पंचकूला स्थिति नियंत्रण में, 278 लोग घरों में क्वारंटाइन !    ... तो बढ़ेगा लॉकडाउन! !    प्रतिबंध हटा, अमेरिका भेजी जा सकेगी हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन !    पहली से नवीं, 11वीं के विद्यार्थी अगली कक्षा में प्रमोट !    खौफ बच्ची को दफनाने से पंचायत का इनकार !    सरपंच सहित 7 की रिपोर्ट पॉजिटिव !    पुराने तालों के चलते जेल से फरार हुए थे 4 कैदी !    पाक में 500 नये मामले !    स्पेन में रोजाना 743 मौतें !    ईरान में 133 और मौतें !    

आपकी राय

Posted On March - 26 - 2020

कामयाबी की राह

23 मार्च को ‘हम होंगे कामयाब’ संपादकीय में दैनिक ट्रिब्यून ने सटीक टिप्पणी की है कि देश के चिकित्सा तंत्र को चुस्त-दुरुस्त करने की जरूरत है। विगत में स्वाइन फ्लू, बर्ड फ्लू, सार्स आदि कई संक्रामक बीमारियों से जूझने के चिकित्सीय उपाय खोजे गये हैं। वर्तमान में कोरोना वायरस महामारी के निपटने में जनता कर्फ्यू का तो प्रयोग बहुत सफल और प्रशंसनीय रहा है। इस महामारी के संक्रमण के फैलने से बचाव के सरकारी प्रयासों को जनता का समर्थन भी है। लोगों का काम है, महामारी के यथाशीघ्र समाप्ति करने के प्रयासों में शासन प्रशासन का सहयोग करें।
युगल किशोर शर्मा, खाम्बी, फरीदाबाद

जानलेवा कोताही
भारत में कोरोना संक्रमण का असर बढ़ने लगा है। संक्रमण तीसरे चरण की ओर तीव्र गति से बढ़ रहा है। कोरोना वायरस के चलते चेतावनी दर्शाती है आम जनमानस इसकी गम्भीरता के प्रति लापरवाह है। आवश्यक है कि हम सभी इसका सामुदायिक स्तर पर प्रसार रोंके। विडम्बना है देश के कुछ शहरों में आम जनता ने इस व्यवस्था का पालन नहीं किया। वहीं कर्फ्यू के नियमों को तोड़ना विभिन्न राज्यों में दर्शाता है कि हम इस संकट की घड़ी में किस तरह का बर्ताव कर रहे हैं। ये लोग इस गलती में जी रहे हैं कि कोरोना उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता।
अभिनन्दन भाई पटेल, लखनऊ

सख्त कदम जरूरी
कोरोना पूरी दुनिया में कोहराम मचा रहा है। इटली, ईरान में तो मौतों का आंकड़ा थमने के बजाय लगातार बढ़ रहा। ईरान में मात्र 16 दिन में कोरोना का प्रकोप इतना बढ़ गया कि हालात अब बेकाबू हो चुके हैं। डॉक्टर पूरी कोशिश कर रहे हैं कि मरीजों को बचाया जा सके। समय रहते भारत सरकार ने जो कदम उठाये हैं सराहनीय हैं। लेकिन अभी भी कुछ लोग इसे अनदेखा कर रहे हैं और दूसरों की जिंदगी को दांव पर लगा रहे हैं। सरकार को इनके खिलाफ हर प्रकार का सख्त कदम उठाना चाहिए।
यशस्वी सिंह, प्रयागराज, उ.प्र.

संपादकीय पृष्ठ पर प्रकाशनार्थ लेख इस ईमेल पर भेजें :- dtmagzine@tribunemail.com


Comments Off on आपकी राय
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.