शक्ति बनेंगे शकुनि मामा !    हिंदी फीचर फिल्म इत्तेफाक़ !    अपनेपन से जाएगा डिप्रेशन !    गांवों के विकास में रोजगार !    पूर्व पार्षद के बेटे ने लगाया फंदा, मौत !    पानीपत में मां-बेटियों समेत 21 को कोरोना !    पीएम मोदी से मिले खट्टर नये अध्यक्ष को लेकर चर्चा !    विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड स्तर पर !    एकदा !    बांदीपोरा में नाके पर ग्रेनेड फेंकने का प्रयास करते धरा आतंकी !    

एक साल बाद सुलझी लुधियाना से गायब युवती की हत्या की गुत्थी, मुठभेड़ में मारा गया आरोपी

Posted On June - 3 - 2020

मेरठ, 3 जून (भाषा)
पंजाब की एक युवती को प्रेमजाल में फंसाकर उससे शादी करने और फिर कथित रूप से उसकी निर्ममतापूर्वक हत्या करने के सनसनीखेज मामले में मुख्य आरोपी शाकिब मंगलवार को उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया। पंजाब के लुधियाना की रहने वाली इस युवती की सिर और हाथ कटी लाश एक साल पहले लोहिया गांव में एक खेत से बरामद की गयी थी।
इस तरह मारा गया शाकिब
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस लाइन में प्रेस कांफ्रेंस से थाने ले जाते समय शाकिब, सिपाही की पिस्टल छीनकर भाग गया। पीछा करने पर शाकिब ने सिपाही के सीने में गोली मार दी। ग्रामीणों और पुलिस की मदद से सिवाया के जंगल में शाकिब की घेराबंदी की गई, जिसमें गोली लगने से शाकिब घायल हो गया। चिकित्सालय में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। दौराला में एक साल पहले युवती की हत्या के मामले में पुलिस ने सोमवार को शाकिब, उसके भाई मुस्सरत, पिता मुस्तकीम, भाभी रेशमा, इस्मत और दोस्त अयान को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस लाइन में प्रेस कांफ्रेंस की गई थी। वहां से सभी मुल्जिमों को गाड़ी में बैठाकर थाने लाया जा रहा था कि उसी दौरान शाकिब के भागने पर मुठभेड़ हुई। एक घायल सिपाही को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
यह था मामला
गौरतलब है कि दौराला के लोहिया निवासी शाकिब ने 2019 में ईद के बाद चांद रात में लुधियाना की एकता को परिवार के साथ मिलकर मारा डाला था। उत्तर प्रदेश पुलिस ने हत्या के एक साल बाद इस सनसनीखेज मामले की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि 13 जून, 2019 को लोहिया गांव में सबी अहमद के खेत में पड़ोसी ईश्वर पंडित ने कुत्ते को इंसान का एक हाथ मुंह में लेकर भागते हुए देखा। जब गन्ने का खेत खुदवाया गया तो वहां से एक युवती की लाश बरामद हुई। उसका सिर और एक हाथ गायब था। युवती की पहचान नहीं हो पाई। जांच में कोई सफलता नहीं मिली।
इस तरह मिला कातिल
पुलिस की एक टीम को यह पता लगाने के काम में लगाया गया कि लोईया गांव के कौन-कौन लड़के बाहर काम करते हैं। वे जहां-जहां काम करते थे, वहां-वहां के थानों में मिसिंग केस दिखवाए गए। आखिरकार पंजाब में जाकर पुलिस को सफलता मिली। एक साल की मेहनत के बाद पुलिस आखिर उस युवती तक पहुंच गई जो लापता थी। 23 वर्षीय युवती की पहचान लुधियाना में मोतीनगर थाना क्षेत्र निवासी एकता पुत्री संजीव कुमार के रूप में हुई। एसएसपी के अनुसार एकता बीकॉम की छात्रा थी और पढ़ाई के साथ-साथ पार्ट टाइम जॉब भी करती थी। बीमार होने पर वह लुधियाना में तांत्रिक क्रिया करने वाले दौराला के लोहिया निवासी शाकिब के पास उपचार कराने गई थी। उस समय शाकिब लुधियाना में दिलशाद के पास काम करता था। शाकिब ने एकता को अपने प्रेमजाल में फंसाया। उसने युवती को अपना नाम अमन बताया था। इसलिए एकता भी उससे शादी करने के लिए तैयार हो गई। पिछले साल मई में दोनों लुधियाना से फरार हो गए। एकता अपने घर से 15 तोले सोना और 15 लाख रुपये लेकर आई थी। एकता को लेकर शाकिब अपने गांव आ गया। यहां शाकिब ने एकता से घर में ही शादी की।
इस तरह की हत्या
सुहागरात के बाद अपने परिवार की मदद से कोल्ड ड्रिंक में नशीली गोली डालकर पिला दी। एसएसपी ने बताया कि उसके बाद वह अपने भाई मुस्सरत, पिता मुस्तकीम, भाभी रेशमा पत्नी नवेद और इस्मत पत्नी मुस्सरत एवं गांव के साथी अयान की मदद से युवती को लोहिया गांव के जंगल में लेकर आ गए। रेशमा ने एकता के सभी कपड़े उतार दिए। उसके बाद सभी ने मिलकर उसके हाथ, पैर, सिर काट कर अलग-अलग कर दिए। धड़ को गन्ने के खेत में गड्ढे में दबाकर नमक डाल दिया जबकि हाथ, पैर और सिर को गांव के तालाब में फेंक दिया। एसएसपी ने बताया कि बाद में आरोपी शाकिब युवती के मोबाइल फोन और उसके व्हाट्सअप में समय-समय पर स्टेट्स बदलता रहा ताकि यह लगे कि वह जिंदा है।


Comments Off on एक साल बाद सुलझी लुधियाना से गायब युवती की हत्या की गुत्थी, मुठभेड़ में मारा गया आरोपी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.