एकदा !    जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग खुला !    वैले पार्किंग से वाहन चोरी होने पर होटल जिम्मेदार !    दिल्ली फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 32 गिरफ्तार !    हाईवे फास्टैग टोल के लिये अधिकारी तैनात होंगे !    अखनूर में आईईडी ब्लास्ट में जवान शहीद !    बीरेंद्र सिंह का राज्यसभा से इस्तीफा !    बदरीनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद !    केटी पेरी, लिपा का शानदार प्रदर्शन !    निर्भया मामला दूसरे जज को भेजने की मांग स्वीकार !    

सरकार पर रार, सीएम का इस्तीफा

Posted On November - 9 - 2019

मुंबई, 8 नवंबर (एजेंसी)
महाराष्ट्र में सरकार गठन मसले पर शिवसेना के तीखे तेवर जारी हैं। इस बीच, देवेंद्र फड़नवीस ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। फड़नवीस (49) से राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने ‘कार्यवाहक मुख्यमंत्री’ बने रहने को कहा है। फड़नवीस ने कहा, ‘वैकल्पिक व्यवस्था कुछ भी हो सकती है, वह नयी सरकार हो सकती है या राष्ट्रपति शासन लगना भी।’ उधर, उद्धव ने कहा कि मुख्यमंत्री पद के लिये शिवसेना को भाजपा की जरूरत नहीं है।
सत्ता साझेदारी पर शिवसेना को जवाब देते हुए फड़नवीस ने कहा, ‘मैं फिर स्पष्ट करना चाहता हूं कि यह कभी तय नहीं किया गया कि मुख्यमंत्री पद साझा किया जाएगा।’ शिवसेना ने दावा किया था कि लोकसभा चुनावों से पहले दोनों गठबंधन सहयोगियों में अगले कार्यकाल में मुख्यमंत्री पद ढाई-ढाई साल के लिये साझा करने की सहमति बनी थी। फड़नवीस ने कहा कि उन्होंने गतिरोध तोड़ने के लिये शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को फोन किया लेकिन ‘उद्धव जी ने मेरा फोन नहीं उठाया।’ उन्होंने कहा कि भाजपा के बजाय विपक्षी कांग्रेस व राकांपा से बात करने की शिवसेना की ‘नीति’ गलत थी। क्योंकि लोगों ने हमारे गठबंधन के लिये जनादेश दिया था।
इस बीच, शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा कि कार्यवाहक मुख्यमंत्री को मीडिया से बातचीत करते देखकर चिंता हो रही है। उन्होंने दावा किया कि अमित शाह की मौजूदगी में सत्ता की समान साझेदारी पर सहमति बनी थी। उन्होंने कहा कि वो खुद को झूठा ठहराए जाने से स्तब्ध हैं।
शिवसेना नेता ने कहा कि मीठी बातों से पार्टी को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। वहीं पार्टी नेता संजय राउत ने कहा कि देवेंद्र फड़नवीस को लगता है कि उनकी पार्टी राज्य में अगली सरकार बना रही है तो उन्हें हमारी ‘शुभकामनाएं’ हैं। उन्होंने कहा, ‘अपनी पार्टी की तरफ से मैं भी कहता हूं कि अगर हम चाहते तो सरकार बना सकते हैं और शिवसेना का मुख्यमंत्री हो सकता है।’
राज्यपाल सबसे बड़ी पार्टी को क्यों नहीं बुला रहे : पवार
इस बीच, राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा कि राज्यपाल सबसे ज्यादा सीट वाले दल को बुला क्यों नहीं रहे हैं। पवार ने कहा कि उन्हें जानकारी नहीं है कि राज्यपाल कोश्यारी भाजपा को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिये आमंत्रित क्यों नहीं कर रहे हैं जो 105 सीटें जीतकर सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी है। केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने शुक्रवार को यहां पवार से मुलाकात की और महाराष्ट्र में सरकार गठन पर जारी गतिरोध को खत्म करने के लिये ‘उनसे सलाह मांगी।’ मुलाकात के बाद पवार ने पत्रकारों से अठावले के जरिये कहा कि भाजपा और शिवसेना को लोगों द्वारा दिये गए ‘स्पष्ट जनादेश’ का सम्मान करना चाहिए। पवार ने कहा कि राष्ट्रपति या राज्यपाल कब तक इंतजार कर सकते हैं, उन्हें कुछ फैसला लेना होगा।


Comments Off on सरकार पर रार, सीएम का इस्तीफा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.