शक्ति बनेंगे शकुनि मामा !    हिंदी फीचर फिल्म इत्तेफाक़ !    अपनेपन से जाएगा डिप्रेशन !    गांवों के विकास में रोजगार !    पूर्व पार्षद के बेटे ने लगाया फंदा, मौत !    पानीपत में मां-बेटियों समेत 21 को कोरोना !    पीएम मोदी से मिले खट्टर नये अध्यक्ष को लेकर चर्चा !    विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड स्तर पर !    एकदा !    बांदीपोरा में नाके पर ग्रेनेड फेंकने का प्रयास करते धरा आतंकी !    

मुंबई में 129 साल बाद चक्रवाती तूफान, हवाओं ने दिखाया रौद्र रूप, भारी तबाही!

Posted On June - 3 - 2020

मुम्बई, 3 जून (एजेंसी)
चक्रवात तूफान ‘निसर्ग’ ने महाराष्ट्र में दस्तक दे दी है। नवी मुंबई, अलीबाग में तेज हवाओं ने अपना रौद्र रूप दिखाना शुरु कर दिया। जानकारी के अनुसार कई जगह से भारी नुकसान के समाचार आ रहे हैं। रत्नागिरि में एक बैंक की इमारत की छत उड़ गयी है जबकि कई जगह पेड़ गिरने का समाचार है। उल्लेखनीय है कि मुंबई में करीब 129 साल बाद चक्रवाती तूफान देखा गया। कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। इसके साथ ही समुद्र में काफी तेज लहरें भी उठ रही हैं। तूफान के कारण कई उड़ानें रद्द कर दी गयी हैं और मध्य रेलवे ने मुम्बई से कुछ ट्रेनों के मार्गों को बदला और कुछ के समय में परिवर्तन किया गया है। निसर्ग चक्रवात के मद्देनजर मुंबई में प्रसिद्ध बांद्रा-वर्ली समुद्रसेतु पर वाहनों की आवाजाही को बुधवार को निलंबित कर दिया गया। तेज हवाओं से कई मकानों की छतें उड़ गयी हैं। बिजली के खंभे भी सड़कों पर गिरे नज़र आ रहे थे जिससे बिजली सप्लाई बंद हो गयी है। समुद्र तट से लोगों को निकालकर 35 खाली स्कूलों में शरण दी गयी है। शाम तक तूफान ने गुजरात का रुख कर लिया था।
मर्चेंट नेवी के फंसे जहाज से 10 नाविक बचाये
चक्रवाती तूफान निसर्ग के कारण महाराष्ट्र में रत्नागिरि के तट के पास फंसे हुए एक पोत से बुधवार को कम से कम 10 नाविकों को बचा कर निकाला गया। पोत को रत्नागिरी के मिरया बंदर क्षेत्र से देखा गया और उसे तट पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। ज्वार भाटे और भारी बारिश के कारण पोत मिरकवाड़ा के तट के पास चला गया था जहां से नाविकों को सुरक्षित बचा लिया गया। महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गयी हैं।
क्या कहता है मौसम विभाग
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मुम्बई इकाई के उप महानिदेशक के. एस. होसालिकर ने बताया कि चक्रवात पहुंच गया है और इसकी रफ्तार 100-110 किलोमीटर प्रति घंटा है। वहीं अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने से गोवा में बुधवार सुबह भारी बारिश होने के साथ ही तेज हवाएं भी चलीं, जिससे इस तटीय राज्य के कुछ निचले इलाकों बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने समुद्र में तेज लहरों के कारण मछुआरों को समुद्र से दूर रहने को कहा है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘कई सड़कें डूब गई। सड़कों पर जाम कम है क्योंकि लोग घरों में ही रह रहे हैं।’ आईएमडी के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक राहुल मोहन ने बताया था कि दक्षिण-पश्चिम मानसून केरल पहुंच गया है और 6 जून तक गोवा पहुंचेगा।
गुजरात में तटीय इलाकों से 43 हजार लोगों को निकाला गया
अहमदाबाद : चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ के राज्य में पहुंचने से पहले गुजरात के वलसाड और नवसारी जिलों के तटीय इलाकों में रहने वाले करीब 43,000 लोगों को वहां से हटा कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के 13 दल और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) के 6 दलों को विभिन्न स्थानों पर तैनात किया गया है। सरकार ने कहा कि एनडीआरएफ के 5 और बलों को बुलाया गया है। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि नवसारी जिले के विभिन्न गांवों से करीब 11,000 लोगों को निकाला गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने चक्रवात के गुजरात के तट पर न पहुंचने का भी संकेत दिया है और कहा है कि राज्य के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने और भारी बारिश के साथ इसका असर जरूर दिखेगा।


Comments Off on मुंबई में 129 साल बाद चक्रवाती तूफान, हवाओं ने दिखाया रौद्र रूप, भारी तबाही!
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.