मनरेगा की दिहाड़ी में होगा 63 रुपये का इजाफा !    एप इंस्टाल करवा लगाया 45 हजार का चूना !    बिना लागत के दूर होगा हरियाणा का जल संकट !    47 किलो के गोले को 43 किमी तक फेंक सकती है यह तोप !    निर्भया कांड : सजा पर स्टेटस रिपोर्ट तलब !    गणतंत्र दिवस पर आतंकी साजिश नाकाम, 5 गिरफ्तार !    सदस्य देशों ने कश्मीर को बताया द्विपक्षीय मामला !    हिरासत से रिहा हुए 5 कश्मीरी नेता !    घर नहीं, जेल में ही रहेंगे एचडीआईएल प्रवर्तक !    1.47 लाख करोड़ बकाया, टेलीकॉम कंपनियों की याचिका खारिज !    

फैक्टरी में करंट से 3 श्रमिकों की मौत

Posted On December - 8 - 2019

पानीपत, 7 दिसंबर (एस)

पानीपत में धागा फैक्टरी की छत के पास से गुजरते बिजली के तार, जहां से श्रमिकों को करंट लगा। -एस

पानीपत में गांव गांजबड़ से खोतपुरा रोड पर स्थित एक धागा फैक्टरी में शनिवार सुबह धूप सेंकने के लिए छत पर गए 4 श्रमिकों को करंट लग गया। 3 श्रमिकों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक जख्मी हो गया। हादसे के बाद फैक्टरी के अन्य कर्मचारियों ने हंगामा किया और फैक्टरी मालिक के खिलाफ कार्रवाई करने और मृतक श्रमिकों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की मांग की। फैक्टरी में हंगामे की सूचना मिलते ही डीएसपी सतीश वत्स व जयप्रकाश और थाना सदर थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने श्रमिकों को शांत किया और जांच के बाद तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए पानीपत के सिविल अस्पताल भिजवाया। रविवार को इनका पोस्टमार्टम होगा।
जानकारी के अनुसार, पानीपत में जीटी रोड स्थित गांव गांजबड़ से गांव खोतपुरा रोड पर करनाल निवासी घनश्याम की जीएस स्पीनिंग मिल है। इसमें काफी मजदूर काम करते हैं। ये मिल परिसर में बने क्वार्टरों में रहते हैं। मुनीष अंसारी (20) निवासी किशनगंज, बिहार, अनुज (19) निवासी गांव पलरा जिला कानपुर, यूपी, नीतिश (19) निवासी गांव गेरा खेड़ा जिला फतेहपुर, यूपी और मोहित(19) निवासी गांव धर्मपुर कुडनी जिला कानपुर देहात यूपी शनिवार को सुबह करीब मिल की छत पर धूप सेकने के लिए गए। फैक्टरी की छत पर निकाले गए सरियों के पास से बिजली की 11 हजार केवी की लाइन जा रही है। मुनीष, नीतिश, अनुज ने उन सरियों को हिला दिया तो वे बिजली की तारों से छू गए और उन्हें करंट लग गया। इनकी चीख सुनकर मोहित इन्हें बचाने आया तो उसे भी बिजली ने झटका लगा। हादसे में मुनीष, अनुज व नीतिश की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मोहित के हाथ व पैर झुलस गए। घटना की सूचना मिलने पर थाना सदर पुलिस व फैक्टरी के मालिक घनश्याम गोयल अपने परिजनों के साथ फैक्टरी में पहुंचे। फैक्टरी के बाकी श्रमिकों ने तीनों श्रमिकों की मौत को लेकर हंगामा शुरू कर दिया।

हंगामा, 3 घंटे बाद उठाने दिए शव
डीएसपी सतीश वत्स से करीब आधा घंटे बातचीत के बाद थाना सदर पुलिस को श्रमिकों ने शवों को उठाने दिया। मृतकों के साथी श्रमिक रिश्तेदार अजीत व माधव ने कहा कि तीनों श्रमिकों की मौत के लिए फैक्टरी मालिक जिम्मेदार है। फैक्टरी मालिक घनश्याम गोयल ने कहा कि तीनों श्रमिकों की मौत करंट से हुई है और उन्हें इसका दुख है। डीएसपी सतीश वत्स ने बताया कि तीन श्रमिकों की मौत के मामले की पुलिस जांच कर रही है। पुलिस की जांच में जो भी इस घटना के लिए जिम्मेदार पाया जाएगा, उस पर थाना सदर में मुकदमा दर्ज करवा कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


Comments Off on फैक्टरी में करंट से 3 श्रमिकों की मौत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.