सरकार ने कांवड़ यात्रा पर लगाई रोक !    रोहतक में एक दिन में सामने आए 40 नये केस !    हरियाणा सांसद बृजेंद्र समेत 530 पॉजिटिव !    दिल्ली, मुंबई समेत 6 शहरों से कोलकाता के लिए 6 से 19 जुलाई तक विमान सेवा पर रोक !    चीनी घुसपैठ को लेकर प्रधानमंत्री को ‘राजधर्म' का पालन करना चाहिए : कांग्रेस !    कोरोना के दौर में बुद्ध का संदेश प्रकाशस्तंभ जैसा : कोविंद !    रिलायंस का 'जियोमीट' देगा 'जूम' को टक्कर !    जापान में बारिश से बाढ़, कई लोग लापता !    कोरोना : देश में एक दिन में सबसे ज्यादा 22,771 मामले आए !    भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है दुनिया की चुनौतियों का स्थायी समाधान : मोदी !    

10वीं की विज्ञाान व अन्य विषयों की परीक्षा पर हाईकोर्ट की रोक

Posted On June - 30 - 2020

भिवानी, 29 जून (हप्र)
पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा 1 जुलाई से प्रस्तावित 10वीं कक्षा की बाकी परीक्षाओं के आयोजन पर रोक लगा दी है। अब परीक्षाओं का टलना तय हो गया है।
हरियाणा प्राइवेट स्कूल चिल्ड्रन वेलफेयर ट्रस्ट एवं हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने यह रोक लगाई है। वहीं नोटिस जारी कर 30 जून तक सरकार से जवाब मांगा है। हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ के प्रदेश महासचिव रामावतार शर्मा ने बताया कि दायर याचिका में कहा गया था कि लॉकडाउन की वजह से छात्र-छात्राएं तीन माह तक पढ़ाई से दूर हैं, गैप होने की वजह से उनके लिए परीक्षाएं देना संभव नहीं है।
वहीं इस संबंध में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने कहा कि रोक लगाने के बाद 10वीं की विज्ञान व अन्य वैकल्पिक विषयों की परीक्षाएं अभी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि 10 वीं व 12 वीं के परिणाम आने व परीक्षाएं कब व कैसे कराने का फैसला प्रदेश सरकार व न्यायालय को लेना है। इस बारे में विस्तृत रिपोर्ट सरकार को भेज दी है।

लॉकडाउन में बसों के टैक्स, बिजली के बिल हों माफ : निजी स्कूल
चंडीगढ़ (ट्रिन्यू): हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ व इंटीग्रेटेड प्राइवेट स्कूल वेलफेयर सोसायटी ने लॉकडाउन के दौरान स्कूल बसों के टैक्स व बिजली बिल माफ करने की मांग की है। सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ के प्रदेशाध्यक्ष सत्यवान कुंडू, उपप्रधान सौरभ कपूर व संरक्षक तेलूराम ने बताया कि प्राइवेट स्कूलों की बड़ी समस्या अब स्कूल बस बन गई हैं जिनका किराया नहीं मिलने से बैंक लोन की ईएमआई व बीमा भी भरने में स्कूल असमर्थ हो गए हैं। सरकार ने कॉमर्शियल वाहनों का दो महीने का टैक्स तो माफ कर दिया है परंतु स्कूल बसों को कोई राहत नहीं दी गई है। राज्य सरकार द्वारा एसएलसी मामले में फैसला बदलने का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि निजी स्कूल संचालकों के सामने फीस को लेकर गफलत वाला माहौल बना हुआ है। उन्होंने कहा कि कुछ चुनिंदा स्कूलों को छोड़कर अन्य स्कूलों में पांच प्रतिशत फीस भी जमा नहीं हुई।


Comments Off on 10वीं की विज्ञाान व अन्य विषयों की परीक्षा पर हाईकोर्ट की रोक
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.