अवैध संबंध का शक, पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर की हत्या !    डीजीपी की नियुक्ति के खिलाफ याचिका पर विचार नहीं होगा !    विस सचिवालय में स्पीकर का छापा, 42 कर्मी मिले गैर-हाजिर !    सीएम, डिप्टी सीएम से होगी महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण की मांग !    चंडीगढ़ में 29, पंचकूला में 10 नये मरीज !    अम्बाला में सामने आये रिकॉर्ड 105 मामले !    केपीएके 10वीं में कनिका रही टाॅपर !    बद्दी की इंडस्ट्री में एकसाथ 21 कोरोना पॉजिटिव !    एकदा !    जनरल नरवणे ने किया अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास अग्रिम इलाकों का दौरा !    

‘गोलमाल’ देख रहे जेठा लाल

Posted On June - 20 - 2020

चैनल चर्चा

प्रदीप सरदाना

दिलीप जोशी एक ऐसे अभिनेता हैं जिन्होंने जो भी रोल किए, सभी में वह खूब जमे हैं। अपने करीब 30 साल के करियर में दिलीप जोशी ने जहां मैंने प्यार किया और हम आपके हैं कौन, दिल है तुम्हारा, खिलाड़ी 420 और हमराज़ जैसी कई फिल्में की हैं, वहीं दाल में काला, कोरा कागज, रिश्ते और सीआईडी जैसे बहुत से सीरियल भी किये। लेकिन दिलीप जोशी को जिस सीरियल ने स्टार बनाया, जबरदस्त लोकप्रियता दिलाई उसका नाम है- ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा।’ इस सीरियल में जेठा लाल की भूमिका को दिलीप ने जिस तरह जीवंत करके रख दिया है, वह किसी से छिपा नहीं है। इसमें कोई शक नहीं कि बिना जेठा लाल यानी बिना दिलीप जोशी के इस सीरियल की कल्पना नहीं की जा सकती। लेकिन अन्य सभी सीरियल की तरह पिछले करीब तीन महीने से ‘तारक…’ की शूटिंग भी रुकी हुई है। ऐसे में सीरियल के पुराने एपिसोड ही दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं, जबकि सीरियल के तमाम कलाकार घर बैठे हैं। दिलीप जोशी इतने समय से घर में रहकर क्या क्या कर रहे हैं? यह पूछने पर दिलीप कहते हैं- ‘सबसे बड़ा काम तो यही कि बरसों बाद इतने लंबे समय तक परिवार के साथ बैठने और खूब सारी बातें करने का मौका मिला। दूसरा अपने माता-पिता के साथ एक बार फिर से ‘रामायण’, ‘महाभारत’ के सभी एपिसोड देखे। इसके अलावा ‘गोलमाल’ जैसी कुछ पुरानी सुपर हिट फिल्म भी देख रहा हूं। इन सबके साथ स्वामी नारायण जी और अपने गुरु स्वामी महाराज जी को हम बराबर स्मरण करते रहते हैं।’ आपने कॉमेडी में तो बहुत रंग जमाये हैं, लेकिन क्या आप गंभीर किस्म के रोल भी करना चाहते हैं? इस पर दिलीप जोशी कहते हैं-’नहीं मैं कॉमेडी को बहुत एंजॉय कर रहा हूं। बस अभी तो यही प्रार्थना है कि कोरोना के इस संकट काल में सभी स्वस्थ रहें। हालात जल्द ठीक हों और ‘तारक मेहता…’ की शूटिंग फिर से शुरू हो।’
अंगूरी भाभी शूटिंग के लिए तैयार
एंड टीवी के लोकप्रिय सीरियल ‘भाबी जी घर पर हैं’ की अंगूरी भाभी यानी शुभांगी अत्रे भी पिछले तीन महीने से घर पर ही हैं। इस दौरान वह सोशल मीडिया पर भी अच्छी ख़ासी एक्टिव रहीं। साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी की अपील पर कोरोना योद्धाओं के लिए अपने घर की बालकनी से थाली भी बजाई और घर पर दीपक भी जलाए। इन दिनों जब सीरियल की शूटिंग शुरू होने की हलचल कुछ तेज होने लगी है, तब क्या शुभांगी शूटिंग के लिए तैयार हैं? शुभांगी बताती हैं-‘जी अब शूटिंग के लिए तैयार होना ही है। क्योंकि कोरोना तो अब पूरी तरह तभी जाएगा जब इसकी कोई वैक्सीन बनेगी या कोई दवाई आएगी। पहले हम दिन रात काम करते थे और अपने लिए वक्त नहीं मिलता था। लेकिन अब लगातार महीनों घर पर रहने से हमको हताशा सी होने लगी है। इसलिए अब जो भी दिशा निर्देश हैं उनका सख्ती से पालन करते हुए हमको शूटिंग करनी पड़ेगी। जिससे हम भी शूटिंग पर लौटें और दर्शकों को ‘भाबी जी घर पर हैं’ के नए एपिसोड देखने को मिलें। हमारी प्रोड्यूसर भी इसी प्लान में जुटी हैं कि सुरक्षा मानकों के साथ कैसे शूटिंग शुरू हो। हम तमाम सावधानियां बरतेंगे तो हम कोरोना संक्रामण से खुद का बचाव कर सकते हैं। आयुष मंत्रालय ने भी आयुर्वेदिक नुस्खे बताए हैं जो काफी फायदेमंद हैं। उन्हीं को अपनाते हुए हम शूटिंग कर सकते हैं।’
लंबे सीरियल नहीं करेंगी दीपिका
रामानंद सागर के ‘रामायण’ सीरियल ने अपनी हालिया प्रसारण में जो लोकप्रियता पाई है, वह सभी को हैरान कर रही है। लॉकडाउन के दिनों में दूरदर्शन पर हुए ‘रामायण’ के प्रसारण ने तो टीआरपी के मामले में वर्ल्ड रिकॉर्ड तक बना डाला। इन दिनों भी यही ‘रामायण’ स्टार प्लस पर प्रसारित हो रहा है। इससे ‘रामायण’ के प्रमुख कलाकार लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। सीता की भूमिका करने वाली दीपिका भी बहुत खुश हैं। हाल ही में दीपिका से बात हुई तो उन्होंने बताया, ‘मुझे खुशी इस बात की है इस बार मैंने ‘रामायण’ को अपनी बेटियों और पति के साथ बैठकर देखा।’ दीपिका जब 1987 के दौर में ‘रामायण’ सीरियल कर रही थीं, तब उनकी शादी भी नहीं हुई थी, लेकिन शादी के बाद दीपिका ने सीरियल और फिल्मों, दोनों से दूरी बना ली थी। हां उनको इस दौरान एक बड़ी उप्लब्धि यह मिली कि वह ‘सीता’ की लोकप्रियता की बदौलत, सन 1991 में गुजरात के बड़ोदरा से भाजपा के टिकट पर लोकसभा सांसद बन गईं थीं। लेकिन 5 साल सांसद रहने के बाद दीपिका ने अपने पति हेमंत टोपीवाला के कॉस्मेटिक बिजनेस को संभालना शुरू कर दिया। क्या इन दिनों भी आप अपना फैमिली बिजनेस देख रही हैं? पूछने पर दीपिका ने कहा-‘नहीं अब तीन साल से मैं फिर से अभिनय की दुनिया में लौट आई हूं। बिजनेस और एक्टिंग दोनों साथ नहीं करना चाहती। इसलिए अब मेरा पूरा फोकस अभिनय पर है। मैंने 2018 में गुजराती फिल्म ‘नट सम्राट’ की थी और पिछले साल आयुष्मान खुराना के साथ हिन्दी फिल्म ‘बाला’ में भी मेरा छोटा सा रोल रहा। ‘रामायण’ के दोबारा प्रसारण के बाद मुझे अब फिर से प्रस्ताव मिलने लगे हैं। मैं सीरियल भी कर सकती हूं, लेकिन सीरियल में लंबे रोल के लिए सुबह 7 से रात 12 बजे तक मैं रोज काम नहीं कर सकती। हां सीरियल में अच्छे केमियो रोल मिलें, 15-20 दिन के काम वाले तो वो कर सकती हूं और वेब सीरीज भी। यूं अभी मेरी दो फिल्में पूरी हुईं हैं। एक है ‘दीनदयाल-एक युग पुरुष।’ जबकि दूसरी है ‘गालिब।’ इन फिल्मों में मेरा काम सभी को पसंद आएगा, यह कह सकती हूं।

सभी चित्र : प्रदीप सरदाना

अभिषेक बच्चन भी वेब सीरीज में
हाल ही में अमिताभ बच्चन ने अपनी फिल्म ‘गुलाबो सिताबो’ से डिजिटल वर्ल्ड में शानदार एंट्री ली है। इधर अब उनके पुत्र अभिषेक बच्चन भी अपना डिजिटल डेब्यू करने को तैयार हैं। अभिषेक का डिजिटल की दुनिया में पहला कदम वेब सीरीज ‘ब्रीथ इन टू द शेडोज़’ से हो रहा है जिसकी स्ट्रीमिंग 10 जुलाई को अमेजॉन प्राइम पर होगी जो 200 देशों में एक साथ उपलब्ध होगी। अमित साध, नित्या मेनन और सयामी खेर इस वेब सीरीज के अन्य प्रमुख कलाकार हैं। अबुंदंतिया एंटरटेंनमेंट बैनर से बनी इस सीरीज का निर्देशन मयंक शर्मा ने किया है। यहां यह भी बता दें कि यह वेब सीरीज एक सायको क्राइम थ्रिलर है। इन दिनों ऐसी सीरीज दर्शकों में काफी पसंद की जा रही हैं। सीरीज को हिंदी के साथ मराठी, गुजराती, तमिल, तेलुगू, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी और बंगाली भाषाओं के उपशीर्षक के साथ देखा जा सकेगा।
सीरियल की शूटिंग कब शुरू होगी
यूं तो महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में सीरियल की शूटिंग की अनुमति गत एक जून को ही दे दी थी। उम्मीद की जा रही थी कि 15 जून से शूटिंग शुरू हो जाएगी, लेकिन ऐसा हो नहीं सका। सीरियल की शूटिंग रुकी होने से जहां कलाकारों के साथ सीरियल से जुड़े अन्य क्रू मेंबर्स का आर्थिक नुकसान हो रहा है, वहीं सीरियल निर्माता, निर्देशक भी आर्थिक समस्याओं से गुजर रहे हैं। लेकिन सीरियल शूटिंग के लिए राज्य सरकार के नियम इतने सख्त हैं कि उन्हें पूरा करने में कई झमेले हैं। पहला तो यही कि शूटिंग में 10 साल से कम उम्र के बच्चे और 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग हिस्सा नहीं ले सकेंगे। फिर शूटिंग के दौरान कम से कम आदमी होंगे और जो यथा संभव सोशल डिस्टेसिंग का पालन करेंगे। इसके अलावा चुंबन या आलिंगन जैसे दृश्य भी फिल्मांकित नहीं किए जा सकेंगे। शूटिंग स्थल को सेनेटाइज तो कराते रहना होगा। उधर सेट पर एक एंबुलेंस, डॉक्टर और नर्स को रखना भी अनिवार्य होगा। फिर शूटिंग में भाग लेने वाले सभी लोगों का बीमा भी कराना होगा। अब यदि ये सभी शर्तें यथावात रहती हैं तो ज़ाहिर हैं निर्माताओं का पसीना निकल आएगा। शूटिंग से ज्यादा समय इन सभी शर्तों को पालन करने में लग जाएगा। लेकिन शूटिंग तो देर सवेर शुरू होंगी ही। इसलिए कई निर्माताओं ने शूटिंग की तैयारी शुरू कर दी है। इनमें तारक मेहता…, भाबी जी घर पर हैं, संतोषी मां, हप्पू की उलटन पुलटन और अंबेडकर जैसे सीरियल भी शामिल हैं। फिर भी जिस तरह के हालात हैं उन्हें देखकर लग रहा है कि सीरियल की शूटिंग जून अंत या जुलाई के प्रथम सप्ताह में ही शुरू हो सकेगी।


Comments Off on ‘गोलमाल’ देख रहे जेठा लाल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.