सफ़र में रखें औरों का ख्याल !    कंप्रेस्ड हवा से चलेंगे रोबोट के हाथ !    घर पर करें अचार तैयार !    मन को शांत, ग्रहों को संतुलित करता है तिलक !    धन्य कौन! !    सारंगनाथ महादेव : एक साथ पूजे जाते हैं दो शिवलिंग !    पापा का फैसला !    20 में चमकेंगे 19 के सिकंदर !    विनिर्माण दोष, आपको क्या पता होना चाहिये !    स्वच्छता का पुरस्कार !    

कुलपति से मिला टीचर्स का शिष्टमंडल

Posted On February - 14 - 2020

चंडीगढ़, 13 फरवरी (ट्रिन्यू)
पंजाब यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन (पूटा) को दरकिनार कर आज टीचर्स का एक शिष्टमंडल कुलपति प्रो. राज कुमार से मिला। मजे की बात ये है कि कल ही पूटा ने धमकी दी थी कि अगर 14 फरवरी तक उन्हें इंटरव्यू शैड्यूल नहीं दिया गया तो वे 17 फरवरी से कुलपति कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ जायेंगे। आज फैकल्टी मैंबर्स के एक गुट ने कुलपति प्रो. राज कुमार से कैस (करिअर एडवांस्मेंट स्कीम) के तहत लंबित पड़े पदोन्नति के संबंध में मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में सभी फैकल्टीज के अलावा रीजनल सेंटर होशियारपुर, लुधियाना के टीचर भी शामिल थे। कुलपति ने शिष्टमंडल को बताया कि उनका दफ्तर इस संबंध में पहले से ही अवगत है और इंटरव्यू के लिये तारीखें तय करने के लिये विषय विशेषज्ञों के संपर्क में है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इस बारे में उनके कार्यालय की ओर से सूचित भी कर दिया जायेगा। इसी के साथ उन्होंने अपने कार्यालय को आदेश भी दिये कि वे इस पूरी प्रक्रिया को जल्द सिरे चढ़ायें। कुलपति ने शिष्टमंडल को भरोसा दिलाया कि कैस के तहत होने वाली प्रमोशनें समय पर ही होंगी।

‘पूटा अपने फैसले पर अडिग’
इस बीच पूटा प्रधान प्रो. राजेश गिल ने कहा कि इस प्रतिनिधिमंडल से उनका कोई लेना-देना नहीं हैं। शायद कैंपस में वे टीचर्स बॉडी की कोई समानांतर सत्ता चलाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि पूटा की एक ही मांग है कि इंटरव्यू के लिये उन्हें शैड्यूल कब मिलेगा? पिछले चार माह से वे इसकी इंतजार कर रहे हैं। 28 सितंबर को स्थगित हुए इंटरव्यू के बारे में भी नहीं बताया गया कि क्यों इसे टाला गया? उन्होंने कहा कि पूटा अपने फैसले पर अडिग है।


Comments Off on कुलपति से मिला टीचर्स का शिष्टमंडल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.