हथीन 10 बांग्लादेशी मिलने से हड़कंप !    सीबीएसई : 11वीं में अब ‘अप्लाइड मैथ्स’ का भी विकल्प !    बीएस-4 मानें कोर्ट का आदेश : केंद्र !    बिना सब्सिडी गैस सिलेंडर 61.5 रुपये सस्ता !    चीन ने लक्षण मुक्त मामलों का किया खुलासा !    महामारी के 10 हॉटस्पॉट !    अभिनेता एंड्रियू जैक की कोरोना से मौत !    जम्मू-कश्मीर : समूह-4 तक की नौकरियां होंगी आरक्षित !    विप्रो व अजीम प्रेमजी फाउंडेशन देंगे 1125 करोड़ !    यूबीआई और ओबीसी का पीएनबी में विलय !    

3 बांग्लादेशी घुसपैठिये गिरफ्तार, 4 साथी भी धरे

Posted On February - 14 - 2020

इंदौर, 13 फरवरी (एजेंसी)
फर्जी दस्तावेजों के बूते अवैध प्रवास के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने यहां दो महिलाओं समेत तीन बांग्लादेशी नागरिकों और चार भारतीयों को गिरफ्तार किया है। ये लोग नागरिकता के फर्जी दस्तावेज बनाने, नकली नोट छापकर बाजार में चलाने, देह व्यापार और फिरौती के लिये अपहरण जैसे अपराधों में कथित तौर पर शामिल रहे हैं। डीआईजी रुचिवर्धन मिश्र ने बताया कि गिरफ्तार बांग्लादेशी नागरिकों में दो महिलाएं-बेगम खातून उर्फ मेघा (30) तथा लीमा हलदर (21) और देह व्यापार गिरोह का दलाल रोनी शेख (21) शामिल हैं। तीनों आरोपी प्रवास के वैध दस्तावेजों के बगैर भारतीय सीमा में अलग-अलग समय पर दाखिल हुए थे। उन्होंने बताया कि बांग्लादेशी नागरिक बेगम खातून दशक भर पहले मुंबई पहुंची थी। उसने महाराष्ट्र के वाशिम जिले के निवासी ड्राइवर किशोर खंडारे से शादी कर ली थी। इस बीच, खातून ने वापस बांग्लादेश जाकर वहां का पासपोर्ट भी बनवा लिया था। मिश्र ने बताया, ‘बांग्लादेशी पासपोर्ट के आधार पर वीजा प्राप्त कर खातून वर्ष 2017 में भारत लौटी थी। वह वीजा की मियाद खत्म हो जाने के बावजूद वापस बांग्लादेश नहीं गयी। यही नहीं, उसने अपना नाम बदलकर मेघा रख लिया। इसके साथ ही, पहचान तथा नागरिकता के फर्जी दस्तावेजों के आधार पर भारत का पासपोर्ट भी बनवा लिया।’ उन्होंने बताया कि इस फर्जीवाड़े में खातून की मदद करने पर उसके पति किशोर खंडारे को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वह ऑनलाइन माध्यमों से देह व्यापार गिरोह चलाता है। मिश्र ने बताया कि शहर में एक व्यक्ति को अगवा कर उसकी रिहाई के बदले दो लाख रुपये की फिरौती मांगने के मामले में शेख, हलदर, खातून और खंडारे को आठ फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। जब आरोपियों के कब्जे से मिले संदिग्ध दस्तावेजों को लेकर पूछताछ की गयी, तो पता चला कि इनमें शामिल दो महिलाओं समेत तीन लोग बांग्लादेशी नागरिक हैं और वे भारत में अवैध तौर पर रह रहे हैं। पुलिस की पूछताछ में यह खुलासा भी हुआ है कि बांग्लादेशी महिला बेगम खातून के पति किशोर खंडारे ने 100, 200 और 500 रुपये के नकली नोट छापकर इन्हें पीथमपुर एवं महू जैसे नजदीकी कस्बों में चलाया है।

 


Comments Off on 3 बांग्लादेशी घुसपैठिये गिरफ्तार, 4 साथी भी धरे
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.