वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    लिमिट से ज्यादा रखा प्याज तो गिरेगी गाज !    फिर उठा यमुना नदी पर पुल बनाने का मुद्दा !    कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से बहाल होगी इंटरनेट सेवा !    बर्फबारी ने कई जगह तोड़ी तारबंदी !    सुजानपुर में क्रिकेट सब सेंटर जल्द : अरुण धूमल !    पंजाब में नदी जल के गैर-कृषि इस्तेमाल पर लगेगा शुल्क !    जनजातीय क्षेत्रों में ठंड का प्रकोप जारी !    कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या !    सेना का 'सिंधु सुदर्शन' अभ्यास पूरा !    

राम दरबार : वेंडिंग जोन नहीं बनाने का विरोध

Posted On December - 3 - 2019

चंडीगढ़, 2 दिसंबर (ट्रिन्यू)
यूटी में राम दरबार के सब्जी विक्रेताओं को आईटी पार्क में जगह देने के विरोध में सोमवार को वेंडर्स पूर्व महापौर कमलेश के नेतृत्व में निगम भवन पहुंचे तथा निगमायुक्त एवं महापौर से मिले। कमलेश का कहना है कि उन्होंने तो लिखित रूप में वेंडर्स की समस्याएं आयुक्त के आगे रख दी थीं पर वे कुछ भी सुनने को तैयार नहीं। कमलेश का आरोप था कि आयुक्त ने उन्हें कमरे से चले जाने को कहा व चेताया कि अगर तय समय में राम दरबार के वेंडर्स आईटी पार्क नहीं गए तो वे कथित रूप से डंडे मारकर भगायेंगे।
कमलेश का कहना था कि वार्ड 23 में निगम ने कोई वेंडिंग ज़ोन नहीं बनाया है। जबकि हल्लोमाजरा और राम दरबार की जनसंख्या एक लाख के करीब है और वहां ज्यादा ईडब्ल्यूएस श्रेणी के लोग हैं जो सड़क विक्रेताओं से दैनिक घरेलू चीजें खरीदते हैं। वार्ड 23 से आईटी पार्क 8-10 किमी दूर है, वहां सब्जी खरीदने वाले कहां से आयेंगे।
उन्होंने आयुक्त को दिए पत्र में अनुरोध किया कि राम दरबार से कार मार्केट का स्थान खाली है जहां वेंडिंग जोन बनाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त भी कई जगह खाली हैं। वेंडर्स जब निगम भवन के बाहर नारेबाजी कर रहे थे तो भाजपा के उक्त वार्ड के पार्षद भगत भी वहां पहुंचे व समर्थन किया।
प्रदर्शनकारी कमलेश के साथ महापौर से भी मिले। महापौर ने उन्हें सुना तो पर कह दिया कि सब कुछ अदालत के आदेशों पर हो रहा है। कमलेश की इस मामले में निगमायुक्त व महापौर से बहस भी हुई। कमलेश ने चेतावनी दी कि अगर राम दरबार के वेंडर्स की नहीं सुनी गई तो वे संघर्ष तेज कर देंगे।
‘टाउन वेंडिंग कमेटी असंवैधानिक’
चंडीगढ़ की रेहड़ी-फड़ी मार्केटों के वेंडर्स ने नगर निगम द्वारा बनाई गई टाउन वेंडिंग कमेटी को असंवैधानिक करार दिया है। सेक्टर 19 और 22 मार्केट के वेंडर्स इसका विरोध कर रहे हैं। इन सेक्टरों की वेंडर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों सुभाष, नीरज, विशाल शर्मा और संतोष आदि ने कहा है कि नगर निगम ने स्ट्रीट वेंडिंग एक्ट को लागू करने के लिए जिस टाउन वेंडिंग कमेटी का गठन किया है वह असंवैधानिक है। वेंडिंग कमेटी के 40 प्रतिशत सदस्य स्ट्रीट वेंडरों में से होने चाहिए व उन्हें वे स्वयं चुनें। निगम ने वेंडिंग कमेटी के गठन से पहले चुनाव नहीं कराये। इस मनोनीत वेंडिंग कमेटी को खारिज कर चुनाव कराने के बाद कमेटी गठित की जाये।


Comments Off on राम दरबार : वेंडिंग जोन नहीं बनाने का विरोध
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.