हथीन 10 बांग्लादेशी मिलने से हड़कंप !    सीबीएसई : 11वीं में अब ‘अप्लाइड मैथ्स’ का भी विकल्प !    बीएस-4 मानें कोर्ट का आदेश : केंद्र !    बिना सब्सिडी गैस सिलेंडर 61.5 रुपये सस्ता !    चीन ने लक्षण मुक्त मामलों का किया खुलासा !    महामारी के 10 हॉटस्पॉट !    अभिनेता एंड्रियू जैक की कोरोना से मौत !    जम्मू-कश्मीर : समूह-4 तक की नौकरियां होंगी आरक्षित !    विप्रो व अजीम प्रेमजी फाउंडेशन देंगे 1125 करोड़ !    यूबीआई और ओबीसी का पीएनबी में विलय !    

सुरक्षा कवच हैं ये एप

Posted On March - 14 - 2020

अपने फोन पर कुछ एप ज़रूर डाउनलोड करके रखें। ये एप आपके लिये सुरक्षा कवच का काम करेंगे।
सेफ्टीपिन
यह एप ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम, यानी जीपीएस (GPS) से लगातार यूजर के लोकेशन को ट्रैक करता है और आपातकाल के दौरान एमर्जेंसी नंबर पर वन-टच अलर्ट भेजने की सुविधा देता है। इसके साथ ही आपातकाल के दौरान आसपास के सुरक्षा स्थानों के बारे में भी बताता है। यह एप हिंदी और अंग्रेजी भाषाओं के सपोर्ट के साथ एंड्रॉयड फोन और आइओएस दोनों ऑपरेटिंग सिस्टम पर उपलब्ध है।
शेक टू सेफ्टी
इस एप के जरिये एसओएस संदेश बस फोन को हिलाकर या पावर बटन को 4 बार दबाकर पहले से सेट किये गये कॉन्टैक्ट्स को भेजा जा सकता है। फोन शेकिंग ऑप्शन को किसी भी समय यूजर एक्टिवेट या डीएक्टिवेट किया जा सकता है। ऐसे हालात में जब यूज़र फोन को ऑपरेट करने में असमर्थ है, यह एप बहुत उपयोगी है।
बीसेफ
इस एप की मदद से महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखा जाता है और उनके एमर्जेंसी कॉन्टेक्ट्स, जैसे- पैरेंट्स और फ्रेंड्स को लाइव लोकेशन शेयरिंग के बारे में पता चलता है। मुश्किल हालात में लोकेशन के साथ एसओएस मैसेज भेजा जा सकता है।
स्मार्ट ट्वेटी फॉर सेवन
यह एप इमरजेंसी सिचुएशन में यूज़र के एसओएस मैसेज को सेट किये गए कॉन्टैक्ट्स को भेजती है। इस एप में एक पैनिक बटन दिया गया होता है। मुश्किल परिस्थितियों में इस बटन को दबाने पर तुरंत कॉन्टैक्ट्स को मैसेज भेजा जा सकता है।


Comments Off on सुरक्षा कवच हैं ये एप
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.