किश्तवाड़ में वाहन खाई में गिरा, 4 की मौत !    जंगल की आग में झुलसे 13 दमकलकर्मी !    काबुल में कार बम विस्फोट, 7 की मौत !    केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री के वाहन पर पथराव !    न्यूजीलैंड में इच्छामृत्यु बिल पास, अब रायशुमारी !    निमोनिया से भारत में हर घंटे हुई 14 से अधिक बच्चों की मौत !    नीता अंबानी दुनिया के सबसे बड़े कला संग्रहालय बोर्ड में शामिल !    अयोग्यता रहेगी बरकरार लेकिन लड़ सकेंगे चुनाव !    हांगकांग में लगातार तीसरे दिन अराजकता का माहौल !    हिमाचल में 15 को भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट !    

फोकस › ›

खास खबर
घर आ जा परदेसी...

घर आ जा परदेसी...

विवेक शर्मा उत्तर प्रदेश से अलग होकर ‘अपना उत्तराखंड’ का नारा बुलंद करने वाले यहां के लोगों को विकास के नाम पर विस्थापन मिला है। पर्यावरण और क्षेत्रीय लोगों की चिंता किनारे रखकर चल रहीं विद्युत परियोजनाओं ने हजारों लोगों को विस्थापित कर दिया है और हजारों एकड़ खेती योग्य भूमि ...

Read More

सांसों पर काला साया

सांसों पर काला साया

अभिषेक कुमार सिंह सर्दियों की आहट के साथ उत्तर भारत में जहरीली धुंध लौट आई है। दिल्ली-एनसीआर में तो हालात सबसे ज्यादा खराब हैं। एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (एक्यूआई) के पैमाने पर इस इलाके के शहरों (दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम) में हवा की सेहत सबसे खराब आंकड़े यानी 500 ...

Read More

सत्ता का महाभारत

सत्ता का महाभारत

राजकुमार सिंह वह घड़ी आ गयी, जिसका इंतजार था। नेताओं के दावे-वादे बहुत सुन लिये, अब मतदाताओं के फैसले की बारी है। हरियाणा के मतदाता आज नयी विधानसभा और भावी सरकार की बाबत फैसला करेंगे। बेशक जनादेश का खुलासा 24 अक्तूबर को मतगणना से हो पायेगा, लेकिन मतदाता पसंदीदा बटन दबाकर ...

Read More

प्याज का राज

प्याज का राज

50000 टन प्याज का बफर स्टाक था सरकार के पास। उसमें से 15000 टन का इस्तेमाल वह कर चुकी है 35000 टन का स्टाक अभी और है सरकार के पास। इसका इस्तेमाल करके प्याज के भाव कम किये जा सकते हैं आलोक पुराणिक जून 2019 में प्याज के रिटेल भाव दिल्ली में ...

Read More

राखीगढ़ी से निकला निष्कर्ष आर्य ही हैं हम

राखीगढ़ी से निकला निष्कर्ष आर्य ही हैं हम

राजवंती मान राखीगढ़ी हरियाणा के हिसार जिले के नारनौंद खंड में सरस्वती तथा दृषद्वती नदियों के शुष्क क्षेत्र में बसा एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक गांव है, जहां सिंधु घाटी सभ्यता, जिसमें लगभग 20 लाख वर्ग किलोमीटर में सिंध, बलूचिस्तान, पंजाब, जम्मू, हरियाणा, राजस्थान, कच्छ-गुजरात और महाराष्ट्र तक की आबादी शामिल थी, के ...

Read More

मंदी पर महाभारत

मंदी पर महाभारत

आलोक पुराणिक मंदी है या नहीं? यह सवाल है तो आर्थिक लेकिन यह विकट राजनीतिक भी है। सरकार और उसके प्रवक्ता चाहते हैं कि इसे मंदी नहीं सुस्ती मान लिया जाये और कुल मिलाकर ऐसा मसला माना जाये, जो कुछ दिनों में ठीक हो जायेगा। दूसरी तरफ, कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी ...

Read More


  • घर आ जा परदेसी…
     Posted On November - 11 - 2019
    उत्तर प्रदेश से अलग होकर ‘अपना उत्तराखंड’ का नारा बुलंद करने वाले यहां के लोगों को विकास के नाम पर....
  • सांसों पर काला साया
     Posted On November - 4 - 2019
    सर्दियों की आहट के साथ उत्तर भारत में जहरीली धुंध लौट आई है। दिल्ली-एनसीआर में तो हालात सबसे ज्यादा खराब....
  • सत्ता का महाभारत
     Posted On October - 21 - 2019
    वह घड़ी आ गयी, जिसका इंतजार था। नेताओं के दावे-वादे बहुत सुन लिये, अब मतदाताओं के फैसले की बारी है।....
  • प्याज का राज
     Posted On September - 30 - 2019
    जून 2019 में प्याज के रिटेल भाव दिल्ली में 26 रुपये किलो थे, जो सितंबर 2019 में बढ़कर 60 रुपये....

मेसी-नेमार से आगे रोनाल्डो

Posted On June - 23 - 2018 Comments Off on मेसी-नेमार से आगे रोनाल्डो
अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी, पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ब्राजील के नेमार जूनियर इन तीनों फुटबालरों में एक समानता यह है कि ये विश्व फुटबाल के सुपरस्टार हैं और फुटबाल से जुड़ी लगभग हर उपलब्धि को हासिल किया है। ....

अंकों के आसमान पर

Posted On June - 15 - 2018 Comments Off on अंकों के आसमान पर
हाल ही में सीबीएसई समेत विभिन्न बोर्डों के 10वीं व 12वीं के परीक्षा परिणामों में कई बच्चों के 99 फीसदी से अधिक नंबर आए हैं। कुछ टॉपर्स के तो 500 में से 499 अंक हैं। कई विषयों में उन्हें सौ फीसदी अंक मिले हैं। अब सवाल यह है कि गणित में तो 100 प्रतिशत नंबर आ सकते हैं, लेकिन हिंदी और अंग्रेजी जैसे भाषाई ....

बिन पानी सब सून

Posted On June - 7 - 2018 Comments Off on बिन पानी सब सून
इस बार शिमला में पानी को लेकर पहली बार ऐसी भयावह तस्वीर उभरी है, जो भावी पीढ़ी के लिए डरावनी है। आने वाले समय में इस तरह का जल संकट देश के किसी भी शहर में कभी भी पैदा हो सकता है। भले ही यह संकट व्यवस्था की खामियों को उजागर करता है, लेकिन साथ ही यह इस बात को और भी मजबूती से प्रस्तुत ....

चीनी परियोजनाओं का फ्लाॅप शो

Posted On May - 31 - 2018 Comments Off on चीनी परियोजनाओं का फ्लाॅप शो
इसे हम तुरत-फुरत यह कह दें कि भारत की आपत्ति के बाद पाकिस्तान नीलम-झेलम जल विद्युत परियोजना से पीछे हट गया, थोड़ी जल्दबाज़ी होगी। और यह भी कह देना कि पाकिस्तान में इस प्रोजेक्ट के रद्द होने से चाइना-पाकिस्तान इकाॅनामिक काॅरिडोर (सीपीइसी) को धक्का पहुंचा है, अति उत्साह में बोल पड़ने जैसा होगा। ....

गिलगित-बाल्टिस्तान पाक-चीन का खेल

Posted On May - 31 - 2018 Comments Off on गिलगित-बाल्टिस्तान पाक-चीन का खेल
खैबर पख्तूनख्वा, बलूचिस्तान, सिंध और पंजाब ये चारों प्रांत पाकिस्तान के हैं। पाकिस्तान, गिलगित-बाल्टिस्तान को पांचवां प्रांत बनाने के प्रयास में है। इस वास्ते मार्च 2017 में एक कमेटी सरताज़ अज़ीज की देखरेख में बनी थी। उस समय सरताज़ अज़ीज नवाज़ शरीफ के विदेश नीति सलाहकार हुआ करते थे। ....

खोदा पहाड़ और…

Posted On May - 24 - 2018 Comments Off on खोदा पहाड़ और…
इन्फार्मल समिट’ का अर्थ क्या निकलता है? ऐसी शिखर भेंट, जो अनौपचारिक हो। बिना किसी पूर्व नियोजित एजेंडे के मिलिए। उद्यान में सैर कीजिए, थोड़ा नौका विहार भी। मूड आए तो समकक्ष शिखर नेता के साथ म्यूज़िक सुनिए। ढोल बजाना सही से नहीं आता हो, फिर भी हाथ आज़मा लीजिए। तो ये हुई ‘इन्फार्मल समिट’। ....

किसानों का कर्ज बाकी

Posted On May - 24 - 2018 Comments Off on किसानों का कर्ज बाकी
मोदी सरकार के 4 साल शनिवार को पूरे हो जाएंगे। अब कई सवाल उनसे पूछे जाएंगे। पीएम मोदी को तमाम सवालों के जवाबों के लिए तैयार होना होगा, क्योंकि वे कई सवाल अनुत्तरित हैं, जिन्हें नरेंद्र मोदी 2014 के लोकसभा चुनाव प्रचार में उठाते थे। ....

मोदी राज के 4 साल

Posted On May - 24 - 2018 Comments Off on मोदी राज के 4 साल
किसी भी सरकार के 4 साल केवल सफलता या केवल विफलता के नहीं होते। कहानी कहीं बीच की होती है। उपलब्धियों और विफलताओं के बीच के संतुलन को देखना चाहिए। मोदी सरकार की ज्यादातर उपलब्धियां सामाजिक कार्यक्रमों और प्रशासनिक फैसलों के इर्द-गिर्द हैं। ....

पहाड़ सी चुनौती

Posted On May - 17 - 2018 Comments Off on पहाड़ सी चुनौती
हिमाचल में अवैध निर्माण को लेकर उठा ताजा विवाद काफी पुराना है। प्रदेश में ढुलमुल सरकारी नीति के चलते करीब तीन दशकों से अवैध निर्माण करने वालों की पौ बारह रही है। देर-सवेर अवैध निर्माण कार्यों को नियमित करने की सरकारी नीति, नियम-कानूनों को ठेंगा दिखाकर निजी मकान या होटल बनाने वालों के हौसले बुलंद ही करती रही है। ....

कर्नाटक किसका?

Posted On May - 11 - 2018 Comments Off on कर्नाटक किसका?
क्या सचमुच कर्नाटक चुनाव के बाद 2019 की शुरुआत मान लें? ऐसा गुजरात चुनाव के समय भी कहा जा रहा था। 2018 के आखिर में मिजोरम में चुनाव है और उसके प्रकारांतर 20 जनवरी 2019 तक भाजपा शासित 3 राज्यों छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में एक के बाद एक चुनाव होना है। ....

कितना रोशन इंडिया

Posted On May - 3 - 2018 Comments Off on कितना रोशन इंडिया
केंद्र सरकार सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का दावा कर चुकी है और अब सरकार का यह भी दावा है कि इस साल 31 दिसंबर तक प्रत्येक घर में बिजली उपलब्ध करा दी जाएगी। यदि सरकार का यह दावा कागजी साबित न हुआ तो लालटेन युग में जी रहे 7.05 करोड़ घरों में भी बिजली के बल्ब जगमगाने लगेंगे। ....

कूटनीति की नयी इबारत

Posted On April - 26 - 2018 Comments Off on कूटनीति की नयी इबारत
मोदी कूटनीति का एक बड़ा हिस्सा होता है, दुनिया को चौंका कर रखो! कुछ अचानक सा। लोग थोड़ा विस्मित हों। चर्चा करें, कि ये क्या हो रहा है? पूर्वी चीन का एक नगर है, छिंगताओ। 9 और 10 जून 2018 को यहां शंघाई काॅरपोरेशन आर्गेनाइजेशन (एससीओ) की बैठक होनी है। ....

सत्ता के संत

Posted On April - 19 - 2018 Comments Off on सत्ता के संत
कभी पर्ण कुटी से लोक कल्याण हेतु राजसत्ता का मार्गदर्शन करने वाले संत अब राजदरबार का हिस्सा बनने को आतुर हैं। उनकी महत्वाकांक्षाओं का आलम मध्यप्रदेश में साकार हुआ। राज्याश्रय से राज करने का यह सफर धर्मनिरपेक्ष राज्य-व्यवस्थाओं के सिद्धांतों से मेल नहीं खाता। ....

संसद में शोरतंत्र

Posted On April - 13 - 2018 Comments Off on संसद में शोरतंत्र
हाल ही में संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में जो कुछ हुआ वह संसदीय दृष्टि से उचित नहीं ठहराया जा सकता। संसद में कई नियम हैं, जिनके तहत सांसद अपनी बात रख सकते हैं और विभिन्न मुद्दे उठा सकते हैं। सदन में हंगामा ही किसी समस्या का हल नहीं है। ....

आरक्षण नीति की राजनीति

Posted On April - 5 - 2018 Comments Off on आरक्षण नीति की राजनीति
देश में आरक्षण शुरू करने के पीछे सैकड़ों वर्षों का इतिहास रहा है। यहां वर्ण और जाति व्यवस्था रही है, उसमें आरक्षण था। जिसे मनुवाद कहते हैं। उसमें व्यवस्था थी कि पूजा केवल ब्राह्मण करेगा व युद्ध क्षत्रीय और व्यापार वैश्य करेगा। यह आरक्षण जन्मना था। तब आरक्षण पाने वाले उच्च वर्ग से थे। ....

हमका माफी दे दो

Posted On March - 29 - 2018 Comments Off on हमका माफी दे दो
ज्यादा समय नहीं हुआ है जब नाॅर्थ ब्लॉक से लेकर रामलीला मैदान व जंतर-मंतर तक हर वक्त समाजसेवी अन्ना हजारे के साथ मौजूद वह साधारण कद काठी का युवक दूसरों से कुछ हटकर दिखने लगा था। तब वह चीख-चीख कर कहता था कि लोकपाल कानून बनवा कर ही दम लेंगे, भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करेंगे और मौजूदा राजनीति को बदल देंगे। ....
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.