पायलट को हटाए जाने के बाद प्रियंका ने की सोनिया से मुलाकात !    सुप्रीमकोर्ट का उम्रकैद की सजा भुगत रहे बाबा रामपाल को पैरोल से इनकार !    खराब मौसम के कारण यूएई का पहला मंगल अभियान शुक्रवार तक स्थगित !    राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिये खुद को करें नामांकित : निशंक !    सत्य को परेशान किया जा सकता है पराजित नहीं : पायलट !    विधायक की मौत को लेकर उत्तरी बंगाल में भाजपा का बंद !    राजस्थान : सचिन पायलट से छीना उप-मुख्यमंत्री पद, 2 मंत्रियों की भी छुट्टी! !    एक अगस्त तक खाली कर दूंगी सरकारी आवास : प्रियंका !    विकास दुबे का सहयोगी शशिकांत गिरफ्तार, पुलिस से लूटी एके-47, इंसास राइफल बरामद !    भारत और चीन की कोर कमांडर-स्तरीय वार्ता का चौथा दौर शुरू !    

नेगेटिव समझ घर भेजे 15 निकले कोराेना पॉजिटिव

Posted On May - 29 - 2020

कपिल बस्सी/निस
हमीरपुर, 28 मई
प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के बीच आपसी तालमेल की कमी के कारण आज जनता कोरोना के ऐसे साये में जीने को मजबूर है, जिससे निकलना मुश्किल हो सकता है। वर्तमान में स्वास्थ्य विभाग को अगर कन्फ्यूज विभाग का नाम दिया जाए तो शायद गलत नहीं होगा। स्वास्थ्य विभाग एक बार फिर आपसी तालमेल व कन्फ्यूजन के कारण सुर्खियों में आ गया है। प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण गत मध्यरात्रि को कोरोना पॉजिटिव मरीजों को जिन-जिन क्षेत्रों से ले जाया गया वहां-वहां गांवों में सारी रात हड़कंप मचा रहा। क्षेत्र के लोग इस प्रकरण के लिए प्रशासन को दोषी ठहरा रहे हैं।
ज्ञातव्य है कि कुछ दिन पहले 15 लोगों को यह कहकर घर भेज दिया गया था कि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव है और अब उन्हें होम क्वारंटाइन में रहना होगा। एसडीएम भोरंज ने सभी पॉजिटिव लोगों को घर भेजने के आदेश जारी किए थे। अब प्रशासन ने मामला ध्यान में आते ही जांच बिठा दी है। स्वास्थ्य विभाग ने भी इस मामले की जांच शुरू कर दी है। सीएमओ डॉ. अर्चना सोनी ने कहा कि इस मामले की पड़ताल की जा रही है। इस सारे मामले की सरकार ने रिपोर्ट तलब की है। प्रशासनिक अफसरों समेत अस्पताल प्रशासन के भी कई अधिकारियों पर गाज गिर सकती है।
कोरोना संक्रमित मुंबई से हमीरपुर लौटे थे, जिन्हें जवाहर नवोदय विद्यालय डुंगरी, भोरंज में संस्थागत क्वारंटाइन किया गया था। स्वास्थ्य विभाग ने इनके सैंपल लेकर जांच के लिए आईएचबीटी पालमपुर भेजे थे। ये सभी 18 व 19 को मुम्बई से आये थे। लेकिन 27 मई को शाम होते होते ही इन 15 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की हवाइयां उड़ गईं। देर रात इन 15 लोगों को घर से एम्बुलेंस में भरकर कोविड केयर सेंटर भेज दिया गया।

जांच के दिये आदेश
मुद्दा गर्माता देख जिला उपायुक्त हरिकेश मीणा ने अपने कार्यालय में मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि उन्होंने इस सारे घटनाक्रम की जांच के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने कहा कि मामले की गहनता से छानबीन की जाएगी।

 


Comments Off on नेगेटिव समझ घर भेजे 15 निकले कोराेना पॉजिटिव
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.