प्रेस लिखे वाहन में यूपी से आए 3 लोग भेजे शेल्टर होम !    शेल्टर होम में रहने वालों को मिलेंगी सभी सुविधाएं !    द. अफ्रीका में जन्मे कॉनवे को न्यूजीलैंड से खेलने की छूट !    तबलीगी जमात के कार्यक्रम ने बढ़ाई चिंता !    ‘बढ़ाना चाहिए विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का समय’ !    लंकाशर क्लब चेयरमैन हॉजकिस की कोरोना से मौत !    24 घंटे में बनायें सही सूचना देने वाला पोर्टल : सुप्रीम कोर्ट !    भारत-चीन को छोड़कर बाकी विश्व में मंदी का डर !    भारत में तय समय पर होगा अंडर-17 महिला विश्वकप !    हिमाचल में 14 तक बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय !    

नये सिरे से ओलंपिक की मेजबानी में जुटा जापान

Posted On March - 26 - 2020

टोक्यो, 25 मार्च (एजेंसी)

ओलम्पिक समिति के अध्यक्ष थॉमस बाक लुसाने में एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए। -एएफपी

कोरोना वायरस महामारी के बीच ओलंपिक को एक साल के लिये टालने का फैसला लेने के बाद अब टोक्यो के सामने नये सिरे से खेलों की मेजबानी की तैयारी की चुनौती है। शांतिकाल में पहली बार स्थगित हुए इन खेलों से जुड़े हर पहलू मसलन आयोजन स्थलों, सुरक्षा, टिकट और रहने की व्यवस्था पर नये सिरे से काम करना होगा। अभी यह भी तय नहीं है कि खेलों की तारीखें क्या होगी। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के प्रमुख थामस बाक ने बुधवार को कहा कि जरूरी नहीं है कि खेल गर्मियों में ही कराये जायें। उन्होंने कहा,‘सारे विकल्प खुले है।’ अंतरराष्ट्रीय पैरालम्पिक समिति के प्रवक्ता क्रेग स्पेंस ने कहा,‘ऐसा लग रहा है कि दुनिया की सबसे बड़ी जिगसॉ पहेली पूरी करने में बस एक टुकड़ा लगाना था और अब नये सिरे से शुरू करना होगा। समय भी बहुत नहीं रह गया है।’ जापान ने इन खेलों को ‘रिकवरी ओलंपिक’ के तौर पर प्रचारित किया था। वह दुनिया को दिखाना चाहता है कि भूकंप, सुनामी और परमाणु रिसाव की त्रासदी झेलने के बाद भी वह खेलों की मेजबानी करने में सक्षम है। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि अगले साल होने वाले टोक्यो 2020 इस नये वायरस पर इंसान की जीत की बानगी देंगे।’ जापान सरकार के प्रवक्ता ने कहा,‘अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बातचीत में भी उन्होंने यही संदेश दोहराया। दोनों नेताओं ने इस पर सहमति जताई कि ये खेल नये कोरोना वायरस पर इंसान की जीत का सबूत होंगे।’ आयोजकों के सामने अभी कई अनुत्तरित प्रश्न हैं। मसलन क्या आयोजन स्थल उपलब्ध होंगे। टिकटधारकों और स्वयंसेवियों का क्या। अगले साल के खेल कैलेंडर में ओलंपिक के लिये जगह कैसे बनेगी।

खेलगांव को लेकर नयी दुविधा
टोक्यो बे के सामने बने सैकड़ों आलीशान अपार्टमेंटों में जुलाई अगस्त में जमकर रौनक लगने वाली थी लेकिन अब ओलंपिक स्थगित होने से आयोजकों के सामने नयी दुविधा पैदा हो गई है क्योंकि खेलगांव के ये महंगे अपार्टमेंट पहले ही बिक चुके हैं। इस खेलगांव में 11000 खिलाड़ियों को रहना था। शहर का अद्भुत नजारा दिखाते इन अपार्टमेंट में कुछ फ्लैट की कीमत 15 लाख डालर तक है।

टोक्यो ओलम्पिक स्थगन के एक दिन बाद 25 मार्च को एक्वामरीन फुकुसिमा एक्वेरियम में ओलम्पिक मशाल को एक लालटेन में ट्रांसफर करते आयोजन समिति के सदस्य । -एएफपी

अब इन्हें खरीदने वालों के सामने अनिश्चितता की स्थिति बन गई है। तोक्यो प्रॉपर्टी सेंट्रल की निदेशक जो वार्ड ने कहा,‘खरीदारों को इससे बड़ी असुविधा होगी।’ अब खरीदार अनुबंध को खंगालने में जुट गए हैं कि कैसे सुरक्षा जमा गंवाये बिना उन्हें पैसा वापस मिल जाये। वार्ड ने कहा,‘करार में लिखा है कि प्राकृतिक आपदा या विक्रेता के नियंत्रण के बाहर की चीजें इस वर्ग में आयेगी।’

ओलंपिक खेल रद्द करने की मांग
जापान में ओलंपिक खेल विरोधी इस समूह ने ट्वीट किया ,‘हम स्थगन नहीं चाहते। हम चाहते हैं कि ये खेल रद्द हों।’ मंगलवार को खेल स्थगित किये जाने की घोषणा के कुछ मिनट बाद ही चंद प्रदर्शनकर्ता शहर के बीच जमा हो गए। इनमें से एक तोशियो मियाजाकी ने कहा,‘हम विभिन्न कारणों से हर महीने रैली कर रहे हैं। हमें खेलों के व्यवसायीकरण से चिढ है। हम तोक्यो ओलंपिक के खिलाफ हैं।’ तोक्यो स्थानीय प्रशासन के लिये काम करने वाले मियाजाकी ने कहा,‘कोरोना वायरस के कारण खेल स्थगित हो गए हैं लेकिन जापान के लोगों को दोबारा सोचना चाहिये कि क्या ओलंपिक कराना वाकई जरूरी है।’


Comments Off on नये सिरे से ओलंपिक की मेजबानी में जुटा जापान
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.