‘नवलखा, तेल्तुम्बडे हफ्ते में करें सरेंडर’ !    सोपोर में जैश का कमांडर ढेर, एक जवान जख्मी !    राहत सामग्री देते वक्त फोटो न खींचें !    राहत सामग्री देते वक्त फोटो न खींचें !    अफगानिस्तान में अगवा कर 7 लोगों की हत्या !    हरियाणा के हर जिले में होंगे रैंडम टेस्ट !    5 लाख तक की लंबित आयकर राशि की वापसी तुरंत !    किसानों से सीधी खरीद की दें अनुमति : केंद्र !    11 दिन में हिंसा, उत्पीड़न की आईं 92 हजार शिकायतें !    24 घंटे में 485 केस, 25 की मौत !    

सेनेटाइजर है मेरे पास

Posted On March - 24 - 2020

उलटवांसी

आलोक पुराणिक

गब्बर सिंह आधुनिक संदर्भ में होता तो सांभा उसे रिपोर्ट करता—सरदार पूरा गांव खाली है, कुछ क्वारंटाइन जैसा मामला है। लोग हैंड सेनेटाइजर, साबुन बचाकर भाग रहे थे, हम उन्हें ही लूट लाये हैं।
गब्बर सिंह डपटता सांभा को, अबे हम डाकू हैं, हत्यारे नहीं हैं। ये हैंड सेनेटाइजर वापस करके आ। और खबरदार जो फिर कभी ऐसी गैर-जिम्मेदार कैमिस्टाना हरकत की।
इधर, कई कैमिस्ट अपनी राह एकदम ही भटक गये हैं। हैंड सेनेटाइजर, साबुन, हैंड वाश वगैरह को ब्लैक में बेच रहे हैं। इनका बस चले तो कोरोना को कभी खत्म ही न होने दें। कोरोना से विनम्र निवेदन करें कि अब आ ही गये, तो कहां जा रहे हो।
कमा-कमाकर रख लो, कोरोना मारते वक्त बैंक बैलेंस देखकर नहीं छोड़ता। ट्रंप से लेकर टुच्चूमल तक सबको डराता है कोरोना। यह सच समझना बहुत मुश्किल तो नहीं है, पर लालच का पर्दा पड़ जाये आंखों पर तो कुछ साफ बातें भी साफ नहीं दिखतीं।
दीवार फिल्म फेम के क्लासिक डायलाग अब नये संदर्भों में कुछ यूं हो जायेंगे—
मेरे पास कार हैं, बंगला हैं, कोठी है, बैंक बैलेंस है। तेरे पास क्या है।
भाई, मेरा पास हैंड सेनेटाइजर है, जो तेरे पास नहीं है।
हां, मेरे पास नहीं है, क्योंकि सारे बड़े सेठों ने इसकी कालाबाजारी शुरू कर दी है।
भाई, कालाबाजारी के खिलाफ जंग करते हैं। तू स्मगलिंग काले धंधे छोड़ दे। साइन कर दे इस कागज पर।
जाओ पहले उस आदमी का साइन लेकर आओ, जिसने सबसे पहले हैंड सेनेटाइजर की कालाबाजारी की थी।
भाई, हैंड सेनेटाइजर की सबसे पहली कालाबाजारी किसने की, यह मैं नहीं जानता, पर सबसे आखिरी कालाबाजारी का मामला हम पक्का कर सकते हैं। कालाबाजारी पर रोक लगा सकते हैं।
इटली से लेकर इल्लीपुर तक मार मची हुई है कोरोना पर। पाकिस्तान के पीएम इमरान को जब पहली बार बताया गया कि कोरोना ने पाकिस्तान में भी कहर मचाना शुरू किया है, तो इमरान खान ने कहा—हम उनसे एटम बमों से निपट लेंगे।
इमरान को बताया गया कि चीन के पास तो आपके मुकाबले बहुत ज्यादा और बहुत बड़े एटम बम हैं, वो न निपट पाये तो आप कैसे निपट लेंगे।
इमरान खान ने कहा-चीन के पास चाइनीज टाइप के नकली एटम बम हैं, हमारे पास तो असली पाकिस्तानी वाले एटम बम हैं।
पाकिस्तान के पास एटम बम बहुत हैं, पर अस्पताल बहुत नहीं हैं। कोरोना से निपटने के लिए अस्पताल चाहिए होते हैं, यह बात बहुत सिंपल है। पर पाकिस्तानी हुक्मरानों को आसानी से समझ न आती।


Comments Off on सेनेटाइजर है मेरे पास
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.