एकदा !    जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग खुला !    वैले पार्किंग से वाहन चोरी होने पर होटल जिम्मेदार !    दिल्ली फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 32 गिरफ्तार !    हाईवे फास्टैग टोल के लिये अधिकारी तैनात होंगे !    अखनूर में आईईडी ब्लास्ट में जवान शहीद !    बीरेंद्र सिंह का राज्यसभा से इस्तीफा !    बदरीनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद !    केटी पेरी, लिपा का शानदार प्रदर्शन !    निर्भया मामला दूसरे जज को भेजने की मांग स्वीकार !    

बुलबुल की बढ़ी रफ्तार, कल तक दिखेगा प्रचंड रूप

Posted On November - 9 - 2019

पुरी में शुक्रवार को चक्रवात के खौफ के चलते अपनी नौकाओं को सुरक्षित स्थान पर ले जाते मछुआरे। – प्रेट्र

कोलकाता (एजेंसी) : चक्रवात ‘बुलबुल’ के रविवार तड़के पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के बीच तटों से टकराने का अनुमान है, जिसके चलते तटीय इलाकों में भारी बारिश और 135 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की आशंका जताई गई है। मौसम विभाग ने कहा कि तूफान से राज्य के कच्चे घरों, बिजली तथा संचार सेवाओं और सड़कों को नुकसान हो सकता है। उन्होंने संवेदनशील इलाकों में लोगों को घरों में रहने की सलाह देते हुए आगाह किया इससे पेड़ उखड़ने, फसलें बर्बाद होने और तटबंधों के नष्ट होने की आशंका है। दास के अनुसार कोलकाता में 9 और 10 नवंबर के बीच भारी बारिश और 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का भी अनुमान है। अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार को कोलकाता से 600 किलोमीटर दूर बना गंभीर चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ शनिवार को और तेज होते हुए उत्तर की ओर बढ़ेगा। दास ने कहा,’इसके बाद इसके उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ते हुए 10 नवंबर को तड़के पश्चिम बंगाल के सागर द्वीपसमूह और बांग्लादेश के खेपूपारा के बीच तटों से टकराने की संभावना है।’
ओडिशा के कई हिस्सों में बारिश शुरू
भुवनेश्वर (एजेंसी) : बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवात ‘‘बुलबुल” और ताकतवर होकर एक भयंकर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है, जिससे ओडिशा के तटवर्ती इलाकों और उसके आसपास के कई हिस्सों में बारिश शुरू हो गई है। राज्य सरकार ने एहतियाती कदम उठाते हुए किसी भी आकस्मिक घटना से निपटने के लिए प्रशासन को पूरी तरह तैयार रहने के लिए कहा है। भुवनेश्वर मौसम केंद्र के निदेशक एचआर बिश्वास ने शुक्रवार को बताया कि चक्रवात ‘बुलबुल’ के शनिवार तक और तेज होने की आशंका है।


Comments Off on बुलबुल की बढ़ी रफ्तार, कल तक दिखेगा प्रचंड रूप
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.