आधी आबादी में उत्साह घूंघट के साथ मतदान !    नाबालिग से रेप के मुख्य आरोपी को भेजा जेल !    कर्णी सिंह रेंज पर भिड़े निशानेबाज !    विवाहिता की मौत सास-ससुर और पति गिरफ्तार !    पंजाब में 70, हिमाचल में 69 फीसदी मतदान !    देश के लिए जेल गए थे सावरकर, मोदी की तारीफ !    संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से, हंगामे के आसार !    2 पर ढाई लाख का इनाम !    परिणामों पर विचार के बाद दें फैसला !    देशभर में बैंकों की आज हड़ताल !    

फोकस › ›

खास खबर
सत्ता का महाभारत

सत्ता का महाभारत

राजकुमार सिंह वह घड़ी आ गयी, जिसका इंतजार था। नेताओं के दावे-वादे बहुत सुन लिये, अब मतदाताओं के फैसले की बारी है। हरियाणा के मतदाता आज नयी विधानसभा और भावी सरकार की बाबत फैसला करेंगे। बेशक जनादेश का खुलासा 24 अक्तूबर को मतगणना से हो पायेगा, लेकिन मतदाता पसंदीदा बटन दबाकर ...

Read More

प्याज का राज

प्याज का राज

50000 टन प्याज का बफर स्टाक था सरकार के पास। उसमें से 15000 टन का इस्तेमाल वह कर चुकी है 35000 टन का स्टाक अभी और है सरकार के पास। इसका इस्तेमाल करके प्याज के भाव कम किये जा सकते हैं आलोक पुराणिक जून 2019 में प्याज के रिटेल भाव दिल्ली में ...

Read More

राखीगढ़ी से निकला निष्कर्ष आर्य ही हैं हम

राखीगढ़ी से निकला निष्कर्ष आर्य ही हैं हम

राजवंती मान राखीगढ़ी हरियाणा के हिसार जिले के नारनौंद खंड में सरस्वती तथा दृषद्वती नदियों के शुष्क क्षेत्र में बसा एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक गांव है, जहां सिंधु घाटी सभ्यता, जिसमें लगभग 20 लाख वर्ग किलोमीटर में सिंध, बलूचिस्तान, पंजाब, जम्मू, हरियाणा, राजस्थान, कच्छ-गुजरात और महाराष्ट्र तक की आबादी शामिल थी, के ...

Read More

मंदी पर महाभारत

मंदी पर महाभारत

आलोक पुराणिक मंदी है या नहीं? यह सवाल है तो आर्थिक लेकिन यह विकट राजनीतिक भी है। सरकार और उसके प्रवक्ता चाहते हैं कि इसे मंदी नहीं सुस्ती मान लिया जाये और कुल मिलाकर ऐसा मसला माना जाये, जो कुछ दिनों में ठीक हो जायेगा। दूसरी तरफ, कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी ...

Read More

ट्रैफिक रूल्स की रेड लाइट

ट्रैफिक रूल्स की रेड लाइट

अभिषेक कुमार सिंह मुमकिन है कि कई लोगों के लिए नियम-कानून तोड़ना शान की बात हो। रसूखदार, ऊंचे संपर्कों वाले और जेब में नोटों की गड्डी लेकर चलने वालों के लिए कानून को ठेंगा दिखाना कभी मुश्किल नहीं रहा, लेकिन पहली सितंबर, 2019 से देश में लागू संशोधित नये मोटर वाहन ...

Read More

कुदरती खेती कमाल की

कुदरती खेती कमाल की

राजकिशन नैन कुदरत ने महामूल्यवान संपदा के रूप में जो चीजें हमें उपहार में दी हैं, उनमें धरती यानी माटी की महिमा सबसे ज्यादा है। धरणी धन से परिपूर्ण है, इसीलिए बड़ों ने इसे वसुंधरा कहा है। मेरी मां सवेरे खाट छोड़ते ही सबसे पहले तीन बार धरती को मैया कहकर ...

Read More

बार-बार बाढ़

बार-बार बाढ़

हरीश लखेड़ा देश का एक तिहाई से ज्यादा भू-भाग इस मानसून में बारिश के कहर से बेहाल रहा है। जुलाई और अगस्त के दौरान उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्चिम तक कोई न कोई भू-भाग जल में डूबा रहा है। केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, असम, ...

Read More


  • सत्ता का महाभारत
     Posted On October - 21 - 2019
    वह घड़ी आ गयी, जिसका इंतजार था। नेताओं के दावे-वादे बहुत सुन लिये, अब मतदाताओं के फैसले की बारी है।....
  • प्याज का राज
     Posted On September - 30 - 2019
    जून 2019 में प्याज के रिटेल भाव दिल्ली में 26 रुपये किलो थे, जो सितंबर 2019 में बढ़कर 60 रुपये....
  • राखीगढ़ी से निकला निष्कर्ष आर्य ही हैं हम
     Posted On September - 23 - 2019
    राखीगढ़ी हरियाणा के हिसार जिले के नारनौंद खंड में सरस्वती तथा दृषद्वती नदियों के शुष्क क्षेत्र में बसा एक महत्वपूर्ण....
  • मंदी पर महाभारत
     Posted On September - 16 - 2019
    मंदी है या नहीं? यह सवाल है तो आर्थिक लेकिन यह विकट राजनीतिक भी है। सरकार और उसके प्रवक्ता चाहते....

अंतिम तिथि

Posted On May - 12 - 2010 Comments Off on अंतिम तिथि
पाठ्यक्रम : बीटैक (पेट्रोलियम इंजीनियरिंग) संस्थान : पं. दीनदयाल उपाध्याय पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी, गांधीनगर, गुजरात, (www. pdpu. ac.in) अवधि : 4 वर्ष न्यूनतम शैक्षिक योग्यता : विज्ञान विषयों सहित 10+2 दाखिले : एआईईईई परीक्षा की रैंकिंग के आधार पर। प्रास्पैक्टस : ओंरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स की चुनींदा शाखाओं  से 1200 रुपये के भुगतान के एवज में प्राप्त कर सकते हैं। अंतिम तिथि : 20 मई ०    ०    ० पाठ्यक्रम : 

ब्रह्मड को जानिए

Posted On May - 12 - 2010 Comments Off on ब्रह्मड को जानिए
दैनिक ट्रिब्यून के पाठकों के मन में उठती विज्ञान संबंधी जिज्ञासाओं और प्रश्नों के समाधान के लिए शिक्षालोक में शुरू किये गये विशेष स्तंभ ‘ब्रह्मड को जानिए’ के अंतर्गत पाठकों के हमें निरंतर पत्र प्राप्त हो रहे हैं। पाठकों के इन्हीं कौतूहल भरे सवालों का जवाब दे रहे हैं जाने-माने प्रसिद्ध वैज्ञानिक प्रो. यशपाल। आपको भी अगर ऐसा ही कोई सवाल पूछना है तो हमें निम्र पते पर लिखिए :– -प्रभारी प्र. 

ज़रूरत है ठोस आगाज़ की

Posted On May - 5 - 2010 Comments Off on ज़रूरत है ठोस आगाज़ की
शिक्षा का मौलिक अधिकार अतुल कुमार शर्मा शिक्षा को मौलिक अधिकार के रूप में लागू करने वाला भारत विश्व का 135वां देश बन गया है।  6 से 14 वर्ष आयु वर्ग के लिए शिक्षा अनिवार्य करना सरकार की एक बड़ी उपलब्धि व प्रयास कहा जा सकता है। शिक्षा सुधारों के संदर्भ में किए गए हालिया प्रयासों में उपरोक्त विधेयक मील का पत्थर कहा जा सकता है। लागू विधेयक में जहां 6 से 14 वर्ष आयु वर्ग के लिए अनिवार्य 

पैसा, शोहरत, दबदबा सब कुछ

Posted On May - 5 - 2010 Comments Off on पैसा, शोहरत, दबदबा सब कुछ
मीडिया फज़ल गुफरान हिंदुस्तान में मीडिया को सम्मान एवं रोजगारपरक विकल्प के रूप में देखा जाता है। यह एक ऐसा करिअर है जिसमें ग्लैमर के साथ-साथ नेम एवं फेम दोनों के मौके हैं। प्रिंट और इलक्ट्रानिक के साथ-साथ अब वेब मीडिया की दुनिया में भी मीडियाकर्मियों की बेहद मांग है। आज मीडिया तीन भागों में बंट चुकी है। प्रिंट, इलेक्ट्रानिक और वेब। मगर तीनों का स्वरूप लगभग एक ही है—आम जन तक खबरें 

ब्रह्मांड को जानिए

Posted On May - 5 - 2010 Comments Off on ब्रह्मांड को जानिए
दैनिक ट्रिब्यून के पाठकों के मन में उठती विज्ञान संबंधी जिज्ञासाओं और प्रश्नों के समाधान के लिए शिक्षालोक में शुरू किये गये विशेष स्तंभ ‘ब्रह्मांड को जानिए’ के अंतर्गत पाठकों के हमें निरंतर पत्र प्राप्त हो रहे हैं। पाठकों के इन्हीं कौतूहल भरे सवालों का जवाब दे रहे हैं। जाने-माने प्रसिद्ध वैज्ञानिक प्रो. यशपाल। आपको भी अगर ऐसा ही कोई सवाल पूछना है तो हमें निम्र पते पर लिखिए :– -प्रभारी प्र. 

अंतिम तिथि

Posted On May - 5 - 2010 Comments Off on अंतिम तिथि
अशोक सिंह ० पाठ्यक्रम : एलएलबी और एलएलएम संस्थान : फैकल्टी ऑफ लॉ यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली, दिल्ली। अवधि : क्रमश: तीन और दो वर्ष। न्यूनतम शैक्षिक योग्यता : क्रमश: 50′ अंकों सहित ग्रेजुएट और 50′ अंकों सहित एलएलबी. दाखिले : क्रमश: 30 मई और 5 जून को आयोजित की जाने वाली चयन परीक्षा के आधार पर। प्रॉस्पैक्टस : संस्थान की वेबसाइट www.du.ac.in से डाउनलोड कर सकते हैं। अंतिम तिथि : 17 मई ० पाठ्यक्रम : मास्टर 

क्या है क्लाउड कम्प्यूटिंग

Posted On April - 28 - 2010 Comments Off on क्या है क्लाउड कम्प्यूटिंग
-मयंक बाजपेयी हममें से जो भी लोग मोबाइल या कम्प्यूटर का प्रयोग करते हैं, उन्हें क्लाउड कम्प्यूटिंग के बारे में जानकारी होती है। क्लाउड कम्प्यूटिंग एक ऐसी तकनीक है जिसके जरिए हमारा मोबाइल और कम्प्यूटर अपने अन्य साथियों से नेटवर्किंग स्थापित करते हैं। बिना क्लाउड कम्प्यूटिंग के सभी कम्युनिकेटिंग डिवाइस सिर्फ खिलौने भर हैं। इंटरनेट सुविधा और इसमें मौजूद अलग-अलग फीचर्स क्लाउड 

नैनो टेक्नोलोजी विकास की नयी इबारत लिखने को तैयार

Posted On April - 28 - 2010 Comments Off on नैनो टेक्नोलोजी विकास की नयी इबारत लिखने को तैयार
–कीर्तिशेखर करिअर के चुनाव और इसके क्षेत्रों को लेकर हर साल कुछ न कुछ बदलाव होते रहते हैं। इन क्षेत्रों में कुछ नए आते हैं तो कुछ पुराने खत्म होने लगते हैं। ज्यादातर छात्र नए उभरते क्षेत्रों की ओर रुख करने को तवज्जो देते हैं। उन्हें लगता है कि कोई भी नई चीज लम्बे समय तक टिकी रह सकती है। यह बात सही भी है। नए क्षेत्र अपने उठान पर होते हैं, उनमें तरक्की के ढेरों अवसर हो सकते हैं। ऐसे 

ई-वेस्ट का बढ़ता खतरा

Posted On April - 28 - 2010 Comments Off on ई-वेस्ट का बढ़ता खतरा
मनबीर सिंह पर्यावरण प्रदूषण के कारण ग्लोबल वार्मिंग का खतरा बढ़ता जा रहा है। इसलिए प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण ज़रूरी हो गया है। सिर्फ विकासशील देश ही नहीं विकसित देश भी पर्यावरण संरक्षण के लिए नीतियां बना रहे हैं। पर्यावरण प्रदूषण का एक मुख्य कारण इलेक्ट्रानिक उपकरण, इसमें प्रयोग होते पर्यावरण विरोधी पदार्थ और व्यर्थ के इलेक्ट्रानिक उपकरण अर्थात पुराने या प्रयोग 

ब्रह्मांड को जानिए

Posted On April - 21 - 2010 Comments Off on ब्रह्मांड को जानिए
दैनिक ट्रिब्यून के पाठकों के मन में उठती विज्ञान संबंधी जिज्ञासाओं और प्रश्नों के समाधान के लिए शिक्षालोक में शुरू किये गये विशेष स्तंभ ‘ब्रह्मांड को जानिए’ के अंतर्गत पाठकों के हमें निरंतर पत्र प्राप्त हो रहे हैं। पाठकों के इन्हीं कौतूहल भरे सवालों का जवाब दे रहे हैं। जाने-माने प्रसिद्ध वैज्ञानिक प्रो. यशपाल। आपको भी अगर ऐसा ही कोई सवाल पूछना है तो हमें निम्र पते पर लिखिए :– -प्रभारी प्र. 

अंतिम तिथि

Posted On April - 21 - 2010 Comments Off on अंतिम तिथि
अशोक सिंह पाठ्यक्रम : बीए, बीएससी, बीकॉम, बी फार्मा, बीजेसी, एलएलबीएमए, एमएससी, एमकॉम, एमबीए, एलएलएम, एमएड, एमजेसी, एम फार्मा, एमसीए आदि। संस्थान : डा. हरि सिंह गौड़ विश्वविद्यालय, सागर (म.प्र.) न्यूनतम शैक्षिक योग्यता : कम से कम 50′ अंकों सहित 10+2 अथवा ग्रेजुएट। आवेदन : ऑन लाइन आवेदन के लिए वेबसाइट www.dhsgu.ac.in देख सकते हैं। दाखिले : दिनांक 12 और 13 जून को आयोजित की जाने वाली चयन परीक्षा के आधार पर। अंतिम 

घर में भी बने स्कूल जैसा वातावरण

Posted On April - 21 - 2010 Comments Off on घर में भी बने स्कूल जैसा वातावरण
होशियार सिंह हर मां बाप की ख्वाहिश होती है कि उनका बच्चा अपनी कक्षा में बेहतर प्रदर्शन करे और वह लिख- पढ़कर एक बेहतर इनसान बन सके किन्तु इस प्रयास के लिए वे अकेले अपने बच्चे को ही दोषी मानते हैं और अगर वह कोई बेतहर प्रदर्शन नहीं कर पाता तो बच्चे को ही दोषी ठहराते हैं। हकीकत यह है कि इसके लिए अकेले बच्चे ही जिम्मेदार नहीं हैं अपितु उनके मां-बाप भी उतने ही जिम्मेदार होते हैं। कक्षा 

खूब कमाई का जरिया बागवानी

Posted On April - 21 - 2010 Comments Off on खूब कमाई का जरिया बागवानी
कीर्ति शेखर एक समय तक खेती- किसानी ज्यादातर गैर पढ़े-लिखों के कार्यक्षेत्र में आती थी लेकिन अब इसके विकास और होने वाले फायदों ने इसे व्यापारिक गतिविधियों का हिस्सा बना दिया है। कृषि और इससे जुड़े अन्य क्षेत्रों के व्यापार का हिस्सा बनने से व तकनीक का मिश्रण होने से इसमें पढ़ा-लिखा वर्ग भी रुचि लेने लगा है। इस रुचि ने ही कृषि को कई अलग-अलग वर्गों में विभाजित कर दिया है। कृषि 

ऑयल इंडस्ट्री

Posted On April - 14 - 2010 Comments Off on ऑयल इंडस्ट्री
राहें हुईं आसान कीर्ति शेखर विश्वभर में कुछ गिने-चुने उद्योग ही हैं जो दिन-दूनी और रात चौगुनी तरक्की कर रहे हैं। ऑयल एंड गैस इंडस्ट्री भी इन्हीं में से एक है। जिस तेजी से संपूर्ण विश्व में ऊर्जा की खपत और मांग बढ़ती जा रही है उससे इस क्षेत्र में करिअर बनाने वालों की राहें बेहद आसान नज र आ रही हैं। लगातार तरक्की करता जा रहा यह क्षेत्र किसी के भी भविष्य को उज्ज्वल बना सकता है। 

शैक्षणिक बदलावों से छात्र वर्ग को कितना फायदा?

Posted On April - 14 - 2010 Comments Off on शैक्षणिक बदलावों से छात्र वर्ग को कितना फायदा?
अतुल कुमार शर्मा केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में शिक्षा क्षेत्र में किये गये कुछेक परिवर्तनों की योजनाओं के निर्णय नि:संदेह काबिलेगौर हैं। मानव संसाधान  विकास मंत्री कपिल सिब्बल द्वारा शिक्षा व्यवस्था में परिवर्तन लाने हेतु व्यवस्था की गई है कि पूरे देश में वर्ष 2013 में ली जाने वाली इंजीनियरिंग व मेडिकल कोर्सों में दाखिले हेतु ‘राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा’  होगी। साथ 

विदेशी भाषा जानकारों का जगमगाता क्षेत्र

Posted On April - 7 - 2010 Comments Off on विदेशी भाषा जानकारों का जगमगाता क्षेत्र
सपना बाजपेयी मिश्रा अपनी मातृभाषा से तो हर कोई परिचित रहता है। इसे सीखने के  लिए थोड़े से भी अतिरिक्त प्रयास नहीं करने पड़ते। हमेशा से भाषा संबंधी ज्ञान रखने वालों की विशेष पूछ रही है और अगर यह ज्ञान एक से अधिक भाषाओं का हो तो व्यक्ति की शख्सियत में चार-चांद लग जाते हैं। एक समय तक बहुभाषी होने का अर्थ एक ही देश की अलग-अलग भाषाओं का ज्ञान होना समझा जाता था लेकिन अब समय बदल चुका है।