संविधान के 126वें संशोधन पर हरियाणा की मुहर, राज्य में रिजर्व रहेंगी 2 लोकसभा और 17 विधानसभा सीट !    गुस्साये डीएसपी ने पत्नी पर चलायी गोली !    गांवों में विकास कार्यों के एस्टीमेट बनाने में जुटे अधिकारी !    जो गलत करेगा परिणाम उसी को भुगतने पड़ेंगे : शिक्षा मंत्री !    आस्ट्रेलिया भेजने के नाम पर 9.50 लाख हड़पे !    लख्मीचंद पाठशाला से 2 बच्चे लापता !    वास्तविक खरीदार को ही मिलेगी रजिस्ट्री की अपाइंटमेंट !    वायरल वीडियो ने 48 साल बाद कराया मिलन !    ऊना में प्रसव के बाद महिला की मौत पर बवाल !    न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ शाॅ का शतक !    

पबनावा माइनर में गंदगी के अंबार, किसान परेशान

Posted On December - 5 - 2019

कैथल, 4 दिसंबर (हप्र)
ढांड से गुजरने वाली पबनावा माइनर सिंचाई विभाग की घोर लापरवाही के कारण अपनी बदहाली पर आंसू बहाने को मजबूर है। माइनर के अंदर व उसके चारों तरफ गंदगी के ढेर इतने ज्यादा लगे हुए हैं कि वहां सड़क के नजदीक से गुजरना भी मुश्किल है।
किसानों का आरोप है कि तमाम शिकायतों के बाद भी संबंधित विभाग इस तरफ ध्यान नहीं दे रहा। लोगों ने कहा कि सरकार की तरफ से माइनरों में समय-समय पर सफाई करने का ढिंढोरा पीटा जाता है और करोड़ों रुपए इसकी सफाई में भी लगाए जाते हैं, लेकिन सच्चाई इससे कोसों दूर है। पबनावा माइनर में सफाई के नाम पर महज खानापूर्ति होती है। माइनर से गंदगी निकालकर पास ही डाल दी जाती है जिसे दोबारा उठाने की जहमत नहीं उठाई जाती है। यह गंदगी चंद दिनों बाद वापस माइनर में चली जाती है। किसानों व लोगों का कहना है कि इस माइनर से लोगों को फायदा नाममात्र ही होता है क्योंकि इस माइनर में समय पर पानी नहीं आता है। अगर पीछे से कुछ पानी आता है भी है तो माइनर की ठीक ढंग से सफाई व मरम्म्मत न होने के कारण थोड़ा बहुत ही खेतों तक पहुंच पाता है, जिसका किसानों को कोई ज्यादा फायदा नजर नहीं आता।

जगह-जगह जमी काई
माइनर की इतनी बुरी हालत है कि सफाई न होने के कारण माइनर में जगह-जगह काई जमा हो गई है जिससे उसमें अनेक जहरीले कीड़े-मकौड़े पैदा हो गए हैं। किसानों से प्रदेश सरकार व संबंधित विभाग से मांग की है कि माइनर की साफ-सफाई करवाई जाए।


Comments Off on पबनावा माइनर में गंदगी के अंबार, किसान परेशान
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.