चैनल चर्चा !    सुकून और सेहत का संगम !    गुमनाम हुए जो गायक !    फ्लैशबैक !    'एवरेज' कहकर रकुल को किया रिजेक्ट! !    बदलते मौसम में त्वचा रोग और सफेद दाग !    सिल्वर स्क्रीन !    तुतलाहट से मुक्ति के घरेलू नुस्खे !    हेलो हाॅलीवुड !    वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    

‘पशुओं को भी प्रभावित करती है तनाव की स्थिति’

Posted On November - 15 - 2019

हिसार, 14 नवंबर (निस)
लुवास में इंडियन सोसायटी फॉर वेटरनरी सर्जरी द्वारा आयोजित करवाए जा रहे 43वें वार्षिक संगोष्टी का शुभारम्भ लुवास के कुलपति डॉ. गुरदियाल सिंह ने किया और अध्यक्षता पशु चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. दिवाकर शर्मा ने की। तीन दिनों तक चलने वाली इस संगोष्ठी में पशुओं में सर्जरी के दौरान होने वाले तनाव (स्ट्रेस) को कम करने के उपाय पर मंथन किया जाएगा। संगोष्ठी में देश विदेश से 400 से अधिक वैज्ञानिक, शिक्षक व छात्र भाग ले रहे हैं।
वीसी डॉ. गुरदियाल सिंह ने कहा कि संगोष्ठी में विमर्श का विषय ‘पशुओं में सर्जरी के दौरान होने वाले तनाव को कम करने के उपाय’ वतर्मान सन्दर्भ में महत्वपूर्ण है। आज के समय में तनाव न केवल मनुष्यों बल्कि जानवरों को भी प्रभावित कर रहा है, जिसकी वजह से जानवरों में बिमारियों से लड़ने की क्षमता, उत्पादन तथा प्रजनन क्षमता पर असर पड़ रहा है। इसलिए यह आवश्यक है कि इस विषय पर वैज्ञानिकों द्वारा विभिन्न उपाय सुझाए जायें ताकि पशुओं तथा पालतू जानवरों में  इस समस्या से कुछ निजात पाई  जा सके।
पशु चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. दिवाकर शर्मा ने पशु शल्य चिकित्सा विभाग द्वारा विगत में किये गए महत्वपूर्ण योगदान पर प्रकाश डालते हुए बताया कि पशु शल्य चिकित्सा विभाग हिसार द्वारा उपलब्धियों में शामिल हैं, पशुओं के लिए प्रथम एक्सरे मशीन की स्थापना, सर्वप्रथम पीएचडी डिग्री तथा पशुओं में संज्ञाहरण ऑपरेशन। इस अवसर संस्था की वेबसाइट व गोष्ठी पर आधारित एक स्मारिका का भी विमोचन किया गया।


Comments Off on ‘पशुओं को भी प्रभावित करती है तनाव की स्थिति’
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.