हिमाचल प्रदेश में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 71वां गणतंत्र दिवस !    राष्ट्रीय पर्व पर दिखी देश की आन, बान और शान !    71वें गणतन्त्र की चुनौतियां !    देखेगी दुनिया वायुसेना का दम !    स्कूली पाठ्यक्रम में विदेशी ज्ञान कोष !    जहां महर्षि वेद व्यास को दिये थे दर्शन !    व्रत-पर्व !    पंचमी पर सिद्धि और सर्वार्थ सिद्धि योग !    गणतन्त्र के परमवीर !    पिहोवा जल रूप में पूजी जाती हैं सरस्वती !    

सिद्धरमैया, कुमारस्वामी पर राजद्रोह का केस

Posted On November - 30 - 2019

बेंगलुरु, 29 नवंबर (एजेंसी)
पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्रियों सिद्धरमैया और एचडी कुमारस्वामी के साथ ही बेंगलुरु के तत्कालीन पुलिस आयुक्त टी. सुनील कुमार, उनके अधीनस्थ पुलिसकर्मियों तथा कांग्रेस और जद (एस) के कुछ नेताओं के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया है। लोकसभा चुनावों के दौरान की गई आयकर छापेमारी का विरोध करने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। सामाजिक कार्यकर्ता मल्लिकार्जुन की शिकायत पर शहर की एक अदालत ने हाल ही में कमर्शियल स्ट्रीट पुलिस को आपराधिक षड्यंत्र रचने और भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की कोशिश करने सहित भादंसं की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज करने का निर्देश दिया था।
यह मामला कांग्रेस और जद (एस) नेताओं के आवास पर मारे गए आयकर छापे के विरोध में यहां आयकर कार्यालय के पास तत्कालीन मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी समेत अन्य नेताओं द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शनों से संबंधित है।
आरोप है कि कुमारस्वामी ने छापेमारी की जानकारी होने के बाद लोगों को संभावित कार्रवाई की सूचना दी थी। कुमारस्वामी ने 27 मार्च को मीडिया से कहा था कि छापे मारे जा सकते हैं क्योंकि बड़ी संख्या में केंद्रीय सुरक्षा बल केंपेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच चुका है। उनका संदेह अगले ही दिन सही साबित हुआ जब सुरक्षा बल राज्य के विभिन्न हिस्सों में फैल गए। बाद में आयकर कार्यालय में व्यापक प्रदर्शन किया गया। जिन अन्य अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है उनमें तत्कालीन उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर, डीके शिवकुमार, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडुराव, तत्कालीन पुलिस उपायुक्त राहुल कुमार और डी देवराजू के अलावा सभी निर्वाचन अधिकारी भी शामिल हैं।


Comments Off on सिद्धरमैया, कुमारस्वामी पर राजद्रोह का केस
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.