सफ़र में रखें औरों का ख्याल !    कंप्रेस्ड हवा से चलेंगे रोबोट के हाथ !    घर पर करें अचार तैयार !    मन को शांत, ग्रहों को संतुलित करता है तिलक !    धन्य कौन! !    सारंगनाथ महादेव : एक साथ पूजे जाते हैं दो शिवलिंग !    पापा का फैसला !    20 में चमकेंगे 19 के सिकंदर !    विनिर्माण दोष, आपको क्या पता होना चाहिये !    स्वच्छता का पुरस्कार !    

संविधान के 126वें संशोधन पर हरियाणा की मुहर, राज्य में रिजर्व रहेंगी 2 लोकसभा और 17 विधानसभा सीट

Posted On January - 20 - 2020

चंडीगढ़, 20 जनवरी (ट्रिन्यू) : हरियाणा में भी लोकसभा व विधानसभा की सीटों को अगले 10 वर्षों के लिए आरक्षित कर दिया गया है। लोकसभा की 10 में से 2 और विधानसभा की नब्बे में से 17 सीटें रिजर्व हुई हैं। केंद्र सरकार लोकसभा व राज्यसभा में संविधान के 126वें संशोधन पर मुहर लगा चुकी हैं। लोकसभा व राज्यसभा की ओर से भेजे गये प्रस्ताव के बाद ही हरियाणा सरकार ने सोमवार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया।
राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य के ‘शुभकामना अभिभाषण’ के साथ शुरू हुए इस सत्र में शोक श्रद्धांजलि के बाद सर्वसम्मति से संशोधित विधेयक को पारित किया गया। सीएम मनोहर लाल खट्टर ने सदन में यह प्रस्ताव रखा, जिसका सभी दलों ने समर्थन किया। स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने सर्वसम्मति से इस विधेयक को पारित करवाने के लिए सभी दलों का धन्यवाद किया। सदन में पास हुए प्रस्ताव की कॉपी लोकसभा व राज्यसभा सचिवालय को भेजी जाएगी।
अनुसूचित जाति व जनजाति के लोगों को लोकसभा व विधानसभा में आरक्षण का संविधान में प्रावधान किया गया है। इस आरक्षण की समयसीमा समाप्त हो रही थी। इसीलिए केंद्र सरकार ने कैबिनेट बैठक में इसे 10 वर्षों के लिए जारी रखने का फैसला लिया और लोकसभा व राज्यसभा में भी संशोधित विधेयक पारित करवाया गया। प्रदेश में लोकसभा की 10 में से दो – अंबाला और सिरसा संसदीय क्षेत्र रिजर्व हैं।
इसी तरह से नब्बे हलकों में से 17 हलकों को अगले दस वर्षों के लिए आरक्षित किया गया है। इनमें मुलाना, सढ़ौरा, शाहबाद, गुहला, नीलोखेड़ी, इसराना, खरखौदा, नरवाना, कालांवाली, रतिया, उकलाना, बवानीखेड़ा, झज्जर, कलानौर, बावल, पटौदी, होडल शामिल हैं। यहां बता दें कि लोकसभा और सभी राज्य विधानसभाओं में एससी, एसटी की सीटों का आरक्षण 25 जनवरी को समाप्त हो रहा है।

नये परिसीमन में तय होंगी सीट
लोकसभा व विधानसभा हलकों का परिसीमन 20 वर्षों के बाद किए जाने का प्रावधान है। 2008 में हुआ परिसीमन 2009 के लोकसभा व विधानसभा चुनावों में लागू हुआ था। उसी दौरान के परिसीमन में प्रदेश में विधानसभा की कई सीटें जहां रिजर्व से ओपन यानी सामान्य श्रेणी की हो गई थी। वहीं कुछ सामान्य हलकों को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया गया। इसी तरह से कई पुराने हलके खत्म हुए और उनकी जगह नये अस्तित्व में आए।

देरी से पहुंचे राज्यपाल
राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य का 11 बजे विधानसभा सदन में आने का कार्यक्रम था लेकिन वे साढ़े 11 बजे के बाद पहुंचे। विधानसभा सचिव राजेंद्र सिंह नांदल ने जब करीब सवा 11 बजे सदन में आकर घोषणा की कि कार्यक्रम में बदलाव किया गया है तो वहां मौजूदा कांग्रेस विधायकों ने इसका विरोध किया। उन्होंने कहा, इसके बारे में पहले सूचित किया जाना चाहिए था। नांदल ने कहा कि बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की बैठक में यह तय हो गया था। इस पर विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा, बैठक में समय तय नहीं हुआ।

गौतम पर कांग्रेसियों ने ली चुटकी
अपनी ही पार्टी यानी जननायक जनता पार्टी और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत ङ्क्षसह चौटाला के खिलाफ बागी तेवर अपनाने वाले नारनौंद से जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम भाजपा व कांग्रेस विधायकों के आकर्षण का केंद्र रहे। विपक्ष के नेता भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा सहित कई विधायकों ने गौतम के बागी बोल पर चुटकी भी ली। गौतम, गुहला से जेजेपी विधायक डॉॅॅॅ ईश्वर सिंह के साथ ही बैठे थे। गौतम जेजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके हैं। कांग्रेसियों ने चुटकी लेते हुए कहा, दादा मंत्री बनने के लड्डू कब खिलाओगे।

सदन में सुरजेवाला व चोपड़ा को श्रद्धांजलि
विधानसभा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री शमशेर ङ्क्षसह सुरजेवाला के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री आईडी स्वामी और पूर्व सांसद अश्विनी चोपड़ा सहित कई दिवंगतों को श्रद्धांजलि अॢपत की गई। सीएम मनोहर लाल खट्टर, विपक्ष के नेता भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा और स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने सदन में शोक प्रस्ताव रखे। पूर्व मंत्री रणदीप ङ्क्षसह सुरजेवाला के पिता शमशेर सिंह सुरजेवाला का सोमवार को ही निधन हुआ है। पूर्व सांसद हेतराम, हरियाणा के स्वतंत्रता सेनानी महेंद्रगढ़ निवासी निहाल सिंह व जिला हिसार निवासी सरदार तारा सिंह, हरियाणा के शहीद सैनिक मेजर प्रकाश चंद, जूनियर वारंट ऑफिसर गोबिंद सिंह, हवलदार सुमेर सिंह, जयपाल सिंह, निर्मल सिंह, एलएसी चिराग जैन, लांस नायक तेजपाल, सिपाही नवीन, अमित, सत्यवान, प्रवेश, कुशल पाल को श्रद्धांजलि भेंट की गई।

अब बजट सत्र में होगा अभिभाषण
प्रदेश सरकार की ओर से राज्यपाल अभिभाषण की सभी तैयारियां की गई थी। अभिभाषण की कॉपियां भी छप चुकी थी, लेकिन सोमवार को विस के विशेष सत्र में राज्यपाल का अभिभाषण नहीं हुआ। अभिभाषण के नाम पर उन्होंने चंद लाइन ही पढ़ी और इनमें नयी सरकार के गठन पर शुभकामनाएं दी। राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा, यह विशेष सत्र एससी-एसटी के आरक्षण पर संशोधित विधेयक का समर्थन करने के लिए बुलाया गया है। इसलिए वे अपना अभिभाषण बजट सत्र के दौरान देंगे।


Comments Off on संविधान के 126वें संशोधन पर हरियाणा की मुहर, राज्य में रिजर्व रहेंगी 2 लोकसभा और 17 विधानसभा सीट
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.