मनरेगा की दिहाड़ी में होगा 63 रुपये का इजाफा !    एप इंस्टाल करवा लगाया 45 हजार का चूना !    बिना लागत के दूर होगा हरियाणा का जल संकट !    47 किलो के गोले को 43 किमी तक फेंक सकती है यह तोप !    निर्भया कांड : सजा पर स्टेटस रिपोर्ट तलब !    गणतंत्र दिवस पर आतंकी साजिश नाकाम, 5 गिरफ्तार !    सदस्य देशों ने कश्मीर को बताया द्विपक्षीय मामला !    हिरासत से रिहा हुए 5 कश्मीरी नेता !    घर नहीं, जेल में ही रहेंगे एचडीआईएल प्रवर्तक !    1.47 लाख करोड़ बकाया, टेलीकॉम कंपनियों की याचिका खारिज !    

सेक्टर-17 फड़ी मुक्त देख खुश हुए लोग

Posted On December - 8 - 2019

चंडीगढ़ सेक्टर 17 प्लाजा से अवैध वेंडर्स हटाने के बाद नगर निगम द्वारा शनिवार को पेड़ों के पास सजाए गये फ्लावर पॉट। -प्रदीप तिवारी

रंजू ऐरी डडवाल/ ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 7 दिसंबर
चंडीगढ़ का दिल कहे जाने वाले सेक्टर-17 को अंततः अदालत की सख्ती के बाद ही फड़ियों से मुक्ति मिली। शनिवार को वहां प्लाजा में घूमने वाले लोगों का कहना था कि उन्हें लग रहा है जैसे अब यहां सांस आ रही है। सबसे अधिक खुश थे शोरूमों के मालिक। प्लाजा में पेड़ों के किनारे सुंदर फूलों के फ्लॉवर पॉट रख दिए गए। लोगों ने म्यूजिकल फाउंटेन का भी खूब मजा लिया। निगमायुक्त का कहना था कि अब धोबी, मोची, नाई और चाय वालों को वहीं बैठने दिया जायेगा। सेक्टर-17, 19, 22 समेत पूरे शहर के वेंडरों को बाजारों से हटाकर वेंडिंग जोन में शिफ्ट किया गया है। सेक्टर 19 के सदर बाजार , 22 की शास्त्री मार्किट व अनेक अन्य स्थानों पर आज पार्किंग एरिया खाली थे।

चंडीगढ़ सेक्टर 19 में शनिवार को नयी अलॉट की गयी साइट पर बैठे वेंडरों से खरीदारी करते लोग। -मनोज महाजन

व्यापारियों के अनुसार, वेंडरों के हटने के बाद सेक्टर-17 का यह स्वरूप पहली बार देखने को मिला है। शहर की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई के बाद 4300 रजिस्टर्ड वेंडरों में से 987 लोगों को वेंडिंग जोन में शुक्रवार को शिफ्ट किया गया। शनिवार को अन्य वेंडरों को शिफ्ट करने की कार्रवाई जारी रही। जहां-जहां वेंडरों के वापिस लौटने की आशंका थी वहां निगम स्टाफ आज तारें लगा रहा था। आज भी मार्केटों में पुलिस का पहरा था। 24 घंटे निगरानी है और प्लाजा में 24 सीसीटीवी कैमरे और तीन पीटी जेड कैमरे लगाए गए हैं। निगमायुक्त केके यादव, जिला मजिस्ट्रेट मंदीप सिंह बराड़ और एसएसपी नीलांबरी जगदले ने सुबह से ही शहर का दौरा दिया। सेक्टर 17 के व्यापारी कमलजीत सिंह पंछी ने कहा कि सेक्टर 17 का मूल चरित्र फिर से लौट आया है। चंडीगढ़ व्यापार मंडल के महासचिव संजीव चड्ढा ने कहा कि सेक्टर 17 के दुकानदार प्रशासन का समर्थन करना जारी रखेंगे। वेंडर्स के कारण लोगों ने प्लाजा में आना बंद कर दिया था जिससे उनके व्यापार को धक्का लगा था। अब सेक्टर-17 फिर से आबाद होगा। सेक्टर-19, 17 और 22 में 15 दिनों तक एक सब इंस्पेक्टर, एक एक्सईएन और 4 फायरकर्मी लगातार तैनात रहेंगे, जो अवैध वेंडरों को रोकेंगे। अलाॅटेड साइटों से बाहर वेंडर सामान न रखें, इस पर भी वे नज़र रखेंगे।
दक्षिणी सेक्टरों में फिलहाल बिजनेस जारी : निगम की तमाम सख्ती के बावजूद शहर के अनेक भागों में नाई, पान-बीड़ी वाले बैठे दिखाई दे रहे थे। शहर के दक्षिण भाग में पेड़ों के नीचे उनका धंधा चल रहा था। बुड़ैल में नाई सड़कों के किनारे अपना काम कर रहे थे।
कुछ देर बैठने देते…
आज आम लोग प्लाजा का बदला रूप देखकर खुश थे लेकिन कुछ निराश भी थे। उनका कहना था कि दोपहर को कुछ समय के लिए वेंडर्स को बैठने देना चाहिए क्योंकि लोगों को सस्ता भोजन मिल जाता है।
सेक्टर-15 में अभी सिर्फ 50 वेंडर
सेक्टर-15 में बने वेंडिंग जोन में वेंडर्स शिफ्ट होने शुरू हो गए हैं। यहां पर 850 वेंडर्स के लिए साइट बनाई गई है। शनिवार को यहां 50 वेंडर ही शिफ्ट हुए हैं। निगमायुक्त का कहना था कि अभी करीब 2 सप्ताह तक यह अभियान जारी रहेगा। ज्ञात रहे कि वेंडर्स को रिलोकेट करने के संबंध में निगमायुक्त को अदालत में जवाब देना है।


Comments Off on सेक्टर-17 फड़ी मुक्त देख खुश हुए लोग
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.