मनरेगा की दिहाड़ी में होगा 63 रुपये का इजाफा !    एप इंस्टाल करवा लगाया 45 हजार का चूना !    बिना लागत के दूर होगा हरियाणा का जल संकट !    47 किलो के गोले को 43 किमी तक फेंक सकती है यह तोप !    निर्भया कांड : सजा पर स्टेटस रिपोर्ट तलब !    गणतंत्र दिवस पर आतंकी साजिश नाकाम, 5 गिरफ्तार !    सदस्य देशों ने कश्मीर को बताया द्विपक्षीय मामला !    हिरासत से रिहा हुए 5 कश्मीरी नेता !    घर नहीं, जेल में ही रहेंगे एचडीआईएल प्रवर्तक !    1.47 लाख करोड़ बकाया, टेलीकॉम कंपनियों की याचिका खारिज !    

बिजली कर्मचारी ने किया 54 लाख का गबन, निलंबित

Posted On December - 8 - 2019

कलायत, 7 दिसंबर (निस)

कलायत में शनिवार को जानकारी देते हुए बिजली निगम एसडीओ भारत भूषण काला। -निस

बिजली निगम कार्यालय में गबन के आरोप लगने से निलंबित किए गए कर्मचारी पर बिजली बिल भरने के नाम पर उपभोक्ताओं के लाखों रुपये का गबन करने की उच्च अधिकारियों द्वारा अंतरिम जांच में 4.5 लाख रुपये से बढ़कर 53 लाख 86 हजार 500 रुपये का गबन करना बताया गया है।
बिजली निगम के एसडीओ भारत भूषण काला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सितंबर 2018 में कैशियर का कार्य संभाल रहे एएलएम के पद पर तैनात कर्मचारी पर बिजली बिल भरने के नाम पर उपभोक्ताओं के लाखों रुपये का गबन करने का मामला दर्ज करवाया गया था। जिसकी जांच स्थानीय विभागीय अधिकारियों द्वारा की गई थी। नगर व आसपास के गांवों के कुछ उपभोक्ताओं ने बताया था कि उन्होंने बिजली बिल के रुपये तो जमा करवा दिए लेकिन उनके बिल के विभागीय कोष में रुपये जमा नहीं किए गए। उन्होंने बताया था कि उपभोक्ताओं की शिकायत अनुसार अप्रैल व मई माह के बिलों की अपने स्तर के साथ-साथ सीए धर्मपाल चुघ व हेड कैशियर द्वारा जांच की गयी तो करीब 4 लाख 50 हजार 601 रुपये की गड़बड़ पाई गई थी। उन्होंने बताया कि जांच में पाया गया कि उक्त एएलएम उपभोक्ताओं द्वारा जमा करवाये गए रुपयों की कंप्यूटर से एंट्री कैंसिल कर देता था। उन्होंने बताया कि हेड आफिस में आडिट के लिए लेटर भेज दिया गया था और गबन का आंकड़ा बढ़ने की आशंका जताई गई थी।
अब उच्च अधिकारियों द्वारा करवाये आडिट के अनुसार पत्र क्रमांक संख्या 2260 के अनुसार कार्यालय में कार्यरत रहे कैशियर के पद पर गोबिंद के खिलाफ 53 लाख 86 हजार 500 रुपए गबन करना पाया गया है। जिसकी लिखित शिकायत स्थानीय पुलिस थाना में दी गई है।

आरोप निराधार : गोविंद
बिजली विभाग से निलंबित किये गोविंद ने आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि उसके खिलाफ साजिश रची गई है। उन्हें नहीं पता कि गबन कैसे हुआ। मेरे ऊपर लगाए सभी आरोप निराधार हैं।


Comments Off on बिजली कर्मचारी ने किया 54 लाख का गबन, निलंबित
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.