बिजली के रेट घटाने की तैयारी !    गोली चला ढाई लाख रुपए लूट ले गए बदमाश !    दुबई में भारतीय ने लॉटरी में 40 लाख और कार जीती !    जेएनयू छात्र संघ ने हॉस्टल फीस बढ़ोतरी को हाईकोर्ट में चुनौती दी !    टाइटैनिक मलबे को सहेजेंगे अमेरिका और ब्रिटेन !    सबरीमाला के कपाट बंद !    नेपाल में 8 भारतीय पर्यटकों की मौत !    रूसी हवाई हमले में 23 सीरियाई लोगों की मौत !    एकदा !    नडाल दूसरे दौर में, शारापोवा बाहर !    

स्विट्जरलैंड की कंपनी बनाएगी जेवर में सबसे बड़ा हवाईअड्डा

Posted On November - 30 - 2019

नोएडा, 29 नवंबर (एजेंसी)
जेवर हवाईअड्डे को विकसित करने का ठेका स्विट्जरलैंड की कंपनी ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल को दिया जा रहा है। दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में यह दूसरा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा होगा, जो तैयार होने के बाद देश का सबसे बड़ा हवाईअड्डा होगा। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि स्विट्जरलैंड की कंपनी ने राजस्व में हिस्सेदारी के मामले में प्रति यात्री सबसे ऊंची बोली लगायी है। इसके लिए जारी अंतर्राष्ट्रीय निविदा में इस कंपनी ने दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल), अडाणी एंटरप्राइजेज और एंकरेज इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट होल्डिंग्स लिमिटेड जैसी कंपनी को पीछे छोड़ दिया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में यह तीसरा हवाईअड्डा होगा, जिसे पूरी तरह से नये सिरे से विकसित (ग्रीनफील्ड) किया जाएगा। इससे पहले इस क्षेत्र में दिल्ली में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा और गाजियाबाद में हिंडन हवाईअड्डा मौजूद है। परियोजना के नोडल अधिकारी शैलेंद्र भाटिया ने कहा कि जेवर हवाईअड्डा या नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट जब पूरी तरह विकसित हो जाएगा तो यह 5 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में फैला होगा। इसकी अनुमानित लागत 29,560 करोड़ रुपये आंकी गयी है। उन्होंने कहा,‘ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल ने इसके लिए सबसे ऊची बोली लगायी थी।’ एंकरेज इंफ्रास्ट्रक्चर ने प्रति यात्री 205 रुपये, अडाणी एंटरप्राइजेज ने 360 रुपये, डायल ने 351 रुपये और ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल ने 400 .97 रुपये प्रति यात्री के हिसाब से बोली लगायी थी।


Comments Off on स्विट्जरलैंड की कंपनी बनाएगी जेवर में सबसे बड़ा हवाईअड्डा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.