ताकि स्वस्थ रहें जेवर और कैश !    गर्मियों का लंच दलिया पुलाव !    जिम्मेदारी का अहसास !    जागो प्यारे !    वर्षा ऋतु !    एक्टिंग में फिर एक्टिव अनुष्का !    शक्ति बनेंगे शकुनि मामा !    हिंदी फीचर फिल्म इत्तेफाक़ !    अपनेपन से जाएगा डिप्रेशन !    गांवों के विकास में रोजगार !    

केरल के जंगल में गर्भवती हथिनी को पटाखे मिलाकर दिया अनानास, धमाके से मौत

Posted On June - 3 - 2020

कोच्चि, 3 जून (एजेंसी)
केरल में एक गर्भवती हथिनी मानवीय क्रूरता का शिकार हो गई। उसे किसी व्यक्ति ने पटाखे से भरा अनानास खाने को दिया जिसकी वजह से वह बुरी तरह से घायल हो गई और उसकी मौत हो गई। इससे एक महीने पहले भी एक हथिनी की मौत इसी तरह से हुई थी। ‘साइलेंट वैली फॉरेस्ट’ में एक गर्भवती हथिनी 27 मई को इस क्रूरता का शिकार हो गई। जब हथिनी ने अनानास को खाने की कोशिश की तो पटाखा उसके मुंह में ही फट गए। एक शीर्ष वन अधिकारी ने बताया कि इससे पहले भी अप्रैल में कोल्लम जिले के पुनालुर क्षेत्र के पथनापुरम में इसी तरह से एक हथिनी की मौत हो गई थी। अधिकारी ने बताया कि यह हथिनी अप्रैल में पथनापुरम के जंगल में वन अधिकारियों को गंभीर हालत में मिली थी। एक वरिष्ठ वन अधिकारी ने बताया, ‘हथिनी अपने झुंड से अलग मिली थी। उसका जबड़ा टूटा हुआ था और वह चलने में असमर्थ थी।’ उन्होंने बताया कि वन अधिकारियों ने जब उसे देखा तो वह काफी कमजोर थी लेकिन जब वे उसके समीप गए तो वह जंगल में भाग गई और अपने झुंड के साथ हो गई लेकिन अगले दिन भी वह अपने झुंड से अलग मिली। इसके बाद उसका उचित तरह से इलाज भी किया गया लेकिन उसकी मौत हो गई। अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में जांच शुरू की गई है। उन्होंने बताया कि हाथियों का झुंड एक दिन में कई किलोमीटर चलता है और इसकी वजह से एकदम सटीक स्थान का पता लगाना मुश्किल है।
केरल के वन मंत्री ने मांगी रिपोर्ट
केरल के वन मंत्री के राजू ने बताया कि उन्होंने शीर्ष वन अधिकारियों से हथिनी की मौत के संबंध में रिपोर्ट मांगी है। हथिनी पानी में मरी मिली जिसे पालतू हाथियों की सहायता से बाहर निकाला गया।


Comments Off on केरल के जंगल में गर्भवती हथिनी को पटाखे मिलाकर दिया अनानास, धमाके से मौत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.