सोना तस्करी मामला : केरल के आईएएस अधिकारी से 9 घंटे तक पूछताछ ! !    बैगन-आर और बलेनो के ईंधन पंप खराब, 1.35 लाख कारें वापस मंगाई !    कोरोना : देश में एक दिन में रिकार्ड 29,429 नये मामले! !    सीबीएसई ने घोषित किया 10वीं कक्षा का परिणाम !    संयुक्त राष्ट्र के उच्च स्तरीय सत्र को संबोधित करेंगे मोदी !    ट्रंप ने अंतर्राष्ट्रीय छात्रों से संबंधित वीजा नीति की रद्द, भारतीय विद्यार्थियों को मिली राहत! !    सुक्खा गिल लम्मे गैंग ने की मोगा में व्यापारी की हत्या, फेसबुक पर ली जिम्मेदारी! !    पायलट बना सकते हैं अपनी अलग पार्टी, कहा-भाजपा में शामिल होने से किया इनकार! !    विधायकों के स्टडी टूर पर बैन, अब नहीं जा सकेंगे राज्य से बाहर !    पायलट को हटाए जाने के बाद प्रियंका ने की सोनिया से मुलाकात !    

बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 1.2% रहने का अनुमान : एसबीआई

Posted On May - 26 - 2020

2020-21 में वृद्धि दर -6.8 फीसदी रहने का अनुमान

मुंबई, 26 मई (एजेंसी)
देश की जीडीपी वृद्धि दर के बीते वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही के दौरान 1.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है। एक रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के चलते आर्थिक गतिविधियां थम गई, जिसका असर आर्थिक वृद्धि पर हुआ। एसबीआई की शोध रिपोर्ट इकोरैप के अनुसार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि के पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में 4.2 प्रतिशत और वित्त वर्ष 2020-21 में नकारात्मक 6.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) 29 मई को वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही के जीडीपी वृद्धि के आंकड़ों की घोषणा करेगा। पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि घटकर सात साल के निचले स्तर 4.7 प्रतिशत पर आ गई थी। वित्त वर्ष 20202 की पहली और दूसरी तिमाही में वृद्धि दर क्रमश: 5.1 प्रतिशत और 5.6 प्रतिशत थी।       शोध रिपोर्ट में कहा गया है कि हमारा मानना है कि चौथी तिमाही (वित्त वर्ष 2019-20) में जीडीपी वृद्धि 1.2 आसपास होगी, क्योंकि मार्च महीने के आखिरी सात दिनों में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के चलते आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह ठप पड़ गईं थीं। रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन के उन सात दिनों में कम से कम 1.4 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘ऐसे में वित्त वर्ष 2019-20 की वार्षिक वृद्धि दर करीब 4.2 प्रतिशत रहेगी, जिसके पाच प्रतिशत रहने का अनुमान था। रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि वित्त वर्ष 2020-21 में जीडीपी वृद्धि नकारात्मक 6.8 प्रतिशत के करीब रह सकती है और सकल मूल्यवर्धित (जीवीए) वृद्धि करीब नकारात्मक 3.1 प्रतिशत रहेगी।


Comments Off on बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 1.2% रहने का अनुमान : एसबीआई
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.