गुरुग्राम मानेसर प्लांट अनिश्चितकाल के लिये बंद !    फैसले का खुशी से इजहार कीजिए, भव्य मंदिर बनेगा इंतजार कीजिए !    पराली के सदुपयोग, बैटरी चालित वाहनों पर जोर !    कॉलेज के शौचालय में मृत मिला इंजीनियरिंग छात्र !    सरकार के खिलाफ धरने पर बैठी कांग्रेस !    एचटी लाइन टूटने से 50 घरों में इलेक्ट्रॉनिक उपकरण फुंके !    मोमोटा ने जीता चीन ओपन का खिताब !    चंडीगढ़ के स्कूलों, पीयू, कार्यालयों में आज छुट्टी !    ई-सिगरेट और निकोटीन पर अभियान छेड़ेगी हरियाणा पुलिस !    किराये पर टैक्सी लेकर करते थे लूटपाट, गिरोह के 2 सदस्य काबू !    

सुरक्षा और रिटर्न का संतुलन जरूरी

Posted On November - 9 - 2019

आलोक पुराणिक

म्यूचुअल फंड निवेश बाजार जोखिम के अधीन होते हैं, यह बात लगातार कई बार कही जाती है। लेकिन जो निवेशक सही तरीके से जोखिम ले लेते हैं तो उनके रिटर्न भी ठीक-ठाक आ जाते हैं। मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड के बारे में भी यही बात कही जा सकती है, जिन निवेशकों ने इसमें निवेश किया है, उन्होंने सही जोखिम लिया है, यह बात साफ होती है।
6 नवंबर, 2019 के हिसाब से देखें तो मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड ने अपने निवेशकों को एक साल में 16.85 प्रतिशत का रिटर्न दिया। तीन सालों की अवधि का हिसाब लें तो सालाना रिटर्न 14.05 प्रतिशत बैठता है। पांच सालों का हिसाब-किताब बताता है कि सालाना रिटर्न 16.60 प्रतिशत बैठता है। इस दौर में 14 प्रतिशत का या 16 प्रतिशत का रिटर्न शानदार ही नहीं, बहुत शानदार कहा जा सकता है।
मिराई एसेट इमर्जिंग फंड का ताल्लुक मिराई म्यूचुअल फंड से है। मिराई म्यूचुअल फंड विश्वव्यापी उपस्थिति वाला म्यूचुअल फंड है। अपनी स्थापना से लेकर इसने अब तक 20.27 सालाना का रिटर्न दिया है। यह रिटर्न धमाकेदार से कम नहीं माना जा सकता। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि भविष्य में भी इस फंड से इसी तरह के रिटर्न यूं ही मिलते रहेंगे। म्यूचुअल फंड की निवेश योजनाओं से जुड़े इश्तिहारों में यह बताया जाता है कि पिछली परफार्मेंस से भविष्य की परफार्मेंस को जोड़कर न देखें, पिछली परफार्मेंस भविष्य के प्रदर्शन की गारंटी नहीं है। लेकिन पिछली परफार्मेंस से एक हद तक अंदाजा लग जाता है कि इसका कामकाज कैसा रहा है। किसी भी म्यूचुअल फंड निवेश योजना में निवेश करने वाले इस बात को अच्छी तरह से समझ लें। पुरानी परफार्मेंस को सिर्फ एक संकेत के तौर पर लें न कि एक पक्की गारंटी के तौर पर कि भविष्य में भी ऐसे ही रिटर्न आयेंगे। इसीलिए कानूनन हर म्यूचुअल फंड को इस आशय के इश्तिहार जारी करने पड़ते हैं कि पूंजी बाजार में निवेश जोखिम भरा है, अनिश्चित है, इसीलिए खूब देख समझकर, विचार करके ही निवेश करें। कई बार निवेशक शानदार रिटर्न देखकर निवेश करने को तैयार तो हो जाते हैं, पर उस जोखिम को पूरे तौर पर नहीं समझते, जो म्यूचुअल फंड निवेश के साथ हमेशा जुड़ा रहता है।
मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड के निवेश पर निगाह डालें तो साफ होता है कि इसके पास 30 सितंबर, 2019 को करीब 8219 करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका था। इस फंड के निवेश योग्य संसाधनों का 7.08 प्रतिशत एचडीएफसी बैंक में था। 6.23 प्रतिशत आईसीआईसीआई बैंक में था। 4.02 प्रतिशत स्टेट बैंक आफ इंडिया में था। 3.69 प्रतिशत एक्सिस बैंक में था और 3.64 प्रतिशत रिलायंस इंडस्ट्रीज में था।
गौरतलब है कि इन पांचों कंपनियों की अलग-अलग खासियतें हैं और हाल के वक्त में ये अलग-अलग वजहों से चर्चा में रही हैं। मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड का निवेश बड़ी कंपनियों और मंझोले स्तर की कंपनियों में रहता है। बड़ी कंपनियों में निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित माना जाता है, हां, कई बार उनसे रिटर्न अपेक्षाकृत कम मिलते हैं, दूसरी तरफ मंझोले स्तर की कंपनियों को कई बार पूरे तौर पर सुरक्षित नहीं माना जाता, लेकिन उनसे रिटर्न अपेक्षाकृत बढ़िया मिलते हैं य़ानी इस फंड के बारे में हम कह सकते हैं कि सुरक्षा और रिटर्न दोनों का एक खास तरह का संतुलन इसमें बनाया गया है।
जिन कंपनियों में मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड का महत्वपूर्ण निवेश है, उनके भविष्य को लेकर भी अभी कोई शंका की स्थिति नहीं है। एचडीएफसी बैंक लगातार मजबूती की ओर अग्रसर है। आईसीआईसीआई बैंक में कुछ वक्त पहले तमाम चुनौतीपूर्ण स्थितियां बनी थीं, लेकिन अब वैसा नहीं है। बैंकिंग सेक्टर की शीर्ष कंपनियों में निवेश का एक आशय यह है कि ऐसे उद्योग में निवेश है, जहां प्रतिस्पर्धा आसानी से नहीं बढ़ती यानी बैंकिंग में कोई उद्योगपति अपनी मर्जी से प्रवेश नहीं कर सकता, जब तक कि उसके पास रिजर्व बैंक द्वारा प्रदत्त लाइसेंस न हो। मिराई एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप फंड का महत्वपूर्ण निवेश रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी है। यह कंपनी हाल ही में टेलीकाम उद्योग में अपने सफल कारोबार के लिए खासी चर्चित रही है और इसकी बहुत महत्वाकांक्षी योजनाएं भविष्य के लिए हैं।
कुल मिलाकर इस फंड के निवेश फिलहाल सही दिशा में जाते हुए प्रतीत होते हैं। इस फंड में नियमित निवेश से निवेशक एक ठीक-ठाक प्रतिफल की उम्मीद भविष्य में भी कर सकते हैं। म्यूचुअल फंड निवेश में बाजार जोखिम रहते हैं। इसलिए निवेशक निवेश करने से पहले अपना अध्ययन करें या किसी वित्तीय सलाहकार की सलाह लें।


Comments Off on सुरक्षा और रिटर्न का संतुलन जरूरी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.