चालकों को दिये गुलाब, कहा कृपया घर में रहें !    सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाई तो होगी कार्रवाई !    कल तक सभी डिपो में राशन पहुंचाएं अधिकारी !    जेपी और पंत अस्पताल में आज से ओपीडी बंद !    मुंबई में आवासीय इकाइयों की बुकिंग 78% गिरी !    पीएम ने किया कोहली, सचिन से लोगों को जागरूक करने का आग्रह !    भारत से लौटे दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के टेस्ट ‘नेगेटिव' !    पर्ल हत्याकांड : फांसी को कैद में बदलने पर पाक की निंदा !    बेटी की हत्या का आरोपी गिरफ्तार, भाई फरार !    ब्रिटेन के काॅमेडियन एडी लार्ज की संक्रमण से गयी जान !    

कोरोना से  सहमा बॉलीवुड

Posted On March - 21 - 2020

असीम चक्रवर्ती

कोरोना ने दुनिया भर में कोहराम मचा रखा है। शेयर बाज़ार, हेल्थ सेक्टर ही नहीं, बॉलीवुड और हॉलीवुड पर भी कोरोना वायरस की मार देखी जा रही है। कई फिल्में बॉक्स ऑफिस पर से उतार दी गईं तो कुछ की रिलीज़ डेट टाल दी गई। अक्षय कुमार की ‘सूर्यवंशी’ 24 मार्च को रिलीज़ होनी थी लेकिन डायरेक्टर रोहित शेट्टी ने ऐलान कर दिया कि फिलहाल वह फिल्म रिलीज़ नहीं कर रहे हैं। इस फिल्म के साथ अजय, रणबीर और कटरीना जैसे सितारे भी जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं, कोरोना से जूझ रहे लोगों को जागरूक करने के लिये अमिताभ बच्चन भी आगे आए हैं। लोगों को जागरूक करते हुए बिग बी ने उनसे इस महामारी का डटकर सामना करने के लिये कहा।

बॉक्स ऑफिस और इंटरनेशनल मार्केट पर असर
कोरोना का असर बॉक्स ऑफिस पर ही नहीं बल्कि इंटरनेशनल मार्केट से भी आंका जा सकता है। देखा जाये तो भारत के ओवरऑल बॉक्स ऑफिस कलेक्शन में 30 से 40 फीसदी हिस्सेदारी इंटरनेशनल मार्केट की होती है। अगर आंकड़ों पर नज़र डालें तो साल 2018 में, चीन भारतीय फिल्म कंटेट के लिए सबसे बड़ा इंटरनेशनल मार्केट है, क्योंकि भारतीय फिल्मों के कुल 1950 करोड़ के कारोबार में चीन की हिस्सेदारी काफी ज्यादा है। वहीं, चीन में भारतीय फिल्मों की संख्या में बीते सालों में लगातार इजाफा दिखा है। साल 2016 में 2 फिल्में रिलीज़ हुई थीं और 2018 में यह आंकड़ा बढ़कर 10 हो गया था।
साल 2018 में अक्षय कुमार की पेडमैन चीन में रिलीज़ हुई थी, जिसने 31 दिनों में 71.67 करोड़ का कलेक्शन किया था। उसके बाद अक्षय कुमार की फिल्म ‘टॉयलेट-एक प्रेम कथा’ ने भी 97.2 करो़ड़ का कलेक्शन किया था। वहीं, ‘अंधाधुन’, ‘पीके’, ‘बजरंगी भाईजान’, ‘हिंदी मीडियम’, ‘सीक्रेट सुपरस्टार’, ‘3 इडियट्स’ ने भी अच्छा प्रदर्शन किया था।

‘सूर्यवंशी’ की रिलीज डेट खिसकी
निर्माता करण जौहर और हिट निर्देशक रोहित शेट्टी की सूर्यवंशी पिछले साल ही रिलीज़ हो जानी थी। अब कोरोना के चलते फिर इसकी रिलीज डेट टल गयी है। जबकि ज्यादातर ट्रेड विश्लेषकों की गणना के मुताबिक यह फिल्म 300 करोड़ की कमाई तक पहुंचती। असल में महाराष्ट्र सरकार के एक आदेश के मुताबिक 24 मार्च से मुंबई के सारे मॉल्स आदि 24 घंटे खुले रहने थे। इस आदेश का बड़ा लाभ लेने के लिए ही इस फिल्म को मुंबई में 27 मार्च की बजाय 24 मार्च को रिलीज़ करने की योजना थी, ताकी मुंबई के सारे मल्टीप्लेक्स थियेटर इसके ज्यादा शो दिखा सकें। निश्चित तौर पर इस बंदी के बाद इसका क्रेज़ काफी कम हुआ है। करण जौहर कहते हैं, ‘हमने इसका प्रमोशन लगभग समाप्त कर लिया था। अब न्यू रिलीज़ डेट के साथ हमें इसका थोड़ा- बहुत प्रमोशन तो करना ही पड़ेगा। अमूमन ऐसे आपातकाल के लिए कोई तैयार नहीं होता, लेकिन अब हम सब सजग और तैयार हैं।

फ्लॉप के बाद कोरोना की मार
एक ट्रेड रिपोर्ट को आधार बनाएं तो पिछले तीन माह में फिल्म इंडस्ट्री को कम-से-कम 40 फ्लॉप फिल्मों की मार झेलनी पड़ी है। शिमला मिर्ची, छपाक, स्ट्रीट डांसर, पंगा, हैप्पी हार्डी और हीर, जवानी जानेमन, गुल मकई, शिकारा, मलंग, हैक्ड, भूत-पार्ट-1, शुभ मंगल ज्यादा सावधान, थप्पड़ जैसी कई बड़ी फिल्मों की पराजय के साथ ही लगातार छोटी फिल्मों की विफलता के बाद इंडस्ट्री ने ‘बागी-3’, ‘अंग्रेजी मीडियम’, ‘सूर्यवंशी’ जैसी कुछेक चर्चित फिल्मों में एक राहत की सांस ढूंढ ली थी कि अचानक कोरोना वायरस के प्रकोप ने उसे फिर संकट में ला खड़ा किया है। इधर फिल्म इंडस्ट्री आर्कलाइट की रोशनी एकदम मद्धम हो चुकी है। ज़ाहिर है इससे बॉलीवुड का माहौल काफी बिगड़ गया है। ट्रेड पंडित आमोद मेहरा कहते हैं, ‘फ्लॉप फिल्मों के आगमन को रोकना संभव नहीं है। ऐसे में हिट फिल्में एक प्राणवायु का काम करती हैं। फ्लॉप फिल्मों की तोड़ यही हिट फिल्में होती हैं। एक बड़ी हिट फिल्म के आने के बाद इंडस्ट्री को काफी आर्थिक राहत मिलती है। लेकिन इधर तीन-चार माह से इंडस्ट्री जैसे बड़ी हिट के लिए तरस गई थी। जहां तक छोटी फिल्मों का सवाल है ‘उरी’,‘बधाई हो’,‘बाला’ जैसी छोटी फिल्में यदा-कदा ही आती हैं, जो बॉक्स ऑफिस को करोड़ों का बिजनेस दे जाती हैं। ऐसे में उसके लिए अक्षय कुमार, सलमान, दीपिका, कंगना रनौत, रणवीर सिंह जैसे बड़े सितारों की फिल्मों पर बड़ा भरोसा रहता है।’ मुश्किल यह है कि अभी इन फ्लॉप फिल्मों से इंडस्ट्री उबरने की कोशिश कर रही थी कि कोरोना की मुश्किल उसके सामने आ खड़ी हुई है। अब अप्रैल से उसकी यह लड़ाई नए सिरे से शुरू होगी।

रुक गई शूटिंग
हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की सबसे बडी संस्था इंपा यानी इंडियन मोशन पिक्चर्स प्रोड्यूसर एसोसिएशन और इंडस्ट्री की अन्य छोटी-बड़ी संस्थाओं के एक संयुक्त आदेश के मुताबिक 31 मार्च तक फिल्म इंडस्ट्री में न सिर्फ कोई शूटिंग होगी, बल्कि डबिंग, एडिटिंग से जुड़े दूसरे अन्य काम भी लगभग बंद रहेंगे। इंपा से जुड़े एक अहम सदस्य अशोक पंडित के मुताबिक,‘ इंडस्ट्री पूरी तरह से सतर्क हो चुकी है। मुंबई के सारे थियेटर तो इस आदेश के दो दिन पहले ही बंद हो चुके थे। पर शूटिंग बंद करने का निर्देश देने के बाद हमने तीन दिन का समय दिया था ताकि निर्माता अपनी फिल्मों के शेड्यूल्ड को पूरा कर सकें। इस दौरान सारी संस्थाओं ने संबंधित कार्यस्थल की स्वच्छता का खास ध्यान रखा था। अब थियेटर आदि की नए सिरे से क्लीनिंग की जा रही है।’

उतार दी गई फिल्में
थियेटर के अचानक बंद होने से सबसे बड़ा झटका अभिनेता टाइगर श्रॉफ को लगा है। काफी दिनों बाद आई उनकी फिल्म ‘बागी-3’ ने बॉक्स ऑफिस में अच्छा पिकअप लेना शुरू किया था। अरसे बाद इंडस्ट्री को एक बड़ी हिट फिल्म मिलने वाली थी कि कोरोना वायरस की चपेट में वह आ गई। आमोद मेहरा कहते हैं,‘टाइगर की ‘बागी-3’ अभी एक और हफ्ते आराम से बॉक्स ऑफिस पर टिकी रह सकती थी। तब इसकी बिजनेस रिपोर्ट एकदम जुदा होती। पर यह 90 करोड़ से थोड़ा ऊपर जाकर ही रुक गई।’ पर सबसे बुरा हश्र इरफान खान की बहु प्रतीक्षित फिल्म ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ का हुआ। इसकी रिलीज़ के दूसरे दिन ही थियेटर बंद हो गए। पर पहले दिन की रिपोर्ट से ही यह बात साफ हो गई थी कि निर्देशक होमी अदजानिया फिर एक बार विफल साबित हुए हैं। पर फिल्म के निर्माताओं को कौन समझाए, अब वह 31 मार्च के बाद इस फिल्म को दोबारा रिलीज़ करने की तैयारी कर रहे हैं।

सतर्क हुए सितारे
ऐसे मुश्किल दौर का सामना करने के लिए सितारे भी एकदम सतर्क हो गए हैं। कुछ सितारे जो विदेश में थे, वह अब देश में आ चुके हैं। शाहरुख से लेकर सैफ, करीना, अक्षय कुमार आदि बड़े सितारों ने अपनी विदेश यात्रा रद्द कर दी है। अक्षय कुमार कहते हैं,‘ऐसी विकट परिस्थितियों का सामना बड़े आराम से किया जा सकता है बशर्ते आपको बहुत ज्यादा सजग रहना पड़ेगा। हमें सिर्फ मेडिकल निर्देश का पालन करना पड़ेगा। प्लीज हर कोई डॉक्टर बनने की कोशिश न करे। मुझ जैसे कई सितारे यही सबसे कह रहे हैं। बिना कोई पैनिक फैलाए हम खुद के साथ-साथ दूसरों को सतर्क कर रहे हैं।

छोटे परदे को भी झटका
टीवी यानी छोटे परदे को फिल्म इंडस्ट्री से अलग नहीं किया जा सकता। चर्चित शो ‘मेरे डैड की दुल्हन’ की गुनीत सिक्खा यानी अभिनेत्री श्वेता तिवारी इसकी शूटिंग के दौरान हल्की चोट लगने से घायल हो गई थी। इसके बाद वह शूटिंग पर लौटी थी कि कोरोना के चलते शूटिंग पैकअप का आदेश हुआ। श्वेता कहती है, ‘ऐसे बिन बुलाए परेशानी का किसी को पता नहीं चलता। आप अचानक ही इसके लिए तैयार होते हैं। इससे नुकसान तो होता है। चूंकि मेरा यह सीरियल डेली है, इसलिए ज्यादा एडवांस शूटिंग नहीं हो पाती है। इसलिए बंद होने से पहले जो एडवांस समय हमें मिला, उसी में हमने थोड़ा संभलने की कोशिश की। अब तो सब कुछ नए सिरे से शुरू होने पर ही फिर से हम रफ्तार ले सकेंगे। पर डेली सोप की तुलना में वीकली सोप को काफी राहत मिलती है। अब जैसे कि कपिल शर्मा ने दो हफ्ते की एडवांस शूटिंग कर डाली है। वैसे उनका शो भी रिपीट टेलीकास्ट में खूब दिखाया जाता है।

निर्माता और तकनीशियन सभी परेशान
कोरोना के चलते सितारों से लेकर निर्माता, तकनीशियन आदि सभी बहुत परेशान हैं। अरबों के नुकसान की बात जाने दें, काम ही एकदम ठप हो चुका है। अशोक पंडित कहते हैं,‘सबसे बुरी हालत छोटे निर्माताओं की होती है। अमूमन ज्यादातर छोटे निर्माताओं के पास ज्यादा जमा पूंजी नहीं होती। वह बाहर से ब्याज पर पैसा लेकर फिल्मों में लगाते हैं। शूटिंग नहीं होती है, तो उन्हें सीधे-सीधे आर्थिक तंगी का सामना पड़ता है।’ दूसरी ओर परदे के पीछे काम करने वाले लाखों तकनीशियनों की हालत और बदतर हो जाती है। फिल्मों के एक एडिटर अंकित तिवारी कहते हैं,‘अब आप ही बताइए,जब शूटिंग ही नहीं होगी,तो हम एडिटिंग का काम कैसे करेंगे। हम एडिटर, साउंड रिकॉर्डिस्ट आदि के पास भी न के बराबर एडवांस काम होता है।’ डबिंग और मिक्सिंग थियेटर की बात जाने दें तो सेट पर काम करने वाले तकनीशियन तो 31 मार्च तक घर में बैठ गए।

दैनिक कर्मचारियों की रोजी-रोटी
उल्लेखनीय है कि फिल्मोद्योग में आधे से ज्यादा तकनीशियन जैसे डायरेक्टर, लाइटमैन, कैमरामैन, स्टंटमैन आदि के सहायक डेली वेज पर काम करते हैं। शूटिंग रुक जाने पर इनकी कमाई भी एकदम रुक जाती है। इंपा के कई सदस्यों का कहना है कि संस्था अपने सदस्यों की अपनी ओर से मदद करती है, मगर यह आर्थिक संकट बहुत बड़ा होता है। ऐसे बड़े संकट में कई बड़े निर्माता भी अपने तकनीशियन की तरफ मदद का हाथ बढ़ाते हैं।

बड़ी फिल्मों की रिलीज डेट गड़बड़ाई
किसी बड़ी वजह से जब भी फिल्म इंडस्ट्री पर ताला लगता है, कई बड़ी फिल्मों की रिलीज डेट भी टल जाती है। खासतौर से बड़ी फिल्मों की न्यू रिलीज डेट एक बड़ा संकट बन जाती है। अब जैसे कि करण जौहर को अपनी फिल्म सूर्यवंशी की रिलीज़ डेट को फिर से री-शेड्यूल्ड करना पड़ेगा। यह इतना आसान नहीं है क्योंकि इधर हर बड़ी फिल्म की रिलीज डेट पहले से ही तय कर ली जाती है। इधर अक्सर ऐसा हो रहा है कि फिल्म के फ्लोर पर जाने से पहले ही निर्माता अपनी फिल्मों की रिलीज डेट घोषित कर देते हैं। इस डेट को बड़े निर्माता मिल-बैठकर ही री-शेड्यूल्ड कर पाते हैं।


Comments Off on कोरोना से  सहमा बॉलीवुड
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.