पूर्व पार्षद के बेटे ने लगाया फंदा, मौत !    पानीपत में मां-बेटियों समेत 21 को कोरोना !    पीएम मोदी से मिले खट्टर नये अध्यक्ष को लेकर चर्चा !    विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड स्तर पर !    एकदा !    बांदीपोरा में नाके पर ग्रेनेड फेंकने का प्रयास करते धरा आतंकी !    मुश्ताक अहमद ने हॉकी इंडिया अध्यक्ष पद छोड़ा! !    भ्रम पैदा करने के बजाय पेपर रद्द कर विद्यार्थियों को प्रोन्नत करे यूजीसी : राहुल !    लेबनान में यूएन मिशन पर तैनात भारतीय बटालियन ने जीता पर्यावरण पुरस्कार !    कोरोना की उत्पत्ति का पता लगाने चीन जाएंगे डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञ !    

पुलवामा में जैश के आईईडी एक्सपर्ट फौजी बाबा समेत 3 आतंकी ढेर

Posted On June - 3 - 2020

5 घंटों तक चली इमुठभेड़ में सेना का एक जवान भी गंभीर रूप से जख्मी

सुरेश एस. डुग्गर/एजेंसियां
जम्मू, 3 जून
दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में बुधवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक शीर्ष आईईडी विशेषज्ञ अब्दुल रहमान (उर्फ इकराम, फौजी भाई, फौजी बाबा) समेत 3 आतंकी मारे गये। आईजीपी विजय कुमार ने कहा कि पाकिस्तानी नागरिक फौजी बाबा का मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी सफलता है, क्योंकि वह जैश-ए-मोहम्मद के लिए आईईडी उपकरण तैयार करने में माहिर था। वह दक्षिण कश्मीर में 2017 से सक्रिय था और इससे पहले अफगानिस्तान में गठबंधन बलों के खिलाफ सक्रिय रह चुका था। उन्होंने दावा किया कि जब सुरक्षाबलों ने गत 28 मई को पुलवामा में आईईडी से लदी कार को रोका था, तब फौजी बाबा फरार होने में सफल रहा था। आईजी ने कहा, ‘मैं यह निश्चित तौर पर नहीं कह सकता कि वह 2019 में सीआरपीएफ काफिले पर हुए हमले में शामिल था या नहीं, लेकिन यह निश्चित है कि वह उस समय पुलवामा में सक्रिय था।’ यह पूछे जाने पर कि क्या फौजी बाबा जैश प्रमुख मसूद अजहर का रिश्तेदार है, आईजी ने कहा, ‘इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है।’
एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि मुठभेड़ पुलवामा के कंगन क्षेत्र में हुई। सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद इलाके की घेराबंदी की और वहां तलाशी अभियान चलाया। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि इलाके की घेराबंदी करने के बाद आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाईं। जवाबी कार्रवाई में 3 आतंकवादी मारे गये। मारे गये 2 अन्य आतंकवादियों की पहचान करने के प्रयास किये जा रहे हैं। मुठभेड़ में सेना की 55 आरआर तथा केरिपुब की 183 बटालियन के साथ ही पुलिस भी शामिल थी।
असली नाम था इकराम
सुरक्षा अधिकारियों ने कहा कि फौजी बाबा का असली नाम इकराम है और वह जैश के शीर्ष कमांडर अब्दुल रऊफ असगर का विश्वासपात्र था, जो 1999 में इंडियन एयरलाइंस के विमान अपहरण के मामले में वांछित है। असगर जैश प्रमुख मौलाना मसूद अजहर का छोटा भाई है, जिसे 31 दिसंबर 1999 में अपहृत विमान के यात्रियों की रिहाई के बदले छोड़ा गया था। फौजी भाई ने आतंकी संगठन को पुनर्जीवित करने और सुरक्षा तंत्र पर बड़े हमले शुरू करने के लिए जैश के अन्य आतंकवादियों के साथ घुसपैठ की थी। यह समूह दक्षिण कश्मीर चला गया और पुलवामा के त्राल, राजपोरा और खयू क्षेत्रों में स्थानीय आतंकवादियों के साथ मिल गया। उसकी गतिविधि चेवा कलां और राजपोरा के क्षेत्रों तथा बडगाम के चदूरा क्षेत्र में होने का कई बार पता चला। यह भी पता चला कि वह यूबीजीएल वाली एक राइफल तथा संचार के लिए सैटेलाइट फोन साथ रखता था।
इस साल कई बड़ी सफलताएं
आईजी विजय कुमार ने बताया कि कश्मीर में जैश के गुट में कम से कम 2 और आईईडी विशेषज्ञ- वालिद भाई और लंबू भाई हैं। सुरक्षाबल के जवान उन तक पहुंचने पर भी काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘हमें इस वर्ष कई बड़ी सफलताएं मिली हैं। हमने हिजबुल मुजाहिद्दीन के शीर्ष कमांडर रियाज नाइकू और पोस्टर बॉय जुनैद सहराई, हंदवाड़ा में लश्कर प्रमुख हैदर और अब फौजी बाबा का खात्मा किया है।’
मुठभेड़स्थल पर जुटे पत्थरबाज
मुठभेड़ की खबर मिलते ही पत्थरबाज भी मुठभेड़स्थल पर एकत्र हो गए थे और पुलिस को उनसे निपटने में मुश्किल इसलिए पेश आ रही थी क्योंकि वे बड़ी संख्या में थे। जबकि पुलिस बार-बार लोगों से अपील कर रही थी कि वे मुठभेड़स्थल से दूर रहें क्योंकि अक्सर देखा गया है कि मुठभेड़स्थलों पर गिरे बमों और हथगोलों के कारण आम नागरिकों को क्षति उठानी पड़ी है।


Comments Off on पुलवामा में जैश के आईईडी एक्सपर्ट फौजी बाबा समेत 3 आतंकी ढेर
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.