रिसर्च से पुष्टि, पशुओं में नहीं फैलता कोरोना !    हल्दीयुक्त दूध कोरोना रोकने में कारगर !    ऑनलाइन पाठशाला में मुक्केबाजों के अभिभावक भी शामिल !    फेसबुक ने घृणा फैलाने वाले 200 अकाउंट हटाए !    अश्लीलता फैलाने और राष्ट्रीय प्रतीकों के अपमान में एकता कपूर पर केस दर्ज !    भारत के लिए आयुष्मान भारत को आगे बढ़ाने का अवसर : डब्ल्यूएचओ !    पाक सेना ने एलओसी के पास ‘भारतीय जासूसी ड्रोन' को मार गिराने का किया दावा !    भारत-चीन अधिक जांच करें तो महामारी के ज्यादा मामले आएंगे : ट्रंप !    5 कर्मियों को कोरोना, ईडी का मुख्यालय सील !    भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों देशों में हुई लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की बातचीत !    

कर्ज लौटाने के लिए अगस्त तक मोहलत

Posted On May - 23 - 2020

मुंबई, 22 मई (एजेंसी)
रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को कर्जदारों को एक बार फिर राहत देते हुए किस्त लौटाने के लिए तीन महीनों की और मोहलत देने का फैसला किया। कोरोना के कारण लोगों की आमदनी प्रभावित हुई है और इस फैसले से उन्हें राहत मिलेगी। इससे पहले मार्च में केंद्रीय बैंक ने एक मार्च 2020 से 31 मई 2020 के बीच ऋण (एक साल और उससे अधिक अवधि वाले कर्ज) के भुगतान पर तीन महीनों की मोहलत दी थी।
आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि वित्तीय संस्थानों को इजाजत दी गई है कि वे ग्राहकों को कर्ज की किस्त लौटाने को लेकर तीन और महीनों की मोहलत एक जून से 31 अगस्त 2020 तक दे सकते हैं।
समय-सारिणी और आगे की सभी बकाया तारीखें, और इन ऋणों की अवधि आगे तीन महीनों के लिए बढ़ाई जा सकती है। ऋण अदायगी टालने के चलते लोगों के बैंक खातों से ईएमआई नहीं ली जाएगी और कर्जदारों के पास पर्याप्त नकदी बची रहेगी।

जीडीपी में  आ सकती है गिरावट
रिजर्व बैंक ने कहा कि कोरोना संकट का असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर पहले के अनुमान के मुकाबले ज्यादा रह सकता है। लॉकडाउन के चलते आर्थिक गतिविधियां बाधित होने से चालू वित्त वर्ष के दौरान देश की जीडीपी में गिरावट आ सकती है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मुद्रास्फीति परिदृश्य भी ‘काफी अनिश्चित’ बना रहेगा।

प्रमुख उधारी दर में  0.40 % की कटौती
आरबीआई ने प्रमुख उधारी दर 0.40 प्रतिशत घटाया है। मौद्रिक नीति समिति ने वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए रेपो दर में कटौती का निर्णय सर्वसम्मति से लिया। कटौती के बाद रेपो दर घटकर 4 प्रतिशत हो गई है, जबकि रिवर्स रेपो दर 3. 35 प्रतिशत हो गई है। समिति ने पिछली बार 27 मार्च को रेपो दर (जिस दर पर केंद्रीय बैंक बैंकों को उधार देता है) में 0.75 प्रतिशत की कमी करके इसे 4.44 प्रतिशत कर दिया था।


Comments Off on कर्ज लौटाने के लिए अगस्त तक मोहलत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.