रिश्वत लेने पर सेल्स टैक्स इंस्पेक्टर को 5 वर्ष की कैद !    तहसीलों को तहसीलदार का इंतज़ार !    9 लोगों को प्रापर्टी सील करने के नोटिस जारी !    5.5 फीसदी रह सकती है वृद्धि दर : इंडिया रेटिंग !    लोकतंत्र सूचकांक में 10 पायदान फिसला भारत !    कश्मीर में तीसरे पक्ष की मध्यस्थता मंजूर नहीं !    पॉलिथीन के खिलाफ नगर परिषद सड़क पर !    ई-गवर्नेंस के लिए हरियाणा को मुंबई में मिलेगा गोल्ड !    हवाई अड्डे पर बम लगाने के संदिग्ध का आत्मसमर्पण !    द. अफ्रीका में समलैंगिक शादी से इनकार !    

भारतीय मूल के दो भाइयों ने स्वीकार की ड्रग तस्करी में संलिप्तता

Posted On November - 30 - 2019

लंदन, 29 नवंबर (एजेंसी)
ब्रिटेन में भारतीय मूल के दो भाइयों ने एक आपराधिक गिरोह की गतिविधियों में संलिप्त होने की बात स्वीकार की है, जो नीदरलैंड से चिकन आयात करने वाली नामचीन कंपनियों के जरिये ब्रिटेन में लाखों पाउंड के मादक पदार्थों की अवैध तस्करी में शामिल था। ब्रिटेन की राष्ट्रीय अपराध एजेंसी (एसीए) की जांच के बाद मनजिन्दर सिंह ठक्कर और देवेन्द्र सिंह ठक्कर को गिरफ्तार किया गया। उन्हें अगले साल जनवरी में सजा सुनाई जाएगी।
बर्मिंघम की एक अदालत ने इसी सप्ताह इस मामले में गिरोह के दो सरगनों वसीम हुसैन और नजरत हुसैन को तकरीबन 44 साल की कैद की सजा सुनाई थी। एनसीए के शाखा परिचालन प्रबंधक कोलिन विलियम्स ने कहा, ‘इस मामले की दो से तीन साल तक चली जांच के दौरान हमने व्यवस्थित तरीके से संगठित अपराध का पर्दाफाश किया, जो वेस्ट मिडलैंड्स में ड्रग्स के आयात और वितरण में शामिल था।
उन्होंने बताया कि तीन मौकों पर चिकन ले जा रहे पानी के जहाजों में लगभग 5 मिलियन पाउंड की हेरोइन और कोकीन पकड़ी गई थी। एनसीए ने कहा कि जहाजों की जांच करने वाले अधिकारियों ने इसके बाद इस तरह की 16 गतिविधियों का पता लगाया।


Comments Off on भारतीय मूल के दो भाइयों ने स्वीकार की ड्रग तस्करी में संलिप्तता
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.