अभी-अभी उतरा हूं, भारत महान है... : ट्रंप !    सीएम दुराग्रह छोड़ें या परिणाम भुगतें !    नीरव मोदी की जब्त घड़ियों, कारों की नीलामी आज !    युद्ध अपराधों पर प्रस्ताव से अलग हुआ श्रीलंका !    बेअदबी मामला : आईजी कुंवर विजय प्रताप पहुंचे सीबीआई कोर्ट !    चंबा में भूकंप के झटके !    गैंगरेप पीड़िता ने किया आत्मदाह !    नवाज शरीफ भगोड़ा घोषित !    कर्नाटक के मंत्री ने कहा- समान नागरिक संहिता लाने का समय !    महबूबा की नजरबंदी के खिलाफ याचिका पर नोटिस !    

सिल्वर स्क्रीन

Posted On January - 25 - 2020

ए. चक्रवर्ती

नयेपन की तलाश में सिद्धार्थ
35 के हो चुके अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा को खबरों में रहना बखूबी आता है। असल में बाॅलीवुड में मिले लवर्स बाॅय के तमगे को उन्होंने भी बहुत अच्छी तरह से सहेज रखा है। कभी आलिया तो कभी जैकलीन से होते हुए वह इन दिनों कियारा आडवाणी के साथ अफेयर में हैं। यही वजह है कि उनकी फिल्मों के कम, उनके अफेयर के चर्चे ज्यादा होते हैं। सिद्धार्थ कहते हैं, ‘यह कोई नई बात तो नहीं है, हम एक्टर्स की ज्यादातर चर्चा हमारे निजी जीवन को लेकर होती है। अब तो मैं इस तरह की गाॅसिपनुमा खबरों को सहज तौर पर लेता हूं। एक और बात है, जब भी मेरी कोई फिल्म हल्की जाती है, मेरे बारे में इस तरह की खबरें आने लगती हैं।’ असल में नीरज पांडे की अय्यारी जैसी बड़ी फिल्म की विफलता के बाद से उनके करियर में एक रुकावट आई है। मगर वह हताश नहीं हैं। करण जौहर की अगली फिल्म में उन्हें काफी अच्छा रोल मिला है। इन दिनों वह फिर अपने माॅडलिंग असाइनमेंट को लेकर व्यस्त हैं। वह कहते हैं, ‘असल में मैं एक पल के लिए खाली नहीं रह पाता हूं। फिल्में न सही तो इंडोर्समेंट ही सही। मुझे इस बात का फख्र है कि मैंने इस धारणा को तोड़ा है कि माॅडल एक्टिंग नहीं कर पाते।

आयुष्मान से आगे बढ़ते अपार
आयुष्मान खुराना के अभिनेता भाई अपार शक्ति खुराना ने बॉलीवुड में अपना दमखम साबित किया है। अपार की खासियत यह है कि एक्टिंग के एकदम अलग ट्रेक पर चलते हुए उन्होंने अपनी एक जुदा पहचान बनाई है। पहली बार अपार ने नितेश तिवारी की फिल्म ‘दंगल’ में अपने आपको खुल कर प्रूव किया था। एक तरफ जहां आयुष्मान नामचीन हीरो की श्रेणी में आ चुके हैं, अपार अब भी लीड रोल से बहुत दूर हैं। अपार कहते हैं, ‘पर मैं इसे अपना प्लस प्वाॅइंट मानता हूं। न ही लीड रोल को लेकर मैं ज्यादा फ्रिकमंद हूं। एक एक्टर के तौर पर मुझे जो रोल मिल रहे हैं, उन्हें लेकर मैं बहुत खुश हूं। पति,पत्नी ओर वो के बाद जल्द आने वाली फिल्म ‘स्ट्रीट डांसर’ में भी मेरा बहुत दमदार किरदार है। यशराज की अगली फिल्म ‘जयशभाई जोरदार’ में रणवीर सिंह के साथ मेरा अच्छा काॅम्बीनेशन है। मुझे लगता है यह परिवर्तन भी एक एक्टर के लिए बहुत जरूरी होता है क्योंकि मेरे सामने ऐसे कई उदाहरण हैं जब एक एक्टर ने बहुत नगण्य रोल से अपनी शुरुआत की थी। उसके बाद क्या हुआ, सभी जानते हैं।’ जहां तक आयुष्मान का सवाल है, वह इस तरह की तुलना को एकदम निरर्थक मानते हैं। वह कहते हैं, ‘अपार एक बिल्कुल अलग तरह का अभिनेता है। मुझे लगता है कि उसका स्कीन प्रेजेन्स बहुत लाजवाब है, इसलिए देर-सवेर साइड रोल की बजाय उसे मुख्य चरित्र भी मिलने लगेंगे।’ वह मानते हैं कि अभिनय के मामले में वह कई बार अपार से सलाह मशवरा करते हैं। खुद अपार भी कहते हैं,‘ मैं भाई की एक्टिंग का सबसे बडा आलोचक हूं।’ दोनों भाई, बाला में साथ नज़र आ चुके हैं। अपार बताते हैं, ‘ मैं तो चाहता हूं कि निर्देशक हम दोनों भाइयों को बार-बार अपनी फिल्म में दोहराएं। इससे एक होड़बाजी के चलते हम और बेहतर काम कर सकेंगे।’

जावेद अख्तर की लड़ाई
संजीदा गीतकार और नामचीन लेखक जावेद अख्तर इधर नाममात्र की फिल्मों में लिख रहे हैं। जल्द ही कंगना की फिल्म ‘पंगा’ में लिखे उनके गाने सुनने को मिलेंगे। 17 जनवरी 1945 को ग्वालियर में पैदा हुए जावेद साहब 75 की इस उम्र में फिल्म लेखन की बजाय अपनी शे’रों शायरी को लेकर ज्यादा व्यस्त हैं। इसी बीच साल में एक-दो फिल्मों के गाने भी लिख डालते हैं। पूर्व में सलीम-जावेद की जोड़ी के साथ मिलकर कई सफल फिल्मोें का लेेखन कर चुके जावेद अख्तर पिछले कुछ सालों में एक बेहद ज़हीन गीतकार के तौर पर सामने आये हैं। वह पिछले एक अरसे से भारत के 1957 के काॅपीराइट बिल में सुधार की बात कर रहे थे। इस मामले में गीतकारों का खुला समर्थन उन्हें कम ही मिला था। वह अपना संघर्ष अकेले दम पर ही निरंतर लड़ते रहे और तीन साल की लड़ाई के बाद जीते भी। लेकिन इस वजह से उन्हें बहुत नुकसान उठाना पड़ा था। वह अपना दुख व्यक्त करते हैं, ‘हमें नामचीन न होने तक कुछ किताबें ,रेडियो प्रोग्राम या मुशायरे के सहारे जीविका चलानी पड़ती है। फिल्म के लिए हम जो गाने लिखते हैं, उनका पारिश्रमिक कुछेक हजार देकर निर्माता हमसे पूरी तरह से पल्ला झाड़ लेता है। यदि गाना हिट न हो तो भी रेडियो चैनल आदि कई श्रोता से उसे थोड़ी बहुत मलाई मिलती रहती है। और यदि गाना हिट हो जाये तो उसके वारे-न्यारे हो जाते हैं लेकिन एक गाने की सफलता में हमारा बहुत अहम योगदान होता है , इसलिए गाने की रायल्टी में भी हमारा हिस्सा मिलना बहुत सही फैसला था।’

पुलकित है कि मानता नहीं
पुलकित सम्राट अपने अभिनय से ज्यादा अफेयर्स के लिये चर्चा में रहते हैं। हालांकि वे जल्दी इन रिलोशनशिप को लेकर सीरियस नहीं दिखते। अब देखिये कि लड़की ने स्वीकार कर लिया है दोनों प्यार में है लेकिन प्रेमी महोदय है कि भागते फिर रहे हैं। दूसरी तरफ सोशल मीडिया में दोनों की तस्वीरें बिखरी पड़ी हैं। बात हो रही है अभिनेत्री कृति खरबंदा और पुलकित सम्राट की। दोनों पागलपंति के बाद अब फिल्म तैश में भी साथ नज़र आएंगे। अभी हाल में अपने एक दोस्त की शादी में दोनों को समुद्र के किनारे बहुत ही करीब देखा गया। वैसे इससे कुछ दिनों पहले ही उन्होंने मीडिया को साफ तौर पर बता दिया था कि वह पुलकित से बहुत प्यार करती है। ऐसे में समस्या कहां है?
समस्या पुलकित ही है। वैसे इससे पहले भी अपने पार्टनर के प्रति ईमानदार न रहने की वजह से पुलकित काफी बदनाम हो चुके हैं। कभी अभिनेत्री यामी गौतम के साथ भी उनका रिश्ता इसी वजह से टूट गया था। तब यामी ने साफ कहा था कि पुलकित ज़रा भी इस रिश्ते को लकर गंभीर नही थे, इसलिए उन्होंने उनसे ब्रेक-अप करना ही ठीक समझा।

दुखी हैं भूमि पेडणेकर
पिछले दिनों कार्तिक आर्यन के साथ अभिनेत्री भूमि पेडणेकर की फिल्म ‘पति पत्नी और वो’ को हिट का तमगा मिला है। फिर भी न जाने क्यों भूमि को ऐसा लगता है कि उनके खिलाफ अपरोक्ष तौर पर कोई साजिश चल रही है। उनके मुताबिक, वह कितना भी बेहतर काम कर लें, एक साजिश के तहत उनके बेहतर काम को भी छोटा करके पेश किया जा रहा है। इसके लिए वह अपनी एक पिछली फिल्म सोनचिरैया का उदाहरण देते हुए बताती हैं कि इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस में ठीक-ठाक बिजनेस किया था। पर आलोचकों ने इस बारे में न के बराबर लिखा। उन्हें इस बात का भी दुख है कि सोनचिरैया, सांड की आंख जैसी फिल्मों के लिए उन्हें कोई बड़े स्तर का अवॉर्ड नहीं मिला। यहा तक कि पति पत्नी और वोह की सफलता के संदर्भ में भी फिल्म के हीरो कार्तिक आर्यन और अनन्या का जिक्र ज्यादा किया गया। भूमि कहती हैं,‘सच कहूं तो अब मेरा किसी तरह के पुरस्कार से मन उचट गया है। इसलिए अब वह किसी अवॉर्ड के लिए नहीं बल्कि लोगों के असीमित प्यार के लिए बेहतर काम करेंगी। यही उनके लिए सबसे बड़ा पुरस्कार होगा।


Comments Off on सिल्वर स्क्रीन
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.