Comments Off on आत्मघाती आप
आप यानी आम आदमी पार्टी एक बार फिर सुर्खियों में है। अपनी जन्म स्थली दिल्ली से लेकर पंजाब तक आप मीडिया में छायी है। सुर्खियां किसी भी राजनेता की पहली चाहत होती हैं। फिर आप तो मानी ही मीडिया की देन जाती है। लेकिन इस बार आप जिन कारणों से सुर्खियों में है, वह नकारात्मक ही नहीं हैं, बल्कि आप की नैतिकता और प्रासंगिकता पर ....

बस्तर का नश्तर

Posted On May - 4 - 2017 Comments Off on बस्तर का नश्तर
छत्तीसगढ़ में एक और नक्सली हमला। इस बार सुकमा में 25 जवान शहीद। आदिवासी जन-जीवन के लिए आकर्षण का केंद्र रहा बस्तर दशकों से नक्सली आतंक का दंश झेल रहा है। जो बस्तर कभी अल्हड़-उन्मुक्त आदिवासी जीवन के लिए जाना जाता था, अब नक्सली हिंसा के लिए ही सुर्खियां बनता है। बस्तर के इस दर्द की दास्तां बयां कर रहे हैं रमेश नैयर। ....

फीस बनी फांस

Posted On April - 27 - 2017 Comments Off on फीस बनी फांस
आजकल निजी स्कूलों में नये सत्र की शुरुआत होती है आंदोलन से। निजी स्कूल हर साल स्कूल फीस बढ़ा देते हैं और अभिभावक इसका विरोध करते हैं। ज्ञापन देते हैं। कई बार आंदोलन सड़कों तक भी पहुंचता है। संसद में उठता है। लेकिन इसके बाद सब शांत। एक साल के लिए। फीस बढ़ोतरी की समस्या तो देश में हैं। ....

शिक्षा बनती जा रही कारोबार

Posted On April - 27 - 2017 Comments Off on शिक्षा बनती जा रही कारोबार
राज्य की सबसे पहली जिम्मेदारियों में शुमार शिक्षा इन्वेस्टमेंट का सबसे बेहतरीन क्षेत्र बन गया है। आप किसी व्यापारी से पूछ लीजिए। वह आपको बताएगा कि अच्छी कमाई के लिए आप इसी क्षेत्र में निवेश कीजिए। विडंबना देखिए कि जिनका शिक्षा से कोई लेना-देना नहीं है, वे लोग स्कूल चला रहे हैं। ....

जरा सोचिए…

Posted On March - 1 - 2015 Comments Off on जरा सोचिए…
हरियाणा में आये दिन हो रहे सड़क हादसों में लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। कोई दिन ऐसा नहीं जिस दिन अखबार ऐसी खबरों से अटे न पड़े हों। कभी करनाल तो कभी हिसार से या फिर कभी रोहतक से तो कभी फरीदाबाद आये दिन सड़क हादसों के समाचार आते रहते हैं। इन हादसों में किसी का इकलौता चिराग बुझ जाता है। किसी मां की गोद सूनी हो जाती है तो किसी का सुहाग छिन जाता है। किसी बहन का भाई चला जाता है तो किसी भाई की प्यारी 
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.